सही जवाब देने के बाद भी सात करोड़ रुपए नहीं जीत पाई असम की बिनीता जैन

1 min


कौन बनेगा करोड़पति के सीजन-10 का 1 और 2 अक्टूबर का एपिसोड काफी अहम रहा. इसी एपिसोड में केबीसी को मिला इस सीजन का पहला करोड़पति. असम की बिनिता जैन एक करोड़ रुपये के सवाल का सही जवाब देकर करोड़पति तो बन गईं. लेकिन इसके बाद उनके सामने आया उच्च कोटि की चोटी का प्रश्न यानी सात करोड़ का सवाल।

और वो सवाल था- किसने 1867 में पहले स्टॉक टिकर का अविष्कार किया? विकल्प थे- एडवर्ड कैलहन, थॉमस एडिसन, डेविड गेस्टेटनर, रॉबर्ट बारक्ले. इस सवाल का जवाब मालूम होने के बाद भी बिनिता ने खेल क्विट कर लिया. जब अमिताभ ने उनसे पूछा कि आप एक जवाब चुनिए. तब बिनिता ने चुना एडवर्ड कैलहन. ये जवाब सही था. अगर वह खेल क्विट ना करतीं, तो वो सात करोड़ रुपये जीत जातीं. फिर भी उनका यहां तक का सफर काफी दिलचस्प और प्रेरणादायक रहा।

पहले तो बिनिता 50 लाख के सवाल पर ही क्विट करना चाहती थीं , मगर जोड़ीदार के रूप में आए उनके बेटे ने उन्हें सही जवाब बताने में मदद की और रिस्क लेकर आगे बढ़ने के लिए कहा और बिनिता 50 लाख रुपये जीत गईं. इसके बाद बिनिता के सामने आया एक करोड़ का सवाल. इस सवाल का सही जवाब देते हुए अमिताभ ने बिनिता को सीट से उठकर गले लगाया और तालियों की गड़गड़ाहट से बिनिता को बधाइयां दी गईं. एक करोड़ रुपये की धनराशि के साथ बिनिता को एक महेंद्रा मराजो कार भी ईनाम में सौंपी गई।

एक करोड़ की ईनामी धनराशि के बाद बिनिता जैन ने न सिर्फ अमिताभ को असम का पारंपरिक परिधान उपहार में दिया और उन्होंने कहा कि अमिताभ जितना हैंडसम व्यक्ति उन्होंने अपने जीवन में नहीं देखा है. इसी एपिसोड के दौरान पता चला कि बिनिता के बेटे रोहित डॉक्टरी की पढ़ाई कर रहे हैं और बेटी काव्या दिल्ली यूनिवर्सिटी से ही अंग्रेजी में ऑनर्स कर चुकी है।

➡ मायापुरी की लेटेस्ट ख़बरों को इंग्लिश में पढ़ने के लिए  www.bollyy.com पर क्लिक करें.
➡ अगर आप विडियो देखना ज्यादा पसंद करते हैं तो आप हमारे यूट्यूब चैनल Mayapuri Cut पर जा सकते हैं.
➡ आप हमसे जुड़ने के लिए हमारे पेज Facebook, Twitter और Instagram पर जा सकते हैं.


Like it? Share with your friends!

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये