57वां ग्रैमी अवॉर्ड इंडियन की झोली में

1 min


57वां ग्रैमी अवॉर्ड इस बार भारतीयों के लिए वरदान साबित हुआ । भारत के रिकी केज तथा लेखिका और एक्टिविस्ट प्रो. नीला वासवानी को अलग–अलग श्रेणियों में ग्रैमी अवॉर्ड मिला है। बेंगलुर के जाने माने म्यूजिक कम्पोजर रिकी केज के एल्बम ‘विंड ऑफ सम्सारा’ को ‘बेस्ट न्यू एज एल्बम’ का अवॉर्ड मिला। इस एल्बम को रिकी केज ने दक्षिण अफ्रीका के फ्लूटिस्ट वूटर केलरमैन के साथ मिलकर बनाया है।

620x350xGrammy_Awards.jpg.pagespeed.ic.VOaKPtjcr2

वहीं, लेखक और क्रिएटिव राइटिंग की प्रोफेसर नीला वासवानी की ‘आई एम मलाला’ को सर्वश्रेष्ठ चिल्ड्रन एल्बम श्रेणी में ग्रैमी अवॉर्ड मिला। नीला वासवानी की किताब के ऑडियो अनुवाद को ये अवॉर्ड मिला है। सितारवादक स्वर्गीय रविशंकर की बेटी अनुष्का शंकर इस बार ग्रैमी जीतने में असफल रहीं। अनुष्का को ‘ट्रेसिस ऑफ यू’ नाम के एल्बम के लिए सर्वश्रेष्ठ व‌र्ल्ड म्यूजिक श्रेणी में नामित किया गया था।


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये