शबाना आजमी व्यस्त हुई

1 min


Shabana Azmi

 

मायापुरी अकं 4,1974

पिछले दिनों शबाना आजमी ने एक के बाद एक ढेर सारे कांट्रेक्ट साइन किए (यह शबाना की योग्यता की कम, हीरोइनों के अकाल की अधिक निशानी है !) बस शबाना का दिमाग सफलता के गर्व में थोड़ा-थोड़ा संतुलन से परे हट गया। उसने रेखा के पद चिन्हों पर चलना आरंभ कर दिया है, आजकल डगमगाती दिखती है। ऐसे अवसरों पर उसे सभांलने के लिए शेखर उसी तरह साथ रहता है जैसे परवीन को संभालने के लिए डैनी उसके आसपास ही रहता है शबाना बेबी इंडस्ट्री को अभी ‘एक-और-रेखा’ की जरूरत नही है !


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये