अंजली पांडेय बनी महिलाओं के सशक्तिकरण के लिए कार्यरत एनजीओ की ब्रांड अम्बेसेडर

1 min


अंजली पांडे

शान्तिस्वरुप त्रिपाठी

औरतों के मासिक धर्म की समस्याओ व स्वच्छता पर स्वनिर्मित व अभिनय से सजी लघु फिल्म ‘‘महिना’’ को मिल रही लोकप्रियता से उत्साहित अंजली पांडे अब औरतों को ‘मासिक धर्म’के दिनांें में स्वच्छता से अवगत कराने के साथ ही ग्रामीण महिलाओ को मुफ्त में सैनेटरी पैड उपलब्ध कराने के मकसद से ‘ग्रीनलैंड द एनजीओ’की ब्रांड अम्बेसडर बन गयी हैं।

अंजली पांडे अपने रास्ते में आने वाले हर उस अवसर को भुनाने में लगी हैं,जिसमें समाज को बदलने की क्षमता हो.फिर चाहे वह उनकी लघु फिल्म ‘महिना’ हो या ‘ग्रीनलैंड’ नामक एनजीओ की ब्रांड अंबेसडर बनना हो.उनका उद्देश्य ग्रामीण क्षेत्रों में सेनेटरी पैड वितरित करके और इसका उपयोग करने के महत्व के बारे में शिक्षित करके समाज में महिलाओं की मदद करना है।

अंजली पांडेय

एनजीओ के साथ जुड़ने के पीछे अंजली का एकमात्र उद्देश्य समाज के सभी वर्गों की मदद करते हुए दुनिया को स्वस्थ करना है. वह समाज के हर तबके को जातिवाद, लैंगिक असमानता, बेरोजगारी और अशिक्षा के निर्मम और दुर्जेय सामाजिक मानदंडों से मुक्त करना चाहती हैं।

अंजली पांडे आगे कहती हैं-‘‘मैं ग्रीनलैंड के साथ जुड़कर सम्मानित महसूस कर रही हूं. हमारी तत्कालिक योजना कोरोना को खत्म करने और स्वास्थ्य देखभाल प्रणाली को बेहतर बनाने और उन्हें व्यक्तिगत स्वच्छता, स्वास्थ्य देखभाल के महत्व आदि के बारे में शिक्षित करने के लिए है।‘‘


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये