INTERVIEW: ‘मैं कोर्ट मैरिज करुँगी !!’ आलिया भट्ट

1 min


लिपिका वर्मा

आलिया भट्ट सही मायने में  एक छोटी बच्ची  की तरह है किन्तु समझदार भी। हाल ही में जब हम, ‘बद्रीनाथ की दुल्हनिया’ के लिए उनसे बातचीत करने पहुंचे तो कमरे में घुसते  ही वह बोली-, ‘‘क्यों आप लोग चुप क्यों हो ? हमने अलिया को बताया कि- उनके आने से पहले हम लोग यही  बात कर रहे थे कि-एक जाने माने अभिनेता के सुपत्र अपनी टांग  टेबल पर रख कर सब सीनियर  पत्रकारों से बात कर रहे थे ? आलिया ने स्माइल करते हुआ पूछा वह कौन है ? लेकिन कुछ देर बाद ही खुद बोली मै समझ गई।’’तो पेश है आलिया के साथ लिपिका वर्मा की बातचीत के कुछ अंश –

एट्टीटूड के बारे में आपका क्या मानना  है?

देखिये।, मैं ना कोई, ‘परियों के देश से यहाँ आयी हूँ.’ मैं  एक आम नागरिक ही हूँ। और फिल्मी  पर्दे से बाहर मैं  एक साधारण  लड़की की तरह ही रहती हूँ। यह भी सही है कि बहुत सारे अभिनेता एवं अभिनेत्रियां अपने आप की सफलता से  गुरुर महसूस करने लगते हैं। मेरा यह मानना है – आप यदि सीनियर भी है या जूनियर – आप को दूसरों की इज्जत करनी आना चाहिए। दूसरों की इज्जत करने से आपको वापस वही इज्जत मिलती है। आप में कोई गुरुर नहीं होना चाहिए। और यदि आप में सफलता का एट्टीटूड आ जाये तो फिर आप का डऊनफॉल भी निश्चित होता है।

 ‘बद्रीनाथ की दुल्हनिया’ के लिए आप छोटे शहर  में शूट करने गयी। वहां की लड़कियों के बारे में क्या सबसे ज्यादा पसन्द आया आपको?

मुझे उनके अंदर जो ‘शर्म’ दिखाई दी वह काबिले तारीफ है। शर्म से मेरा मतलब है कि -जब कभी भी वह किसी  से बात करती है तो शर्म -हया  उनमें कूट कूट कर दिखाई देती थी। और ऐसा नहीं है सब लड़कियों छोटे शहर वाली जो है -उनमें ढेर सारी एनर्जी भी दिखाई दी मुझे। चाहे फिर हमारी बस सुबह 8 बजे या फिर रात  के 8 बजे उनके कॉलेज से गुजरे -उनकी वह दमदार आवाज हमें वैसे ही सुनने को मिलती।varun-alia

 खैर आप पहली बारी कब शरमाई? और आपका कैसा अनुभव रहा?

मुझे आज भी याद है, शायद मेरा तीसरा जन्मदिन होगा होम वीडियो देख रहे थे मैं  और पापा। जुगल हंसराज भी हमारे घर आये हुए थे। फिल्म ‘पापा  कहते हैं’ कर  रहे थे मेरे डैड महेश भट्ट , डैड  ने मुझ से पूछा कौन-सा गाना सुनना चाहती हो जुगल से ? मैं शर्म के मारे कुछ नहीं बोल पाई। और उस फिल्म का गाना जब जुगल ने गया , ‘‘घर से निकल कर कुछ दूर चल कर’’ तो मैं शरमा गयी और पर्दे के पीछे छुप गयी। आज भी यह वीडियो देखती हूँ तो शरमा जाती हूँ।

 महेश भट्ट के साथ कब काम कर रही है आप?

दरअसल मैं तन-मन से पापा के साथ काम करना चाहती हूँ। लेकिन मैं भी कुछ फिल्मों में व्यस्त हूँ और निर्देशक  मोहित भी, ‘हाफ गर्ल फ्रेंड’ कर रहे हैं। पापा भी, ‘बेगम जान’ में बिजी है। हम जरूर साथ फिल्में करेंगे लेकिन अभी कुछ समय और लगेगा।aliamahesh

पापा -मम्मी बतौर  अभिनेत्री आपको क्या सलाह देते हैं?

– आज कल तो मैं पापा के साथ फिल्मों एवं अन्य बातों के बारे में काफी डिस्कस करती हूँ। वैसे  वह लोग खुश होते  हैं जब कोई उन्हें यह कहता है, ‘‘यह आलिया के पापा मम्मी हैं। मेरे नाम से जाने जाते हैं इस में उन्हें कोई एतराज नहीं होता है अपितु खुशी ही मिलती है।’’

कैसा महसूस होगा आपको यदि इस साल, ‘नेशनल अवॉर्ड’ आपकी झोली में आ जाए?

बाप रे !! मैं इस बारे में सोच भी नहीं सकती हूँ केवल 4/5 फिल्में ही की हैं। क्या बोलूं। होप भी नहीं कर सकती हूँ लेकिन यह जरूर फील करती हूँ जो कुछ होना है वह अटल है।

करण जौहर की बुक आपने पढ़ी है क्या आप कभी अपनी जीवनी ऑटोबायोग्राफी, लिखेंगी?

मैं अच्छा लिख नहीं सकती हूँ किन्तु हाँ मैं अच्छा सोच लेती हूँ। यह प्रस्ताव मुझे और किसी ने भी दिया है। पता नहीं मैं क्या लिखूं ? सही  मायने में अभी तो बहुत कुछ करना है मुझे।alia bhatt_karan johar

करण जौहर की किताब में अभी तक जितना पढ़ा है कि आपके दिल को छुआ है ?

यही सोचती हूँ कि करण जौहर के पास कितना अनुभव है। और हाँ  वह एपिसोड जब यश जी, ‘डुप्लीकेट’ फिल्म बना रहे थे और उसके बाद जो उन्हें जो नुकसान  हुआ, उसे पढ़ कर यह एहसास हुआ कि -कुछ भी हो सकता है? लेकिन क्योंकि यह लोग इंडस्ट्री के हैं और फिल्में दिल से बनाते हैं सो वापस किस तरह काम करके ऊपर आये  इससे मुझे एक बड़ी सीख मिलती है। कुछ भी  करो और सही करो तो सफलता आपके कदम चूमती है। मुझे मालूम है पिछले कुछ वषो में फाईनांसर्स लोग सड़क पर आ गए फिल्में फ्लॉप होने की वजह से। मगर फिल्म बनाना नहीं छोड़ा उन्होंने। यही  है बस जो भी काम करो सिन्सियरली  करो और किसी  भी चीज का घमंड न करें।

आप गोलमॉल फिल्म कर रही है या छोड़ दी है ऐसी खबरे पढ़ने में आयी थी?

मैंने गोलमाल फिल्म साइन ही नहीं कि तो छोड़ने का सवाल ही नहीं होता। हाँ में निर्देशक रोहित शेट्टी के साथ काम करना चाहूँगी  क्यंकि कॉमेडी करना मुझे अच्छा लगता है। और रोहित कॉमेडी फिल्म बनाने में माहिर हैं।alia-bhatt

कई मर्तबा दुल्हनिया बन चुकी आलिया किस तरह की शादी करना पसन्द करेंगी?

जी हाँ! मुझे हो -हल्ला नहीं पसन्द है, सो मैं कोर्ट मैरिज ही करना पसन्द करुँगी। और उसके बाद एक छोटी सी शांत पार्टी दे दूंगी सबको। पर अभी शादी कब होगी यह बहुत बड़ा सवाल है ? पर हाँ मुझे शादी कर अपना परिवार भी चाहिए है। सो शादी तो जरूर करुँगी अभी समय है लेकिन.?? फिलहाल तो मुझे अच्छे किरदार निभाने हैं। और मुझे दिल से एक बढि़या सी एक्शन फिल्म करनी है। कोई बेहतरीन एक्शन किरदार मिले तो लगेगा जैसे मेरी दिली ख्वाईश पूरी हो गयी।


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये