विश्व हृदय दिवस: अपने अपने हृदय/दिल को स्वस्थ रखने के लिए क्या करते हैं टीवी के सितारे

1 min


विष्व हृदय दिवस

दिल हमारे शरीर का सबसे महत्वपूर्ण अंग है।लेकिन क्या हम सभी अपनी तरफ से इसकी उतनी देखभाल करते हैं,जितनी करनी चाहिए?मगर पूरे विश्व में लोग अपने हृदय की देखभाल नहीं करते हैं। परिणामतः हर वर्ष हार्ट अटैक यानी कि दिल की बीमारी से पूरे विश्व में लाखों लोग मौत के मुॅह में समा जाते हैं।हर इंसान को उसके दिल/ हृदय के प्रति जागरूक करने के लिए 29 सितंबर को ‘‘विष्व हृदय दिवस’’ मनाया जाता है।इसी संदर्भ में हमने टीवी जगत की कुछ हस्तियों से बात की।आइए देखें,क्या कहते हैं यह टीवी सितारे..यह टीवी सितारे अपने दिल/हृदय का ख्याल कैसे रखते हैंः

जस्मीन भसीनः हम अच्छी तरह से समझते है कि दिल हमारे शरीर का सबसे महत्वपूर्ण अंग है।हमें अपने स्वस्थ दिल के कोलेस्ट्रॉल को सही रखने के लिए हमेशा सही भोजन करने पर ध्यान देना चाहिए। इसके लिए मैं अच्छा वसा,स्वस्थ वसा,ओमेगा खाती हूं,ताकि मेरा अच्छा कोलेस्ट्रॉल हमेशा उच्च रहे और मेरा खराब कोलेस्ट्रॉल हमेशा कम रहे।अपने दिल को खुश रखने के लिए मैं जो कुछ भी महसूस करती हूं,उसे खाती हूं और उन चीजों को करती हूं जो मुझे खुश करती हैं। बस अपने दिल को स्वस्थ रखना ही काफी नहीं है, आपको इसे खुश रखने की भी जरूरत है।’’

Jasmin

ध्रुवी हल्दांकरः हम हमेशा खुश व स्वस्थ रहते हैं और आप अपने आप स्वस्थ दिल रखते हैं।बार-बार व्यायाम करें।कम सोडियम वाला आहार लें और अपने दिल को प्यार करने और उसकी गर्माहट को फैलाने के लिए उपयोग करना सीखें।

DHRUVEE HALDANKAR

खुशबू कमलः एक अभिनेत्री होने के नाते मुझे खुद को फिट और स्वस्थ रखने के लिए आहार और व्यायाम का पालन करना पड़ता है। लेकिन साथ ही साथ हमें अपने दिल की अतिरिक्त देखभाल करनी होती है।क्योंकि अगर हमने अपने दिल का ख्याल नही रखा,तो यह अंग आपके जीवन को रोक देता है। हमें अपने खाद्य पदार्थों को पकाने के लिए एक ऐसा तेल उपयोग करना चाहिए,जिसमें कोलेस्ट्रॉल को सही रखने के गुण हो।इसके अलावा हर दिन वाकिंग/दौड़ना चाहिए,इससे हम अपने दिल के पंपों को तेजी से चलाते हैं,यह एक प्रकार का व्यायाम भी है। तैलीय भोजन खाने से बचें। हमें अपना दिल नहीं लेना चाहिए क्योंकि अगर हम इसे हासिल कर लेते हैं, तो यह हमारी जिंदगी को हासिल कर लेगा। इसलिए अगर आप लंबा और स्वस्थ जीवन जीना चाहते हैं, तो कृपया अपने दिल का ख्याल रखें।

खुशबू कमल

डेलनाज ईरानीः मेरा मोटापा काफी बढ़ गया है।इसलिए मैं रोजाना टहलने का नियम बना रखा है।समय मिलने पर मैं जुम्बा क्लास या डांस क्लास भी जाती हूं। कार्डियो एक्सरसाइज भी बहुत महत्वपूर्ण है,जिससे आप अपने दिल को पंप करते हैं।जब आप टहलकर या अन्य व्यायाम करते हैं,तो कैलरी जलाते हैं,जिससे दिल को स्वस्थ रखने में मदद मिलती है।मैं हर दिन चलती हूं,क्योंकि मेरे पिताजी को हृदय की समस्याएं थीं, इसलिए हम सभी को सावधान रहने के लिए कहा जाता है और हम अपनी सावधानी बरतते हैं।जैसे तैलीय चीजें नहीं खाना, एक बार में यह ठीक है, लेकिन हमेशा नहीं। मुझे घर का बना खाना पसंद है। लोग दिल की उपेक्षा करते हैं और शरीर के अन्य अंगों पर अधिक ध्यान केंद्रित करते हैं, यह सही नहीं है। मैं व्यायाम करके और किसी भी अतिरिक्त वसा का सेवन न करके अपना सा काम करता हूं।

Delnaaz Irani

सावी ठाकुरः मैं अपने आहार को लेकर सदैव सचेत रहता हॅू। मैं हमेशा स्वस्थ खाता हूं। और कभी भी मेरे वर्कआउट को नजरंदाज नहीं करता। लेकिन जैसा कि आप भी जानते हैं कि यदि आपका आहार साफ नहीं है तो आपको कसरत में मदद नहीं मिलेगी। हमारा दिल हमारे शरीर का सबसे महत्वपूर्ण अंग है,इसलिए हम सभी को दौड़ना, योगा, वेट लिफ्टिंग, स्किपिंग जैसे व्यायाम करने चाहिए और हमेशा स्वस्थ संतुलित आहार जैसे ओट्स, ब्राउन राइस, ब्राउन ब्रेड, अंडे, चिकन, दूध, नट्स आदि का सेवन करना चाहिए।

Savi Thakur

भावेश कुमारः मैं सिर्फ अपने दिल/हृदय का ही नहीं,बल्कि अपने पूरे शरीर और आत्मा का भी ख्याल रखता हूं। एक खेल-उन्मुख परिवार से आने की वजह से हमें बचपन से ही मुझे प्रशिक्षित किया गया है और अपना ध्यान रखने के लिए मार्गदर्शन किया जाता है। जब मैं शूटिंग नहीं कर रहा होता हूं, तो फिट रहने के लिए मेरे पास कई कक्षाएं और कसरत आहार हैं। मैं अपनी सेहत के लिए ताइक्वांडो और योगा क्लास भी लेती हूं। हरियाणा से आने वाले सभी लोग माखन, मक्खन और दूध आदि के शौकीन हैं, लेकिन मैं खुद को उससे नियंत्रित करता हूं।

Bhavesh Kumar

विजयेंद्र कुमेरियाः मैं आमतौर पर स्वस्थ भोजन खाता हूं और तैलीय जंक फूड से बचता हूं। ढेर सारी हरी सब्जी/साग खाना आपके दिल के लिए अच्छा है। मैं खुद व्यायाम काुी करता हॅॅॅू।लगभग हर दिन कुछ कार्डियो करता हूं। बेशक दिल आपका महत्वपूर्ण अंग है,लेकिन बहुत से लोग इसकी भलाई को अनदेखा करते हैं। बस उन्हें अपने खान-पान का ध्यान रखना होगा और कार्डियो एक्सरसाइज करनी होगी और मुझे लगता है कि यह बहुत मुश्किल काम नहीं है।

Vijayendra Kumeria

सानंद वर्माः मैं अपने स्वास्थ्य और अपने दिल का ख्याल रखने के बारे में बहुत सचेत हूं, इसलिए मैं हमेशा अपनी कार को उस जगह से आधा किलोमीटर दूर पार्क करता हूं, जहां मैं जा रहा हूं और गंतव्य तक पैदल चलूंगा। हालांकि मैं अपने व्यस्त कार्यक्रम के कारण नियमित नहीं हूं, मैं हमेशा कुछ कार्डियो करने की कोशिश करता हूं। खुश रहो कि मैं क्या महसूस करता हूं क्योंकि अगर मैं खुश हूं तो मेरा दिल भी खुश है, इसलिए खुश रहो। कुछ स्किपिंग, जॉगिंग करें, कोई शारीरिक गतिविधि करें। वीडियो गेम खेलने के बजाय, आपको कबड्डी, क्रिकेट, या ऐसी कोई भी चीज खेलनी चाहिए जिसमें आपके दिल की धड़कन बढ़ जाए। मैं हमेशा लिफ्ट से बचता हूं और आकार और स्वस्थ रहने के लिए सीढ़ी का उपयोग करता हूं।

Saanand Verma

शिल्पा रायजादाः दिल का ख्याल रखना बहुत जरूरी है। मैं किसी भी नकारात्मक ऊर्जा से बचने की कोशिश करती हूं और खुश रहने की कोशिश करती हूं। मैं हेल्दी खाना खाता हूं, ऑयली खाना मेरे लिए बहुत बड़ी बात है और मैं रोजाना योग करता हूं।

Shilpa Raizada

अनीशा मधोकः मैं प्यार से अपने दिल का ख्याल रखती हूं। अन्यथा जीवन कठिन हो सकता है। लेकिन मैं अपने शरीर को तनाव नहीं देती या नाराज नहीं होती। मुझे गुस्सा करने पर विश्वास नहीं है। क्रोधित होना सबसे बुरा काम है, जो शरीर को ही जलाता है।मेरा मानना है कि जीवन में प्यार सभी समस्याओं का जवाब है। 28 सितंबर को एक यहूदी अवकाश था,जिसे योम किप्पुर कहा जाता था और मैंने उपवास किया। इस यात्रा ने मुझे कृतज्ञता की स्थिति में ला दिया, जहाँ मैंने इस बात पर विचार किया कि मैं कैसे एक बेहतर व्यक्ति हो सकती हूँ और अन्य लोगों और भोजन के बिना अपने भीतर सामग्री। जब हम खुद से सच्चा प्यार करना सीखते हैं, तभी हम दूसरे लोगों से सच्चा प्यार करना सीख सकते हैं। ज्यादातर लोग दूसरे लोगों से जुड़ जाते हैं और ब्रेक-अप जैसी साधारण चीजें उनके दिल को रो देती हैं। आप मानकर चले कि ब्रेअप यानी कि इस तरह का कोई भी संबंध विच्छेद अथवा अस्वीकृति आपके दिल को नहीं तोड़ सकती। क्योंकि आपके लिए आपका प्यार अपार है और हर दूसरा प्यार केवल शीर्ष पर एक चेरी है। संज्ञानात्मक दायरे से अलग मैं योग और नृत्य करके अपने शरीर का ख्याल रखती हूं। जब मैं डांस करती हूं,तो मेरा दिल सबसे ज्यादा खुश होता है।जहां तक आहार का संबंध है, मैं सहज ज्ञान युक्त भोजन में विश्वास करती हूं। मुझे बहुत सारे चावल के साथ फल और फारसी खाना पसंद है। तो कुल मिलाकर बहुत सारा पानी,प्यार, भोजन, नृत्य, और आलिंगन।

Aneesha Madhok

सृष्टि जैनः मेरा मानना है कि आज के समय में मानसिक रूप से स्वस्थ होना भी एक बहुत बड़ी आवश्यकता है। सब कुछ सही चल रहा है। मैं शारीरिक फिटनेस के साथ-साथ यह भी सुनिश्चित करती हूं कि मैं ध्यान करूं और खुद को सकारात्मक और नकारात्मक विचारों से मुक्त रख सकूं,ताकि मुझे स्वस्थ दिल मिले। इस संबंध में मैं काफी ‘जैन‘ हूं, मैं आमतौर पर शाम 7 बजे के बाद कुछ भी नहीं खाती।बिस्तर पर जाने से तीन घंटे पहले भोजन करना स्वस्थ रहने के लिए अत्यावष्यक माना जाता है। मुझे लगता है कि हम सभी अपने शरीर और दिल को मान लेते हैं,लेकिन मैंने महसूस किया है कि आपके स्वास्थ्य में निवेश आज एक स्वस्थ कल सुनिश्चित करता है।

Srishti Jain

विकास सेठीः 29 सितंबर को विश्व हृदय दिवस हममें से प्रत्येक को अपने दिलों की देखभाल करने के लिए एक कोमल अनुस्मारक है। शारीरिक व्यायाम और साथ ही भावनात्मक रूप से अच्छी तरह से, हमारे दिलों की देखभाल करना महत्वपूर्ण है। अपने निकट और प्रिय प्रियजनों के समर्थन की तलाश करना ठीक है। मैं कोशिश करता हूं और कठिनाइयों के माध्यम से सकारात्मक रहता हूं।

Vikas Sethi

झानवी सेठीः 29 सितंबर को विश्व हृदय दिवस हमारे लिए स्वास्थ्य पर ध्यान केंद्रित करने का एक महत्वपूर्ण दिन है।‘‘माई जिंदगी फाउंडेषन’’के सह-संस्थापक के रूप में मुझे लगता है कि हमारे लिए यह एक महत्वपूर्ण दिन है कि हम अपने मानसिक स्वास्थ्य के साथ-साथ अपने दिल की शारीरिक सेहत का भी ध्यान रखें। परामर्श सहायता लेना ठीक है। अपने स्वास्थ्य और दिल के लिए मत लेना। सकारात्मक बने रहें!

Jhanvi Sethi

शिवानी गोसाईंः मैं पूरी कोशिश करती हूं कि अतिरिक्त अवांछित या महत्वहीन तनाव न लूं। मैं किसी भी आहार का सेवन नहीं करती हूं। मैं सिर्फ घर का बना स्वस्थ भोजन पसंद करती हूं, जो मुझे और मेरी प्रतिरक्षा को मजबूत रखता है। मैं पूरे दिन घर के कामों को करने के लिए खुद को सक्रिय रखती हूं, अपने पालतू जानवरों के साथ खेलकर खुद को परेशान करती हूं, अपनी बहन के बच्चों के साथ खेलती हूं और सप्ताह में तीन बार योग ध् व्यायाम करने की कोशिश करती हूं। हम सभी जानते हैं कि एक स्वस्थ मन और शरीर हमारे दिल को स्वस्थ रखेगा लेकिन फिर भी, हम सभी इसे ग्रहण करते हैं।

Shivani Gossain

राजेश कुमारः मैने योगा में एक क्रिया सीखा है,जिसमें बताा गया है कि हृदय को स्वस्थ रखने के लिए किस तरह से सांस लेना चाहिए। सद्गुरु (ईशा फाउंडेशन) द्वारा सिखाई गई यह शक्ति चलन क्रिया है, जो हृदय को सही रखने में बहुत मदद करती है। नियमित व्यायाम के अलावा मैं पास तैलीय भोजन भी कम लेता हॅूं।इसके अलावा खुश रहना सबसे अच्छा तरीका है।

Rajesh Kumar

प्रणिता पंडितः स्वस्थ दिल के लिए मैं अच्छा, स्वस्थ भोजन खाने की कोशिश करती हूं। मैं अपने भोजन में बहुत सारी हरी सब्जियाँ शामिल करती हूँ ।तले हुए स्नैक्स खाने की बजाय फल खाने में यकी करती हॅूं।मैं अपने खाने में कम तेल पसंद करती हूं। सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि मैं नियमित व्यायाम करती हूं। यहां तक कि जब मैं ठीक नहीं होती हूं तो मैं यह सुनिश्चित करती हूं कि मैं कम से कम आधे घंटे तक चलूं। और मुझे लगता है कि यह मुझे और मेरे दिल को खुश रखता है।

Pranitaa Pandit

रोहित चैधरीः हम अपने दिल की सेहत को हल्के में नहीं ले सकते। यह हमारे शरीर को कार्य करने में मदद करता है। यह एक इंजन की तरह है,इसलिए यदि यह स्वस्थ नहीं है तो अन्य अंग कैसे बचेंगे। मैं इस संदेश को विश्व स्तर पर फैलाना चाहता हूं कि हृदय रोगों के कारण बहुत सारी मौतें होती हैं और आपकी जीवनशैली में थोड़े से बदलाव ही इसे स्वस्थ रख सकते हैं। आपको कम वसायुक्त भोजन और उन खाद्य पदार्थों को खाने की कोशिश करनी चाहिए जो आपके कोलेस्ट्रॉल के स्तर को बढ़ा सकते हैं। शराब, जंक फूड, तैलीय भोजन से बचें। यह सब आपके हाथों में है, और स्वस्थ भोजन और वर्कआउट इसे लंबे समय तक स्वस्थ रख सकता है। जरूरी नहीं कि आपको वर्क आउट के लिए जिम की जरूरत हो, आप आसानी से योगा या जॉगिंग कर सकते हैं। एक अनुशासित जीवन का परिणाम आपके शरीर की आंतरिक और बाहरी दोनों फिटनेस में होगा। कृपया स्वस्थ दिल के लिए स्वस्थ जीवन शैली अपनाएं।

Rohit Chaudhary

आशीष मेहरोत्राः अपने जीवन के शुरुआती हिस्से में मैंने किसी अंग के संदर्भ में अपने दिल को कोई महत्व नहीं दिया या कि यह स्वस्थ होना चाहिए।लेकिन पांच-छह साल पहले मैंने महसूस किया कि आपको इसे स्वस्थ रखने के लिए सब कुछ करना चाहिए। मैं कुछ साँस लेने के व्यायाम करता हूं और एक खास तरह के आहार का सेवन करता हूं। मैं अपने कोलेस्ट्रॉल के स्तर को नियंत्रित रखने की कोशिश करता हूं ताकि यह किसी भी तरह से मेरे दिल को प्रभावित न करे। यदि आपका दिल स्वस्थ नहीं है, तो आप हर समय थकावट महसूस करेंगे, और आप कई बीमारियों का खतरा भी बढ़ा सकते हैं। इसलिए इसे स्वस्थ और खुश रखना बहुत जरूरी है। अच्छा सोचना, सकारात्मक विचार भी दिल को अच्छे तरीके से प्रभावित करते हैं। इसलिए मैं इसे न केवल स्वस्थ रखना चाहता हूं, बल्कि खुश भी हूं।

Aashish Mehrotra


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये