बिहार के गांव को स्मार्ट बनाने के लिए टीवी एक्टर ने छोड़ी एक्टिंग, अब कर रहे हैं खेती

1 min


कई टीवी शो में काम कर चुके लोकप्रिय सीरियल साराभाई वर्सेज साराभाई फेम एक्टर राजेश कुमार अपने 19 साल लंबे टीवी करियर के बाद अब नया काम कर रहे हैं। जी हां, इन दिनों राजेश कुमार ग्लैमर की दुनिया को छोड़कर गांव में खेती कर रहे हैं। राजेश आजकल टीवी की दुनिया की चमक-दमक से दूर बिहार के एक छोटे से गांव बर्मा को स्मार्ट विलेज बनाने में जुट गए हैं। आध्यात्मिक खेती के जरिए राजेश ने इस गांव की तस्वीर बदलनी शुरु कर दी है।

आपको बता दें, राजेश ने अपने फ़िल्मी करियर की शुरुआत 1999 में टीवी सीरियल ‘एक महल हो सपनों का’ से की थी। राजेश ने कई मशहूर टीवी सीरियल में काम किया है जिनमें ‘खिचड़ी’, ‘बा बहू और बेबी’, ‘कॉमेडी सर्कस’, ‘नीली छतरी वाले’, ‘बड़ी दूर से आये हैं’ और ‘हम किसी से कम नहीं’ जैसे मशहूर टीवी सीरियल शामिल हैं।

आम के पेड़ नीचे बैठकर आया आइडिया

एक इंटरव्यू के दौरान राजेश ने आध्यात्मिक खेती को लेकर बताया कि, एक बार मैं एक आम के पेड़ के नीचे बैठा था उसी वक़्त मेरे दिमाग में ये आईडिया आया, ठीक गौतम बुद्ध की कहानी की तरह। राजेश ने जब इस गांव में कदम रखा तो यहां पर मूलभूत सुविधाएं भी नहीं थी। बिजली, पानी और सड़क के लिए ये गांव सालों से तरस रहा था। राजेश ने इस गांव को स्मार्ट बनाने के लिए सबसे पहले इसे बिजली से जोड़ने का काम किया। उन्होंने ख़ुद बिजली विभाग को कई बार फ़ोन करके गांव में बिजली देने की मदद मांगी।

➡ मायापुरी की लेटेस्ट ख़बरों को इंग्लिश में पढ़ने के लिए  www.bollyy.com पर क्लिक करें.
➡ अगर आप विडियो देखना ज्यादा पसंद करते हैं तो आप हमारे यूट्यूब चैनल Mayapuri Cut पर जा सकते हैं.
➡ आप हमसे जुड़ने के लिए हमारे पेज Facebook, Twitter और Instagram पर जा सकते हैं.


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये