खिड़की पर एक चेहरा बार बार दिखाई दे रहा था – करण सिंह ग्रोवर-

1 min


करण सिंह ग्रोवर अभी तक छोटे पर्दे के सबसे हैंडसम स्टार के तौर पर जाने जाते रहे हैं । कितनी है मस्त जिन्दगी, प्रिंसेस डाॅली और उसका मैजिक बैग, कसौटी जिन्दगी, सोलह सिंगार, दिल मिल गये, तेरी मेरी लव स्टोरी, दिल दोस्ती डांस तथा कुबूल है । इसके अलावा उसके खाते में जरा नच ले, झलक दिखला जा तथा खतरां के खिलाड़ी जैसे रियलिटी शोज कर चुके करण सिंह ग्रोवर ने छोटे पर्दे पर एक शानदार पारी खेली । और अब बड़े पर्दे पर भी उसका बिपाषा बासू जैसी हाॅट और सेक्सी हीरोइन के साथ फिल्म ‘अलोन’ से डेब्यु हुआ है । इस फिल्म को लेकर उससे एक मुलाकात

bipasha, karan singh grover
– करण सिंह की खूबसूरत सिक्स पैक एब बाॅडी को देख लोग बाग सलमान खान और जाॅन अब्राहम को भूल गये हैं ?
0 देखिये मैने बाॅडी अपने प्रोफशन के लिये बनाई और स्वस्थ शरीर आपको जिन्दगी के प्रति उत्साह जगाता है ।  इन सबके पीछे सलमान खान रहे हैं क्योंकि ये सब करने के लिये मैं सलमान भाई से प्रेरित हुआ । एक समय था जब जिम में वर्क आउट करते वक्त मेरे सामने सलमान भाई की तस्वीर लटकी होती थी ।
– आपका डेब्यु एक हाॅरर फिल्म से हो रहा है । प्रसनली भूत प्रेतों में कितना विष्वास रखते हैं ?
0 इक्किसवी सदी में कौन भूत प्रेत जैसी चीजों पर विश्वास रखता है । और जो रखता भी है वो खुल कर कहता नहीं लेकिन मेरा मानना है कि  भूत प्रेत होते हैं क्योंकि मेरा प्रसनल अनुभव है कि भूतप्रेत होते हैं ।अब आप कहेगें कि क्या आपने उन्हे देखा हे तो मेरा तर्क होगा कि भगवान को क्या किसी ने देखा है लेकिन उन पर तो हर कोई विश्वास करता है ।
– लेकिन महाराष्ट सरकार तो अंधविष्वास को लेकर कोई कानून भी बनाने जा रही है ?
0 ठीक हैं लेकिन आप लोगों की सोच पर केसे कानून लागू करेगें । देसरे अंधविश्वास और विश्वास में थोड़ा फर्क है ।
– क्या फिल्म के दौरान कोई अविसमरणीय सुखद दुखद हादसा या घटना ?
0 एक घटना का जिक्र करना चाहूँगा । हम एक हवेली में रात को शूटिंग कर रहे थे । करीब तीन बजे जंहा मैं बैठा था कि बार बार मुझे मेर सामने वाली खिड़की पर एक चेहरा बार बार दिखाई दे रहा था।  लेकिन इसे मैने यूनिट के किसी आदमी की शरारत  समझा । और जब इस बारे में पूछताछ की गई तो पता चला कि ऐसा किसी ने नहीं किया था ।

karan singh, bipasha vasu
 – ये फिल्म कैसे मिली ?
0 धारावाहिक ‘कुबूल है’ के वक्त मुझे प्रडयूसर कुमार मंगत के आफिस से फोन आया ।  और जब मुझे पता चला कि मेरे अपाजिट बिपाशा बासू है  तो मुझे अपनी किस्म पर यकीन नहीं हुआ ।
– जी टी चैनल का कहना है कि आप अच्छे शख्स नहीं बल्कि छोटे पर्दे के बैडब्वाय हैं ?
0 इस बात का खुलासा मैंने आज तक नहीं किया । ये सोच कर कि जो बीत गया सो बीत गया । लेकिन ये बात मेरे सामने बार बार आ रही हैं कि मैं अच्छा आदमी नहीं हूं ।इसलिये जीटीवी  की सच्चाई आज बताने जा रहा हूं । दरअसल मैं जिन दिनों कुबूल है कर रहा था और उस धारावाहिक का कॉन्ट्रैक्ट करीब दो महिने पहले ही खत्म हो चुका था आगे मैं उसे नहीं करना चाहता था उसकी सबसे बड़ी वजह थी कि उन्होंने उसे लंबा खींचने के लिये पूरी कहानी बदल दी थी । उन्होंने मेरी फीस बढ़ाने का लालच दिया लेकिन मैंने मना कर दिया । तो उन्होंने कहा कि ठीक है लेकिन आप मीडिया के सामने कुछ न कहना कि आप ये शो क्यों छोड़ रहे हैं । मैंने उनकी बात मान ली । लेकिन उन्होंने अपना बादा तोड़ते हुये मीडिया के सामने उद्दंड कहा यहां तक मुझे बैड ब्वाय कहा ।
– क्या आपने कोई कान्टैकट साइन किया है ?
0 जी हो । मेरा कमार मंगत जी के साथ तीन साल का कान्टैक्ट है ।


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये