अभिषेक बच्चन स्ट्रगल / अपने डेब्यू के लिए अभिनेता ने कई प्रोड्यूसर्स और डायरेक्टर के काटे थे चक्कर, लेकिन किसी ने नहीं दिया था मौका

1 min


Abhishek Bachchan Struggle

अभिषेक बच्चन स्ट्रगल के दिनों को याद कर हुए भावुक

सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद से ही इंडस्ट्री में भाई भतीजावाद को लेकर मानो जंग सी छिड़ गई है। हर कोई अपना अनुभव शेयर कर रहा है। ऐसे में अभिषेक बच्चन ने भी स्ट्रगल के दिनों को याद करते हुए सोशल मीडिया पर एक पोस्ट शेयर की है।

उन्होने बताया कि अपनी डेब्यू फिल्म को पाने के लिए उन्हें कितनी कड़ी मेहनत करनी पड़ी थी। जब उन्होने इंडस्ट्री में डेब्यू करने के बारे में सोचा तो उन्हें कितने प्रोड्यूसर्स और डायरेक्टर के चक्कर काटने पड़े थे।

सोशल मीडिया पर वीडियो किया पोस्ट

अभिषेक बच्चन ने स्ट्रगल के दिनों को याद करते हुए वीडियो में कहा – ‘साल 2009…दिल्ली 6 और पा। बहुत लोग ये बात नहीं जानते होंगे कि 1998 में, मैं और राकेश ओमप्रकाश मेहरा अपने फिल्मी करियर की एकसाथ शुरुआत करना चाहते थे’। हम ‘समझौता एक्सप्रेस’ के लिए साथ काम कर रहे थे। हमने बहुत कोशिश की, लेकिन हमें कोई लॉन्च करने वाला नहीं मिला। मुझे अभी याद भी नहीं कि मैं कितने प्रोड्यूसर और डायरेक्टर्स से मिला था उनसे रिक्वेस्ट की थी कि मुझे एक्टिंग का एक मौका दें। लेकिन किसी ने मौका नहीं दिया। हम दोनों दोस्त थे, तो हमने फैसला लिया कि हम कुछ ऐसा बनाएं जिसे राकेश डायरेक्ट कर सकें और मैं उसमें एक्टिंग कर सकूं, इस तरह ‘समझौता एक्सप्रेस’ का जन्म हुआ।

नहीं बन सकी थी समझौता एक्सप्रेस

हालांकि समझौता एक्सप्रेस बन नहीं सकी थी जिस पर अभिषेक ने कहा – यह फिल्म नहीं बन सकी जिसका मलाल हमारे दिल में आज भी है। उसके बाद राकेश मेरे पिता के साथ ‘अक्स’ बनाने लगे, और सौभाग्य से मैं और पापा जेपी साहब से मिले। उन्हें मेरा लुक पसंद आया। जेपी साहब ‘आखिरी मुगल’ बनाने के बारे में सोच रहे थे और उसके लिए उन्हें एक नए चेहरे की तलाश थी। मैं लकी रहा…उन्होंने कभी आखिरी मुग़ल तो नहीं बनाई लेकिन उसकी जगह ‘रिफ्यूजी’ बनाई। ’10 साल बाद राकेश और मैं आखिरकार साथ काम कर पाए। हमने साथ में ‘दिल्ली 6’ बनाई। बेहत प्यारी कास्ट… हम एक परिवार की तरह थे। ये सोनम कपूर की दूसरी फिल्म थी।

रिफ्यूजी में करीना के साथ किया था डेब्यू

Abhishek Bachchan Struggle

Source – Twitter

साल 2000 में अभिषेक बच्चन ने रिफ्यूजी फिल्म से डेब्यू किया था जिसमें उनके साथ करीना कपूर थीं। फिल्म भारत पाकिस्तान के बॉर्डर पर रहने वाले एक ऐसे शख्स की कहानी थी। जो हिंदुस्तान से लोगों को बॉर्डर पार कराकर पाकिस्तान पहुंचाता था।

 और पढ़ेंः बॉलीवुड के मशहूर विलेन अमरीश पुरी के कुछ बेहतरीन डायलॉग्स, मोगैंबो खुश हुआ…

SHARE