बेहद लोकप्रिय, चर्चित युवा, हैंडसम म्यूजिक डायरेक्टर, कंपोजर, सिंगर, लिरिसिस्ट, परफाॅर्मर एक्टर अमाल मलिक से मायापुरी की विस्तृत मुलाकात

1 min


-सुलेना मजुमदार अरोरा

पॉपुलर म्यूजिक डायरेक्टर, कंपोजर, सिंगर, परफॉर्मर, एक्टर, अमाल मलिक ने हाल ही में अपना डेब्यू सिंगल ‘तू मेरा नहीं’ रिलीज किया है। अमाल की ये नई पेशकश, संगीत प्रेमियों, उनके फैंस, (जिन्हें अमालिएन्स के नाम से पुकारा जाता है) का दिल जीत चुके हैं। इस गीत ने रिलीज होने के दो दिनों में ही यूट्यूब पर दस मिलियन व्यूज हासिल किए।

  उनकी इस सफलता तथा करियर को लेकर अमाल ने मायापुरी के साथ अपना एक्सक्लुसिव विचार शेयर किए। पेश है बातचीत के मुख्य अंश।

आपका नया सिंगल ‘तू मेरा नहीं की धमाकेदार सफलता तथा आपके अमालिएन्स के जबरदस्त रेस्पॉन्स के बारे में आप क्या कहना चाहते हैं?

मैं बहुत उत्साह में हूँ। मेरी तीन साल की मेहनत अब रंग लाई है। मैं काफी समय से इस तरह की मेलोडियस गाने की तैयारी में लीन था। मेरे फैन्स और चाहने वाले हमेशा मुझसे सवाल करते रहते थे कि और कितना इंतजार करना पड़ेगा? कब मैं उन्हें कोई बेहतरीन गीत पेश कर रहा हूँ। मैं भी इसपर लगातार मेहनत कर रहा था। इस तरह का गीत तैयार करने का मेरा सपना उस समय से था जब मैं पन्द्रह वर्ष का था, अब जाकर चैदह वर्ष बाद मेरा सपना पूरा हुआ। जिस तरह का गाना मैंने विजुलाइज किया वो एक रिस्क ही था। पेंडमिक के कारण पूरा माहौल ही बदल गया है।  अब मेलोडियस गाने का दौर फिर लौट आया है। मैं शुक्रगुजार हूँ कि मुझे मेरे चाहने वालों का इतना प्यार मिला, इतना ज्यादा ग्लोबल रेस्पॉन्स मिला और ऑफ कोर्स मैं अपने पूरे टीम, मेरे इस गीत के डायरेक्टर  आरिफ खान जी, एक एक टीम मेम्बर का शुक्रिया अदा करता हूँ कि उन सबका मुझे  पूरा सपोर्ट मिला।

 इतने साल जो आपने मेहनत की और अपने विजन को गीत तथा वीडियो का रूप दिया , वो एक्सपीरियंस कैसा रहा?

ये एक ऐसा अनुभव रहा जो मुझे हमेशा याद रहेगा, सच कहूँ तो ये पूरे टीम का एफर्ट है, सबने अपना 2000 परसेंट दिया, चाहे वो हमारा डाइरेक्टर हो, कैमरामैन हो, लिरिसिस्ट हो, एक्टर हो, सबका डेडिकेशन अद्भुत था। जैसा मैंने कल्पना की थी सबने उसे मूर्त रूप दिया। वे सब एक्सपर्ट और ग्रेट फनकार है, मेरे जैसे युवा कलाकार जो पहली बार कैमरा फेस कर रहा हो उनके साथ भी काम किया। लॉक डाउन के कारण इसकी शूटिंग दुबई में भी हुई, सोनी म्यूजिक ने सब कुछ अरेंज किया और इसपर पूरा सर्पोट किया। मैं सबको दिल से बहुत धन्यवाद देता हूँ।

आपने इतने सालों तक अपने इस सिंगल पर मेहनत की, काम किया, जो आपका सपना था तो ये बताइए कि आपने इस कॉन्सेप्ट को क्यों चुना?

क्योंकि ये कॉन्सेप्ट मेरे दिल के करीब रहा है। इस वीडियो में जो मैं हूँ, हकीकत के जीवन में भी मैं बिल्कुल वैसा ही हूँ। मैं बहुत कम उम्र से म्यूजिक के प्रति डेडिकेटेड रहा। जब मैं बीस बाइस साल का था और मेरे जीवन में ढेर सारे दोस्त थे, उनमें से कई मेरे दिल के बहुत करीब थे और मुझसे वे लोग ज्यादा वक्त और अटेंशन की डिमांड भी करते थे, लेकिन मैं अपना ज्यादा वक्त अपने फस्र्ट लव ‘संगीत’ को समर्पित करता था। उन दिनों जब सब युवा दोस्त पार्टी एंजॉय करते थे तब भी मैं पार्टी शार्टी में शामिल नहीं होता था। मेरी प्रायरिटी मेरा संगीत था। इस तरह धीरे-धीरे मेरे दोस्त मुझसे बिछड़ने लगे। मैं चाह कर भी उनके मन के अनुसार नहीं कर पाया था और मुझसे मेरे दोस्त बिछड़ते रहे। इन्हीं भावनाओं को मैंने अपने वीडियो में  पिरोया। मेरा ये सिंगल  दिल के टूटने की बात तो करता है लेकिन साथ में यह भी बताता है कि दिल टूटना, डिप्रेशन का कारण नहीं होना चाहिए। अगर दो दिलों में आपस में अंडरस्टैंडिंग नहीं है, अगर रिश्तो में जहर घुलने लगे, चाहे वह रिश्ता बॉयफ्रेंड, गर्लफ्रेंड का हो, पति-पत्नी का हो, दोस्ती का हो, उनमें  अगर आपसी समझ की कमी हो और दोनों एक दूसरे के लिए बोझ बन रहे हो तो ऐसे रिश्ते को तोड़कर आगे बढ़ जाना ही बेहतर है। मैं ऐसा नहीं कहता कि एक दूसरे के साथ एडजस्ट करने की कोशिश नहीं करनी चाहिए या रिश्ते को बचाने की कोशिश नहीं करनी चाहिए बल्कि मैं तो कहता हूं कि कोशिश करनी चाहिए, एक दूसरे को मनाना चाहिए। इस सिंगल में भी मैंने यही कहा कि ष्जब मैं दूर जाने लगा, तब तुमने एक बार भी रोका नहींष्। तो इस तरह मैंने अपने अनुभवों को पिरोया है, साथ ही यह भी बताया कि रिश्ते टूटने से दुनिया खत्म नहीं हो जाती है। उस दर्द को हील करके आगे बढ़ते रहना चाहिए। मेरा यह वीडियो पॉजिटिव मैसेज दे रहा है और मेरे प्रशंसकों को यही बात पसंद आ रही है।

 तो आपके फैन्स को जो ये लगता है कि ये वीडियो सिंगल आपके, अपने जीवन की कहानी कह रही है तो उनका ऐसा सोचना सही है?

मैं अपने प्रत्येक गीत को अपने जीवन के अनुभवों से प्रेरणा लेकर बनाता हूँ, हर रिश्ते के अनुभव को अपने गीतों में पिरोता हूँ, चाहे वो मेरे पैरेंट्स के साथ का मेरा रिश्ता हो, भाई के साथ मेरा रिश्ता हो, या दोस्तों के साथ। मैं अपनी नॉर्मल लाइफ के इन्ही भावनाओं को लेकर चलता हूँ और मेरे फैन्स इसी वजह से मेरे साथ अपने आप को जोड़ पातें हैं। उन्हें अपनी कहानी और मेरी कहानी में समानता नजर आती है। खैर, अब मैंने अपने फैन्स को कह दिया है कि अब तीन चार महीने तक मैं कोई नया म्यूजिक वीडियो शूट करने वाला नहीं हूं, आप लोग मेरी इसी म्यूजिक वीडियो को तीन चार महीने तक देखते रहिए। अब मैं कुछ समय म्यूजिक वीडियोज से ब्रेक लेकर अपनी आने वाली बायोपिक फिल्म ‘साइना नेहवाल’ पर पूरी तरह कॉन्सन्ट्रेट और फोकस करना चाहता हूँ। अमोल गुप्ते जी ने वाकई ये बायोपिक फिल्म इतनी अच्छी बनाई है और उन्होंने मुझसे उस फिल्म के लिए इतना बढ़िया म्यूजिक कम्पोज करवाया कि मुझे ऐसा लग रहा है कि मैंने अब तक जितने भी म्यूजिक कम्पोज किए हैं उनमें ये सब से ज्यादा खूबसूरत और प्योर है। इसमें मेरे म्यूजिक  कम्पोजिशन की मैच्योरिटी दिखेगी। मेरे फैंस को ये जानकर खुशी होगी कि ‘साइना- – -’ में पहली बार मैंने बैकग्राउंड स्कोर भी दिया है, गानों के साथ। परिणीति चोपड़ा ने इसमें बहुत बढ़िया काम किया है। अब तक मैं अपने म्यूजिक वीडियोज में व्यस्त रहा जिस कारण सोलह सत्रह फिल्में छोड़ चुका हूँ लेकिन अब इस ओर फोकस करना चाहता हूँ। हालाँकि मैंने अपने अगले म्यूजिक वीडियो की लगभग पूरी योजना तैयार कर ली है, फिल्मों में म्यूजिक कम्पोज करने के साथ साथ , चार महीने बाद इसपर भी काम शुरू करूँगा।

 आपने अपने म्यूजिक वीडियो में अभिनय भी किया है, तो बतौर एक्टर आपका अनुभव कैसा रहा और क्या आप एक्टिंग करिअर के बारे में भी सोच रहें हैं?

मैंने अपने वीडियो में एक्टिंग तो की लेकिन अनुभव काफी तकलीफदेह रहा। कैसे कैसे क्लाइमेट, कंडिशन्स में काम करना पड़ा, तेज धूप में शूटिंग  करने की वजह से सन बर्न्स भी हो गए। मुझ में अभिनय के लिए इतना पेशेंस नहीं है। कभी कभार एक्टिंग किया अपने म्यूजिक वीडियो में तो वह अलग बात है लेकिन एक्टिंग को कैरियर के रूप में मैं शायद कभी नहीं ले सकता। मुझ में म्यूजिक के प्रति जो पैशन और जो धीरज है वह एक्टिंग के लिए नहीं है। म्यूजिक ही मेरी जिंदगी है, उसके लिए मैं हर तरह का मेहनत कर सकता हूँ।

 लॉक डाउन के महीनों को बहुत से लोगों ने अच्छे और बुरे तरीके से झेला, आपके लिए लॉक डाउन का समय कैसा रहा?

मेरे लिए लॉक डाउन का समय बहुत प्रोडक्टिव रहा। मुझे जो बहुत समय से फुर्सत के पल अपने लिए नहीं मिल पा रहे थे, वो मुझे इन दिनों मिल गए। अपने परिवार के साथ क्वालिटी टाइम बिताने का समय मिला, अपने आप को टटोलने का समय मिला, मुझे आगे क्या करना है, अपने काम, अपने म्यूजिक को लेकर चिंतन करने का वक्त मिला। मैंने उन्ही दिनों पच्चीस सॉन्ग्स कम्पोज भी किए, और अपना एक सॉंग बैंक बनाया। मुझे लगता है हर कलाकार को अपने काम और सोच के अवलोकन के लिए ब्रेक मिलना चाहिए जो मुझे लॉक डाउन के दिनों में मिल गया वरना तो इतना बिजी शेड्यूल पर हम काम कर रहे थे कि क्या बताऊँ? पिछले पाँच सालों में मैंने अस्सी सॉंग्स दिए जो ज्यादातर किसी के लिए  पॉसिबल नहीं होता। इतना काम किया कि 2018 में हेल्थ पर बन आई थी। हमारी मेहनत और हम पर ऊपर वाले तथा बड़ों की ब्लेसिंग्स के कारण मेरे भाई अरमान और मुझे वो पॉपुलैरिटी और सबका प्यार, सम्मान पांच सालों में ही हासिल हो गया जो लोगों को बीस सालों में मिलता है। मेरा भाई अरमान मलिक, आज के समय में सबसे चर्चित, युवा, मोस्ट पॉपुलर ग्लोबल पॉप स्टार है। ये हमारे लिए ब्लेसिंग्स नहीं तो और क्या है?

 आज के समय में सोशल मीडिया का वर्चस्व बढ़ता जा रहा है, ज्यादार कलाकार सोशल मीडिया प्लैटफॉर्म से जुड़े हुए हैं और वहाँ से मिलने वाली एप्रिसिएशन को बहुत महत्व दिया जाता है, आपके लिए ये कितना इम्पोर्टेन्ट है?

सोशल मीडिया इम्पोर्टेन्ट तो है लेकिन मेरे लिए इसका महत्व एक हद से ज्यादा नहीं है। मैं मानता हूँ कि उन प्लैटफॉर्म्स से मिलने वाला प्यार, फैन फॉलोइंग, लाइक्स, नम्बर्स हमें आनन्द देतें हैं, हमें बूस्ट अप करतें हैं लेकिन सच कहूँ तो इस तरह की गिनती काफी बेकार और मुद्दे से हटाने वाली होती है।लेकिन मैं इन बातों से प्रभावित नहीं होता हूँ। मेरे लिए सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण है कि मैं बेहतरीन से बेहतरीन म्यूजिक बनाऊँ और अपनी कला और पैशन को लगातार तराशता रहूँ। मेरे पास ना वो समय है ना चाह है कि मैं सोशल मीडिया में अपना समय जाया करूँ। मेरे लिए ये मायने नहीं रखता कि मेरे वीडियो को कितने लाइक्स, फॉलोअर्स या नम्बर्स मिले हैं, हालांकि मेरे रीसेंट म्यूजिक वीडियो को रातों रात करोड़ों लाइक्स, नम्बर्स मिले हैं और वो संख्या बढ़ती जा रही है लेकिन सिर्फ नम्बर्स की गिनती से किसी गीत का मूल्यांकन नहीं होता है, बल्कि उसकी गुणवत्ता से होता है, मेरा म्यूजिक, करोड़ो दिलों पर राज करे, करोड़ो दिलों को छू जाए बस मुझे यही चाहिए, जो मुझे मिल रहा  है, मेरा वो बेहतरीन सॉन्ग ‘सूरज डूबा’ तीस मिलियन पर ही है फिर भी वो सबसे पॉपुलर है। मैं चाहता हूँ कि लोग मुझे मेरे हुनर, मेरे काम , मेरी कला और खूबसूरत मेलोडियस म्यूजिक के लिए प्यार करे और मुझे पहचाने, सोशल मीडिया में मेरे स्टाइलिश फोटोज के लिए नहीं। हालांकि ये सच है कि बिजनेस पॉइंट ऑफ व्यू में इससे वैल्यू ऐड हो सकता है, मैं चाहता हूँ कि मेरे काम की वजह से मुझे सन्तोष मिले और मेरे लेबल्स को भी बिज्नेस पॉइंट ऑफ व्यू से फायदा हो। बिज्नेस और आर्ट दोनों का बैलेंस बना रहे। कलाकार के लिए नम्बर्स मायने नहीं रखता।

 सोशल मीडिया में आजकल ट्रोलिंग का जो चलन है उसके बारे में आप क्या सोचते हैं?

कुछ लोग बस बिना सोचे समझे ट्रोलिंग में लगे रहते है, उनसे मुझे नफरत है। जिनके पास कुछ काम धंधा नहीं है वही लोग बेवजह ट्रोलिंग करते है। अगर मेरे काम से किसी को कोई शिकायत है, कोई मेरे काम को बुरा कहता है तो चलो कोई बात नहीं, लेकिन बेकार में अगर कोई मेरे परिवार को या मेरे फैन्स को ट्रोल कर रहें हैं, मेरे फीमेल फैन्स को या छोटे छोटे बच्चे जो मेरे फैन है, उन्हें धमकी देते हो क्योंकि वे मेरे फैन है, उन्हें डराते है कि अमाल का फैन मत बनो वरना तुम्हारा ये कर दूंगा, वो कर दूँगा, तो ऐसे ट्रोलर्स को मैं उन्ही की भाषा में अच्छा खासा जवाब देता हूँ। मेरे सारे फैन्स, चाहे वह मेल हो फीमेल हो, बच्चे हो, मेरे  लिए वो मेरा परिवार है। अगर मेरे परिवार की तरफ कोई उंगली उठाएगा तो मैं बिल्कुल सहन नहीं करूंगा। यह हो सकता है कि मैं उन्हें जिस तरह से जवाब देता हूं वह तरीका गलत हो, शायद मैं कभी अपने तरीकों को बदलूँ, लेकिन जवाब तो मैं जरूर दूंगा। मैं सच के साथ हमेशा खड़ा रहूँगा और गलत के खिलाफ सख्ती से लड़ता रहूँगा।

 आप हमारी पत्रिका मायापुरी के बारे में क्या कहेंगे?

ओह, मैं बता नहीं सकता कि आज मायापुरी के लिए इंटरव्यू देकर मैं कितना खुश हूँ। ये मेरे लिए एक ऑनर, सम्मान की बात है कि मायापुरी में मेरा इंटरव्यू प्रकाशित होगा और जब मैं मेरे पैरेंट्स को बताऊँगा कि मायापुरी के लिए मैंने इंटरव्यू दिया है तो उन्हें बहुत खुशी होगी। मायापुरी एक लीजेंडरी, लीजेंडरी और लीजेंडरी फिल्म पत्रिका है जो मेरे पैरेंट्स के जमाने से एक सुपरहिट, सुपरस्टार और बेहद रेस्पेक्टेड पत्रिका है। मायापुरी में किसी कलाकार का इंटरव्यू छपना उसके लिए पहले जमाने में भी एक बड़ी बात थी और आज भी बड़ी बात है। फिल्म इंडस्ट्री से जिसको प्यार है वो मायापुरी के बिना नहीं रह सकता। आजकल तो ऑनलाइन मायापुरी, मायापुरी कट, हिंदी मायापुरी, इंग्लिश मायापुरी सब के सब खूब चर्चित है।


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये