अली फज़ल बाकी कलाकारों के साथ मिर्जापुर 2 की डबिंग के लिए स्टूडियो पहुंचे

1 min


Jyothi Venkatesh

ऐसा लगता है कि अमेज़ॅन प्राइम अपने सफल शो – मिर्जापुर को रिलीज करने के लिए तैयार है; जिसका दूसरा सीजन इस साल प्लेटफार्म पर रिलीज़ होना था। जब मिर्जापुर 2 के कलाकारों ने अपने डबिंग सेशन को फिर से शुरू करने की घोषणा करते हुए अपने सोशल मीडिया पर तस्वीरों की एक श्रृंखला पोस्ट की, उसके बाद हाल ही में प्रमुख कास्ट अली फज़ल ने एक साथ सभी कलाकारों की तस्वीर पोस्ट की। लॉकडाउन के कारण सभी लोग दूर से काम कर रहे थे, यह पहली बार है जब डब सेशन के लिए कलाकारों ने एक जुट होकर पुनर्मिलन किया। श्वेता त्रिपाठी शर्मा सहित कलाकारों के प्रमुख सदस्यों के अलावा, प्रोडक्शन टीम के लोग भी इसमें शामिल हुए। अभिनेताओं ने यह सुनिश्चित किया कि वे सभी के साथ सोशल डिस्टेन्सिंग बनाये रखेंगे ।

इसके बारे में बोलते हुए, अली ने कहा, “हमने लॉकडाउन से पहले कुछ एपिसोड डब किए थे इसलिए हमने वहीं से शुरुआत की। वापस काम पे आना बहुत अच्छा था क्योंकि यह असामान्य रूप से लंबा ब्रेक रहा है। हमने शो की शूटिंग काफी समय पहले की थी, इसलिए हमें थोड़ा समय लगा दोबारा ट्रैक पे आना। प्रत्येक अभिनेता डबिंग के लिए आमतौर पर अपने वक़्त पे आते है, लेकिन हम तब मिले, हम सभी का वक़्त एक दूसरे के वक़्त से टकरा गया था। स्टूडियो अपनी स्वच्छता के बारे में बिलकुल क्लियर है, यह एक समय में एक ही कलाकार की अनुमति देता है। हम पूरी तरह से सैनिटाइज़ स्टूडियो में डबिंग करते हैं। और हमे स्टूडियो की दूसरी तरफ निर्देश दिए जाते हैं। डबिंग की प्रणाली पहले से ही एकांत में ही किया जाता। “

Frankie

अमेज़ॅन प्राइम मंच के सबसे पसंदीदा शो में से एक, अली का कहना है कि, शो को लेकर दबाव अब बढ़ रहा है। “हमे हमेशा से कम आँका गया था लेकिन दर्शकों से हमेशा असीम प्यार मिलता रहा। लेकिन अब महामारी द्वारा नयी परिस्थितियों के कारण शो में काफी देरी हो रही है। पूरे लॉकडाउन में, प्रशंसक हमसे सवाल करते रहे हैं। हम पर आँखें गड़ी है महसूस कर सकते हैं और मुझे उम्मीद है कि दर्शक थोड़ा दरियादिल होंगे। पिछले वर्ष ऐसे महान शोज सामने आये है कि मुझे अमेज़ॅन की विरासत का हिस्सा होने पर बहुत गर्व होगा। ”

हालांकि, महामारी का डर सबके ऊपर घूम रहा है और विशेष रूप ये डर तब से और बढ़ गया है जब से इंडस्ट्री के दो दिग्गज कलाकार COVID पॉजिटिव पाए गए है। लेकिन अली फ़ज़ल का कहना है कि, “डर की कोई गुंजाइश नहीं है। मैं काम पर जाने को लेकर बहुत खुश हूँ। हम डर के शिकार नहीं हो सकते हैं और ना ही ये हमारा अंत है जैसा कि हम समझ रहे हैं। डर से कुछ भी हासिल नहीं है। हमें स्मार्ट, स्वस्थ और बस सतर्क रहने की जरूरत है। ”


Like it? Share with your friends!

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये