अभिनेता करन आनंद ने बताया ,किस तरह से लॉक से अनलॉक होगी ज़िन्दगी।

1 min


देश में कोरोना वायरस महामारी के कारण चल रहा लॉक डाउन अब समाप्ति की ओर है। भारत सरकार की तरफ से हुई घोषणा के अनुसार 8 तारीख से धीरे धीरे लॉक डाउन को खोलने की बात कही गई है। हालांकि परिस्थियाँ सामान्य अभी भी नहीं हुई है ,फिर भी देश की आर्थिक स्थिति को देखते हुए लगभग ढाई महीनो से लगे हुए लॉक को अनलॉक करने का समय आ गया है। वापस अपनी लाइफ को पटरी पर उतारने का समय आ गया है। लेकिन गौर करने वाली बात ये है कि लॉक डाउन के पहले हम जैसा छोड़ कर गए थे , क्या वैसा ही अनलॉक होने के बाद भी है ? या चुनौतियां अब और ज्यादा बढ़ गई है ?

इस महामारी ने हमें और भी ज्यादा सतर्क और व्यस्त बना दिया है। लॉकडाउन से पहले के रुटीन के मुकाबले ज्‍यादा जिम्‍मेदारियां आने को तैयार बैठी है।  ऑफिस के साथ घर के कामो में भी इज़ाफ़ा हुआ है। सावधानी व सतर्कता के नियम निभाना ,खुद के साथ परिवार का ध्यान रखते हुए जरूरी हो गया है।अब किस तरह से लाइफ unlock होगी । किन किन चुनौतियों का सामना आगे करना पड़ सकता है ? इन  सभी बातो को ध्यान रखते हुए जब हमारी बात बॉलीवुड एक्टर करन आनंद से हुई तब उन्होंने बताया कि वह किस तरह अपनी शूटिंग लाइफ और घर के बीच बैलेंस रखते हुए सावधानी से चुनौतियों का मुकाबला करने की तैयारी कर रहे है।

अभिनेता करन आनंद ने कहा “सबसे जरुरी चीज़ जो मुझे लगती है वो है मेंटली बहुत स्ट्रांग होना। फिर बाकि चीजे जैसे मास्क ,sanitizer ये सब सेकण्डरी है। अगर हम मानसिक रूप से स्ट्रांग नहीं है तो हम डर-डर के जिएंगे , किसी से मिलने में डरेंगे ,बात करने में डरेंगे , बाहर निकलने में डरेंगे । और अगर हमने इस महामारी को लेकर अपने  दिमाग को काबू में कर लिया तो हम कॉन्फिडेंटली अभी की सिचुएशन को हैंडल कर पाएंगे। और साथ ही हमारा  दिमाग सही तरीके से काम करेगा कि हमें किसी से हाथ नहीं मिलाना है , दुरी बनाए रखनी है , भीड़ भाड़ से दूर रहना है। मेरा मानना है कि परिवार का जो मुखिया है बहुत शांत तरीके से सिचुएशन को हैंडल करे और साथ ही इस महामारी के बारे में पूरी तरह से परिवार को जागरूक करे कि किस तरह से सावधानी लेकर इस बीमारी से बचा जा सकता है। साथ ही साफ़ सफाई का ध्यान रखना होगा। मेरे अनुसार सबसे जरुरी बात यह है कि  सरकार के द्वारा दिए गए दिशा-निर्देशों का पालन करते हुए हमें मानसिक रूप से बहुत मज़बूत होना होगा। तभी हम इस परिस्थिति का डटकर मुकाबला कर सकेंगे। ”

फ़िल्म ‘गुंडे’ से बॉलीवुड में अपने सफल करियर की शुरुआत करने वाले करन आनंद ने ‘किक’ , ‘कैलेंडर गर्ल्स’, ‘बेबी’ जैसे कई बॉलीवुड फिल्म्स की हैं। फिल्म ‘किक’ में उनके द्वारा किए गए एक्शन सीन्स की काफी सराहना की गई थी। लेकिन सही मायने में उन्हें पहचान फ़िल्म ‘बेबी’ में निभाए गए उनके किरदार से मिली। हाल ही में उन्होंने मधुर भंडारकर की फ़िल्म ‘कैलेंडर गर्ल्स’ में कैमियो रोल किया था। अपनी सफलता के बाद, उन्हें कई प्रस्ताव मिले हैं। जिनको लेकर वे विचार कर रहे है और बहुत जल्द लॉकडाउन के ख़त्म होते ही वे अपनी आने वाली योजनाओं की घोषणा करेंगे।

SHARE

Mayapuri