पंकज कपूर

1 min


हैप्पी बर्थडे पंकज कपूर

इंडिया के जानेमाने नाटककार तथा टीवी व फिल्म अभिनेता पंकज कपूर का जन्म 29 मई 1961 को पंजाबी परिवार में लुधियाना के पंजाब में हुआ था।एक्टिंग में रूचि होने के कारण साल 1973 में अपनी इंजिनीरिंग की पढ़ाई खत्म करके उन्होंने नेशनल स्कूल ऑफ़ ड्रामा में दाखिला ले लिया। यंहा उन्होंनें अभिनय की कई बारीकियां सीखी और उन्हें प्रशिक्षण के दौरान बेस्ट एक्टर अवार्ड से भी नवाजा गया। पंकज कपूर की दो शादियां हुई हैं जिनमे पहली शादी एक्ट्रेस व डांसर नीलिमा अज़ीम से हुई थी।  लेकिन उनकी यह शादी कुछ ही दिन चल पाई उसके बाद उनका डिवोर्स हो गया। उसके बाद पंकज ने दूसरा विवाह अभिनेत्री सुप्रिया पाठक से किया। उनकीदोनों पत्नियों से उन्हें दो बेटे हैं।  जिनमे पहले बॉलीवुड के मशहूर शाहिद कपूर और उनके सौतेले   भाई रुहान कपूर।

पंकज कपूर ने अपने करियर की शुरुआत दूरदर्शन पर 80 के दशक में प्रसारित जासूसी धारावाहिक ‘करमचंद’ से की थी। उसके बाद उन्होंने उन्होंने शयन बेनेगल की फिल्म ‘आरोहण’ से अपना फ़िल्मी सफर शुरू किया था। इसी साल उन्होंने आस्कर अवार्ड विजेता रिचर्ड अटेनबरो निर्देशित और 1982 में निर्मित फिल्म गाँधी में पंकज ने प्यारेलाल की संक्षिप्त भूमिका अदा की थी इसके बाद उन्होंने आर्ट फिल्म ‘मंदी’ की। ‘जाने भी दो यारो’ हज़ैर और खामोश जैसी फिल्मों में अभिनय किया।  उस दौर में हिंदी सिनेमा में आर्ट फ़िल्में बनाने का चलन नहीं था, लेकिन कपूर ने वह फ़िल्में की, और सबके चहेते बन गए।

उनकी पहली नेशनल आवर्ड फिल्म आमिर खान स्टारर ‘राख’ थी। साल 1992 में आई मणि रत्नम की फिल्म ‘रोजा’ में ओनके अभिनय की आलोचकों ने खूब प्रसंशा की। उस दौर में हिंदी सिनेमा में हर कोई इनका दीवाना था।  उन्होंने साल 1991 में डॉक्टर की मौत फिल्म की।  उसके लिए उन्हें राष्ट्रीय पुरुस्कार स्पेशल जूरी अवार्ड से भी नवाजा गया।

उसके बाद पंकज ने निर्देशन की दुनिया में कदम रखा और हिंदी सिनेमा की फिल्म ‘मौसम’ से अपना निर्देशन डेब्यू किया।  इस फिल्म में उनके बेटे शाहिद कपूर और सोनम कपूर नज़र आई थी।  हालांकि फिल्म बॉक्स-ऑफिस पर औंधे मुंह गिरी थी।

पंकज बॉलीवुड और थिएटर के साथ टीवी के भी जाने माने चेहरे हैं व उन्होंने अपने टीवी करियर की शुरुआत 80 के दशक में की थी।  उन्होंने कई हिट शोज़ में काम किया।  लेकिन उन्हें छोटे पर्दे पर बड़ी पहचान शो ऑफिस-ऑफिस से मिली। इसके अलावा इन्होने   करमचंद,नीम का पेड़, नमक शो भी किये।

इनकी फिल्मो की बात की जाए तो उनकी मशहूर फिल्मे हैं -आरोहण, जाने भी दो यारों,खामोश,मोहन जोशी हाज़िर हो,एक रुका हुआ फ़ैसला ,छतरी चोर,चमेली की शादी,राख, एक डॉक्टर की मौत,राम जाने,मैं प्रेम की दीवानी हूँ,मकबूल,मकबूल, हल्ला बोल,लव खिचड़ी,हैप्पी,गुड शर्मा,चला मुसद्दी ऑफिस ऑफिस,मातृ की बिजली का मंडोला ,फाइंडिंग फन्नी,शानदार आदि । व इनकी 2017  में आने वाली फिल्म है तोबा तक सिंह ।

 


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये