सुनो कोरोना जी, तुम अलिया से इतने नाराज क्यों हो

1 min


जीवन कभी-कभी एक बिगड़ैल बच्चे की तरह होता है जो हमारे साथ खेल खेलना पसंद करता है। और कभी-कभी यह बच्चा लोगों को सभी परेशानी देना पसंद करता है जब वे टॉप पर होता हैं। कुछ समय के लिए प्रसिद्धि, भाग्य, अच्छा स्वास्थ्य और एक अच्छा पारिवारिक जीवन होता है और फिर सिर्फ एक ‘दुर्घटना’, एक ‘घटना’, एक ‘मनमुटाव’ या ‘झगड़ा’ और यहां तक कि एक छोटा कीड़ा भी कुछ भी बिगाड़ और बर्बाद कर सकता है, जब तक कि बिगड़ैल बच्चा फिर से अच्छे मूड में नहीं आ जाता। -अली पीटर जॉन

अब देखिए, उस बिगड़ैल बच्चे ने मीठी और इतनी सफल आलिया भट्ट के साथ क्या किया है। जो एक सपने की तरह हैं, वह अपने करियर के चरम पर पहुंच गई है, उनके पास वह सब कुछ है जो उन्हें जीवन दे सकता था और यहां तक कि उनके साथ उनके प्रेमी रणबीर कपूर उनका जीवन साथी बनने के लिए एक नए जीवन की प्रतीक्षा कर रहे हैं। वह नंबर वन एक्ट्रेस हैं जो एक हाईएस्ट पेड एक्ट्रेस भी है और हर निर्देशक उनके साथ काम करना चाहता हैं।

और बिगड़ैल बच्चे को यह सब पसंद नहीं आया और उसने उनके साथ कुछ मास्टर ट्रिक्स खेलने का फैसला किया।

अगर मेरे दोस्त ऋषि कपूर की एक आखिरी महत्वाकांक्षा थी, तो वह यह थी वह अपने बेटे रणबीर की आलिया से शादी करना और आलिया को अपनी बहू बनना चाहते थे। लेकिन इस बिगड़े हुए बच्चे के गंदे तरीको को देखें। ऋषि की मृत्यु तब हुई जब प्रेमियों ने आखिरकार शादी करने का फैसला कर लिया था और आलिया का सपना टॉस के लिए गया।

और फिर सुशांत सिंह राजपूत की रहस्यमय परिस्थितियों में मौत हो गई (मुझे नहीं लगता कि रहस्य अभी तक सुलझ गया है) और उनके वरिष्ठ सहयोगी कंगना रनौत ने भाई-भतीजावाद (नेपोटिज्म) के खिलाफ एक मौखिक युद्ध शुरू किया जहाँ आलिया उनकी लिस्ट में सबसे टॉप पर थीं, और दीपिका पादुकोण सहित कई बड़ी हस्तियों पर कंगना ने बड़ी बेरहमी से हमला किया था।

‘गली बॉय’ और ‘राजी’ जैसी कुछ सबसे लोकप्रिय और सफल फिल्मे करने के बाद, वह तीन बड़ी फिल्मों के रिलीज होने का भी इंतजार कर रही हैं, जिन पर उन्हें विश्वास हैं और इंडस्ट्री का मानना हैं कि वह एक बहुत बड़ी स्टार बनेगी। पहली ‘ब्रह्मास्त्र’ हैं जिसमें उन्होंने अपने प्रेमी रणबीर और अमिताभ बच्चन, डिंपल कपाड़िया और नागार्जुन जैसे वरिष्ठ अभिनेताओं के साथ मिलकर काम किया हैं। सिद्धार्थ आनंद द्वारा निर्देशित फिल्म 2020 के अंत तक लगभग पूरी हो चुकी थी, लेकिन तब वायरस आ गया और सबसे बड़े वैज्ञानिक और डॉक्टर भी इसे हरा नहीं पाए और निश्चित रूप से गंदे राजनेता इसके बारे में कुछ भी नहीं कर सके और अब भी कुछ नहीं कर पाए हैं। पूरी दुनिया पीड़ित है, और आलिया अपवाद नहीं होने वाली हैं। रणबीर सबसे पहले वायरस के खतरनाक तरीकों का शिकार हुए थे और जैसा कि कई लोगों को उम्मीद थी, आलिया ने इसका अनुसरण किया। और जब वे दोनों ठीक हो गए थे, तो दोनों मालदीव में छुट्टीयां मनाने चले गए थे। उन्होंने एक महान समय और यहां तक कि एक बदलाव की उम्मीद की होगी, लेकिन जब वे वापस आए, तो उन्हें हजारों ट्रोल और आलोचनाओं का सामना करना पड़ा, जो मुझे लगता था कि सबसे मजबुत दिलों के लिए भी इसे सहना आसान नहीं होता हैं।

और अगर आलिया को कोरोना की वजह से सबसे ज्यादा नुकसान उठाना पड़ा, तो यह उनकी दो सबसे महत्वाकांक्षी फिल्मों, ‘गंगूबाई काठियावाड़ी’ और ‘आरआरआर’ (राइज रोअर रिवोल्ट) के कारण है जो कोरोना के चलते पूरे साल रिलीज नहीं हो सकी, हालांकि फिल्मों का प्रचार शुरू हो गया था तब भी। ‘गंगूबाई काठियावाड़ी’ का निर्देशन संजय लीला भंसाली ने किया है जो उनके प्रदर्शन से इतने प्रभावित थे कि उन्होंने गंगूबाई की रिलीज के तुरंत बाद उनके साथ एक और फिल्म बनाने का फैसला किया था, जिसकी उन्हें उम्मीद थी कि जून या जुलाई में रिलीज हो जाएगी, लेकिन यह बिगडा हुआ बच्चा अभी भी आलिया के साथ खुश नहीं था और न ही गंगूबाई को रिलीज किया गया था और न ही भंसाली की नई फिल्म उनके साथ बनाई जा रही थी। यदि विशेषज्ञों और अन्य लोगों द्वारा देखा जाए, तो दो सितारे जो इस महामारी के दौरान सबसे अधिक प्रभावित हुए हैं वह अमिताभ बच्चन और आलिया भट्ट हैं।

आशावादी अभी भी ब्रह्मास्त्र, गंगूबाई काठियावाड़ी, आरआरआर जैसी फिल्मों को दिसंबर 2021 में रिलीज होने की उम्मीद कर रहे हैं। लेकिन इस बिगड़े हुए बच्चे ने कोरोना की दूसरी लहर का स्वागत किया और अब सब कुछ तब तक एक ठहराव पर है, जब तक की यह बिगड़ैल बच्चा अपने सभी क्रूर तरीकों को नहीं बदलता और पूरी दुनिया के लिए और आलिया के लिए आशा का एक नया रास्ता नहीं खोल देता हैं।

इस जालिम जिंदगी का हम क्या करे और क्या कर सकते हैं और ऐसा लग रहा है की यह जो महामारी है यह जिन्दगी का एक हिस्सा बन गई है, ऐ खुदा ऐ जिंदगी देने वाले, कुछ तो रहम करो तुम्हारे इंसान पर वर्ना तुम्हारा नाम बदनाम हो सकता है अगर इंसान ने एक छोटे से कीड़े के सामने घुटने टेक दिए तो।

अनु- छवि शर्मा

SHARE

Mayapuri