सोनी राजदान बोलीं- नेपोटिज्म पर बोलने वाले अपने बच्चों को इंडस्ट्री में आने से रोक देंगे ?

1 min


सोनी राजदान नेपोटिज्म

सोनी राजदान ने नेपोटिज्म पर दी अपनी प्रतिक्रिया

सुशांत सिंह राजपूत की आत्महत्या के बाद बॉलीवुड में नेपोटिज्म को लेकर बहस बढ़ती ही जा रही है। फिल्म निर्देशक हंसल मेहता के बाद अब बॉलीवुड एक्टर आलिया भट्ट की मां सोनी राजदान ने नेपोटिज्म पर अपनी प्रतिक्रिया दी है। सोनी राजदान ने ट्वीट करके पूछा, कि वो लोग जो नेपोटिज्म को लेकर हल्ला मचा रहे हैं, वो अपने बच्चों का सपोर्ट करेंगे अगर उनके खुद के बच्चे इंडस्ट्री में काम करना चाहेंगे।

मेरिट सबसे ज्यादा देखी जाती है

हाल ही में हंसल मेहता ने ट्वीट कर लिखा था, कि नेपोटिज्म की इस बहस को और ज्यादा व्यापक होना चाहिए। मेरिट सबसे ज्यादा देखी जाती है। मेरे बेटे को दरवाजे के भीतर कदम रखने दिया गया मेरी वजह से। और क्यों नहीं। लेकिन वो सर्वश्रेष्ठ काम का अहम हिस्सा रहा है क्योंकि वो टैलेंटेड है, डिसिप्लिन है, मेहनती है और उसमें भी मुझे जैसे गुण हैं। इसलिए नहीं कि वो मेरा बेटा है।

हंसल मेहता ने आगे लिखा, “वो फिल्में इसलिए नहीं बनाएगा, क्योंकि मैं उन्हें प्रोड्यूस करूंगा। बल्कि इसलिए बनाएगा क्योंकि वो उन्हें डिजर्व करता है। वो अपना करियर सिर्फ तब बना पाएगा अगर वो सर्वाइव कर सकेगा। अंततः वो खुद अपना करियर बनाने वाला है न कि उसके पिता। मेरी छाया उसका सबसे बड़ा फायदा हो सकती है तो सबसे बड़ा नुकसान भी।”

इसके बाद हंसल मेहता के ट्वीट्स पर रिप्लाई करते हुए सोनी राजदान ने लिखा, “आप किसके बेटे या बेटी हैं इसके चलते लोगों को उम्मीदें और ज्यादा बढ़ जाती हैं। साथ ही जो लोग नेपोटिज्म को लेकर हल्ला मचा रहे हैं वही अपने खुद के बच्चों को सपोर्ट करेंगे अगर वे इंडस्ट्री में आना चाहेंगे तो। और क्या होगा अगर वो खुद इंडस्ट्री ज्वॉइन करना चाहेंगे तो? क्या वे उन्हें ऐसा करने से रोक देंगे?”

ये भी पढ़ेंशेखर सुमन ने सुशांत सिंह राजपूत के लिए कहा- उसने सुसाइड नोट जरूर छोड़ा होगा


Like it? Share with your friends!

Sangya Singh

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये