सफलता का समाजीकरण से दूर दूर तक कोई संबंध नहीं है

1 min


विवियान डसेना

-शांति स्वरुपत्रिपाठी

इन दिनों ‘‘कलर्स’’ चैनल पर पुनः प्रसारित हो रहे सीरियल ‘‘मधुबालाः एक इश्क एक जुनून’ ’में नजर रहे अभिनेता विवियान डसेना अब तक कई सीरियलों में अपने अभिनय का जलवा दिखा चुके हैं। एक वर्ष पहले वह सीरियल ‘‘शक्तिः अस्तित्व के अहसास की’’ में नजर आए थे। उसके बाद वह किसी नए सीरियल में नजर नही आए। जबकि बहुमुखी प्रतिभा के धनी अभिनेता विवियान डसेना सिर्फ भारत ही नहीं बल्कि विदेषी टीवी चैनलों पर कई टीवी सीरियलों में अभिनय कर हर घर में अपनी एक अलग पहचान बनाने में कामयाब रहे है।

विवियान डसेना

उन्होने अपनी अभिनय क्षमता के बल पर सीधे अपने प्रशंसकों के दिलों में अपनी जगह बनायी है। यह हालत तब है, जब वह दूसरे कलाकारों की भांति बेवजह अधिकाधिक काम पाने की लालसा में पार्टियों में जाना या सोषल नेटवर्किंग करने में यकीन नही करते। वह बहुत ही ज्यादालो प्रोफाइललेकर चलते हैं। विवियन ऐसे अभिनेता हैं, जो कि हर कलाकार की इस सलाह को सदैव अनसुना करते आए हैं कि बेहतरीन सीरियलों मे काम पाने के लिएपार्टी की जरूरत है

 खुद विवियन डसेना कहते हैं– ‘‘मेरी राय में आज तक कोई भी पार्टी या सामाजिक संबंधों के आधार पर सफल नही हुआ है.मैं स्वयं तमाम ऐसे लोगों को जानता हूं,जो बेहद सामाजिक होने के साथ ही हर पार्टी का हिस्सा बनते रहते हैं, मगर उन्हें तो कोई ढंग का काम मिला  और ही वह सफल हैं। अखबारों में अगले दिन छपने वाली पार्टी की तस्वीर में नजर जाने से कभी किसी का भला नहीं हुआ। सफलता का समाजीकरण से दूर दूर तक कोई संबंध नहीं है।’’

 टीवी इंडस्ट्री मेंवैरागीअभिमानीके रूप में पहचान रखने वाले अभिनेता को अपने सहकर्मियों द्वारा इस तरह के नाम रखे जाने से कोई एतराज नही है। वह कहते हैं– ‘‘मुझसे प्यार करने का यह उनका अपना तरीका है और मुझे इस तरह से प्यार करना पसंद है। लोग मुझे अपने साथ जोड़ना चाहते हैं। एक समय था, जब इन्ही लोगों ने मुझसे सामाजिक होने का अनुरोध किया था। लेकिन यह मेरे मन को नही भाया। मैं सौदेबाजी में खुद को खो रहा था।

विवियान डसेना

मगर मैं लोगों के लिए या सामाजिक मानदंडों के लिए खुद को नहीं खो सकता.हर इंसान का अपना स्वभाव होता है। हर इंसान की अपनी पसंद नापसंद होती है और उसकी अपनी कार्यषैली होती है। मेरी राय में हमें हर इंसान की पसंद नापसंद तथा उसके स्वभाव का सम्मान करना चाहिए। हम क्यों अपने स्वभाव के अनुकूल दूसरों को बदलने के लिए मजबूर करें। मैं तो किसी को भी बदलने में यकीन ही नही करता। बहरहाल, मैं किसी के लिए भी अपने आपको नही बदलता। ’’

 ऐसे में आपके आस पास जिस तरह की अवधारणाएं पनप रही होती हैं, उससे आप परेषान नहीं होते? इस सवाल के जवाब में विवियान कहते हैं-‘‘हम सभी एक लोकतांत्रिक देश में रहते हैं। हर किसी को अपनी राय,अपने विचार व्यक्त करने का अधिकार है। दूसरे मेेरे बारे में क्या राय रखते हैं,उस पर मैं प्रतिक्रिया देना आवष्यक नहीं समझता.मेरी राय में जो मुझे वास्तव में जानते समझते हैं,वह मेरे बारे में किसी भी तरह की कोई अवधारणा नहीं बनाएंगें.यदि मैं किसी के लिए महत्व नहीं रखता,कोई बात नहीं,वह मुझे भूल जाएं.उनके पास मुझे नजरंदाज करने का पूरा हक है.

 एक वर्ष से किसी सीरियल में नजर आने की चर्चा चलने पर विवियान कहते हैं-‘‘मैं तो हमेशा से ऐसा ही रहा हूं और मुझे अपने स्थान पर रहना पसंद है.मैं इससे पहले भी कई बार उत्कृष्ट कहानी किरदार के इंतजार में लंबे समय तक ब्रेक ले चुका हूं। क्योंकि लंबे समय तक एक ही किरदार को निभाते रहने से हमारे अभिनय मंे भी एकरूपता आने लगती है,तो उसे भगाकर कुछ नया लाने के लिए ब्रेक लाना आवष्यक है। ’’


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये