चेतन भगत

1 min


हैप्पी बर्थडे चेतन भगत

चेतन भगत का जन्म 22 अप्रैल 1974 को दिल्ली के एक पंजाबी परिवार में हुआ था । उनके पिता एक आर्मी ऑफिसर और उनकी माता कृषि विभाग की एक सरकारी कर्मचारी थी उनकी अपनी प्रारंभिक शिक्षा दिल्ली के धुला कुआँ की द आर्मी पब्लिक स्कूल से पूरी की। उन्होंने 1995 में दिल्ली के इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी से मैकेनिकल इंजीनियरिंग में अंडरग्रेजुएट की डिग्री प्राप्त की और 1997 में अहमदाबाद के इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ मैनेजमेंट से MBA की डिग्री हासिल की।1998 में उन्होंने तमिलनाडु में रहने वाली और आईआईएम अहमदाबाद में उनकी क्लासमेट रह चुकी अनुषा सूर्यनारायण से शादी कर ली। जिनसे इन्हें दो बेटे भी हैं जिनका नाम श्याम और ईशान हैं

   चेतन ने अपने करियर की शुरुआत बैंकर के रूप में शुरू की थी लेकिन इनका पहला प्यार या पैशन शेफ बनना था। लेकिन पिता के कारन उन्हें इस सपने को छोड़ना पड़ा और फिर ये हांगकांग के एक बैंक में बैंकर की जॉब करने लगे जहाँ इन्होने लगभग एक दशक तक होन्ग कोंग के गोल्डमन सचस में इन्वेस्टमेंट बैंकर के पद पर काम किया वहीँ इनके अंदर के लेखक ने जन्म लिया और इसलिए होन्ग कोंग में भी वे कुछ-न-कुछ लिखते रहते थे, और एहि कारन था की बाद में मुंबई आने से पहले ही वे अपना पूरा ध्यान राइटिंग करियर में लगा रहे थे। जिसके चलते 2009 में ही राइटिंग में ज्यादा से ज्यादा ध्यान देने के लिये उन्होंने इन्वेस्टमेंट बैंकिंग को छोड़ दिया और फिर 2014 में उन्होंने सलमान खान की फिल्म किक से अपने स्क्रीनप्ले करियर की शुरुवात की थी उसके बाद उन्होंने कई फिल्मो के लिए स्क्रीनराइटिंग की जैसे काई पो चे! (2013) और 2 स्टेट्स (2014)एक्शन-सुपर हीरो मूवी किक (2015) और अब हाफ गर्लफ्रेंड शामिल है। उन्होंने जनवरी 2014 में 59 वे फिल्मफेयर अवार्ड्स में बेस्ट स्क्रीनप्ले काई पो चे! के लिये फिल्मफेयर अवार्ड जीते है।

   इसके अलावा वो लेखन की दुनिया के महानायक भी हैं और चेतन भगत सर्वाधिक बिकने वाले उपन्यासों के लेखक है, जिनमे फाइव पॉइंट समवन (2004), वन नाईट @ द कॉल सेंटर (2005), द 3 मिस्टेक्स ऑफ़ माय लाइफ (2008), 2 स्टेट्स (2009), रेवोलुशन 2020 (2011), व्हाट यंग इंडिया वांट्स (2012), हाफ गर्लफ्रेंड (2014) और मेकिंग इंडिया ऑसम (2015) शामिल है। ये सभी किताबे बाजार में आते ही प्रसिद्धि के सातवे आसमान पर पहुँच गयी थी। उनकी किताबो में से 4 पर तो बॉलीवुड फिल्म भी बनाई गयी है, उन फिल्मो के नाम अमीर खान की ३ इडीयट्स, काई पो चे!, 2 स्टेट्स और हेल्लो है। चेतन भगत के उपन्यासों की तक़रीबन 7 मिलियन प्रतिया बिक चुकी है। 2008 में न्यू यॉर्क टाइम्स ने भगत को “भारतीय इतिहास का सर्वाधिक बिकने वाला अंग्रजी भाषा का उपन्यासकार बताया”।

   इतना ही नहीं चेतन भगत को 2008 में न्यू यॉर्क टाइम्स ने “भारतीय इतिहास का सर्वाधिक बिकने वाला अंग्रजी भाषा का उपन्यासकार बताया” और टाइम्स पत्रिका ने चेतन भगत को दुनिया के 100 सबसे प्रभावशाली लोगो में से एक बताया लोगो की नजर में वे बहोत बुद्धिमानी है। ये ही कारण है जिसकी वजह से  चेतन भगत यूथ, करियर डेवलपमेंट और करंट अफेयर्स पर कॉलम भी लिखते है और साथ ही टाइम्स ऑफ़ इंडिया (अंग्रेजी में) और दैनिक भास्कर (हिंदी में) के लिये भी लेख लिखते है।


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये