अक्षय की आँखों में यादों की उतरी नमी

1 min


एक्शन किंग के रूप में अक्षय कितना टफ और रफ नज़र आता है यह तो सबको पता है, ऊपर से एकदम नारियल की तरह कठोर दिखने वाले अक्षय का दिल भी कच्चे नारियल के अन्दर भरे पानी की तरह ही पिघला पिघला और मीठा है यह उस दिन की बात से जाना है। जब अक्षय अपनी नई फिल्म ‘एयर लिफ्ट’ का एक दृश्य फिल्मा रहा था, दृश्य वो था जहां सद्दाम हुसैन के इन्वेशन के पश्चात, भारतीय एवाक्यूज़ को लेकर पहली उड़ान भरने से पहले इंडियन फ्लैग को ऊंचा उठाया गया था। इस दृश्य को फिल्माते फिल्माते अक्षय की आंखें ग्लिसरीन के बिना ही भर भर आयी थी। पूछने पर अक्षय ने बताया कि उन्हें वह वक्त याद आ रहा है जब उन्नीस सौ नब्बे में कुवैत पर चढ़ाई, करने की कोशिश हुई थी, ‘‘मेरी फिल्म ‘सौगन्ध’ रिलीज होने वाली थी। मुझे अंदाजा नहीं था कि 59 दिनों और 499 फ्लाइटस के आॅपरेशन द्वारा इतने ढेर सारे भारतीयों को भारत वापस लाया जा रहा था, और इंटरनेशनल जीयो पाॅलिटिकल वजहों से हमारे गवर्नमेन्ट ने एहतियात बरता था कि यह हेडलाइन्स ना बने। उस रोल को आज निभाते हुए मुझे इस बात का एहसास हुआ कि उस वक्त क्या गुजर रही थी हमारे उन भारतीयों पर…।’’ अक्षय..आप वाकई में हीरो हो।


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये