‘उड़ता पंजाब’ के बाद, अब ‘शोरगुल’ पर प्रतिबंध लगाया जाएगा

1 min


Udta-Punjab-shorgul.gif?fit=650%2C450&ssl=1

कहानी 2 – एक्सक्लूसिव – फिल्म ‘शोरगुल’ पर प्रतिबंध लगाया जाएगा।

जबसे आशुतोष राणा, जिम्मी शेरगिल अभिनीत राजनीतिक ड्रामा शोरगुल का पहला मोशन पोस्टर एवं ट्रेलर जारी हुआ है, हर दूसरे दिन एक दर्जन से अधिक कॉल्स एवं संदेशों द्वारा विभिन्न नौकरशाही कार्यालयों से फिल्म के निर्माताओं को अंतिम भाग देखने के लिए कहा जा रहा है क्योंकि फिल्म में राजनीतिक षड्यंत्रों का पर्दाफाश करने की धमकी दी गई है। हमें यह कहना होगा कि राजनीतिक बिरादरी में फिल्म की चर्चा जोरों पर है।

हमारे सूत्रों का कहना है कि अखिलेश यादव ने लखनऊ में एक विशेष स्क्रीनिंग के लिए पूछताछ की है जहाँ वह पार्टी के प्रमुख सदस्यों के साथ फिल्म देखना चाहते हैं। हालांकि सेंसर बोर्ड ने फिल्म को हरी झंडी दे दी है, बड़ा सवाल इस तथ्य में निहित है कि मुजफ्फरनगर दंगों पर आधारित फिल्मों में आम तौर पर स्थगन का आदेश पारित किया जाता है और क्या किसी प्रमुख राजनीतिक दल द्वारा प्रोजेक्ट की फंडिंग की जा रही है उसका पर्दाफाश हो। दूसरी तरफ हमें बताया गया है कि उनकी अनुमति के बिना पटकथा में उनके चरित्र का प्रयोग करने के लिए बहुत ही कुख्यात आजम खान प्रोडक्शन हाउस को एक फतवा जारी करने की प्रक्रिया में हैं।

फिल्म उन विवादास्पद हाई प्रोफाइल नौकरशाहों के वास्तविक समय के राजनीतिक घोटालों को सामने लाएगी जिन्होंने राष्ट्र को हिलाकर रख दिया है और चरित्रों एवं संवादों की पहली झलक के द्वारा ऐसे आँकड़े प्रस्तुत किए गए हैं जिसने अखिलेश यादव, आजम खान एवं संगीत सोम जैसे कई लोगों को सुर्खियों में ला दिया है। जिम्मी शेरगिल संगीत सोम, संजय सूरी अखिलेश यादव एवं नरेंद्र झा आजम खान का किरदार निभाएंगे। हमें बताया गया है कि फिल्म के किरदारों के ऑन-स्क्रीन नाम भी मामूली परिवर्तन के साथ लगभग वही होंगे जैसे कि – रंजीत सोम, मिथिलेश यादव, आलिम खान। फिल्म में एक गीतकार के रूप में कपिल सिब्बल भी मौजूद हैं जो कि कहानी में निश्चित रूप से एक राजनीतिक मोड़ लेकर आता है।

24 एफपीएस फिल्म्स के सह निर्माता अमान सिंह बताते हैं कि, ’’जी हाँ हमें बहुत सारे फोन कॉल्स आ रहे हैं और कई लोग तो हमारे प्रोडक्शन हाऊस को जलाने की धमकी भी दे रहे हैं। हालांकि रिलीज की हमारी योजना में किसी भी प्रकार की बाधा नहीं है और फिल्म को अगले महीने की 24 तारीख को प्रसारित किया जाएगा। सच को सामने लाने एवं परिवर्तन के पैदल सिपाही बनने के लिए जनता से आग्रह करने हेतु फिल्म के अंदर वास्तविक सबूतों का प्रयोग करने के साथ फिल्म के निर्माण में काफी अनुसंधान किया गया है।’’

संवेदनशील वास्तविक समय की घटनाओं से प्रेरित, उत्तरप्रदेश की पृष्ठभूमि पर आधारित, शोरगुल एक राजनीतिक ड्रामा है जिसने लोकतंत्र की नींव को हिलाकर रख दिया है, जिसका ट्रेलर हाल ही में जारी किया गया। 24 एफपीएस फिल्म्स द्वारा निर्मित, फिल्म असहिष्णुता पर आधारित है और दर्शकों को इस बात का चिंतन करने के लिए प्रेरित करती हैं कि धार्मिक, सामाजिक, राजनीतिक एवं आर्थिक पूर्वाग्रह के बीच मानवता कहाँ खड़ी है। नौकरशाही के दुष्कर्मों, दिमागी खेलों एवं कुछ हाई प्रोफाइल गणमान व्यक्तियों के विवादास्पद विशेष आघातों को सन्दर्भित करने के अलावा फिल्म उन गंभीर विषयों पर प्रकाश डालेगी जो पिछले कुछ वर्षों में प्रकाश में आए हैं जैसे कि मुजफ्फर नगर, गोधरा, बाबरी मस्जिद के दंगे। दिलचस्प बात यह है कि फिल्म के किरदार भी वास्तविक जीवन के राजनेताओं के साथ समानांतर समानताओं की अनुभूति करवाते हैं। फिल्म के कुछ मुख्य अभिनेता अपने रूप, व्यवहार, यहाँ तक कि नाम में भी वास्तविक जीवन के राजनेताओं की झलक महसूस करेंगे। सच को सामने लाने एवं परिवर्तन के पैदल सिपाही बनने के लिए जनता से आग्रह करने हेतु फिल्म के अंदर वास्तविक सबूतों का प्रयोग करने के साथ फिल्म के निर्माण में काफी अनुसंधान एवं किरदारों पर काफी काम किया गया है।

जितेंद्र तिवारी एवं पी. सिंह द्वारा निर्देशित एवं स्वतंत्र विजय सिंह और व्यास वर्मा द्वारा निर्मित, फिल्म में जिम्मी शेरगिल, आशुतोष राणा, संजय सूरी, नरेंद्र झा, हितेन तेजवानी, ऐजाज खान, सुहा गेजेन, अनिरूद्ध देव एवं दीपराज राणा ने मुख्य भूमिकाएँ निभाई हैं।


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये