INTERVIEW: मन का हो तो अच्छा,मन का न हो तो और भी अच्छा – अमित साध

1 min


0

बेशक अमित साध ने अपने कॅरियर की शुरूआत  फूंक 2 तथा मैक्सिमम आदि फिल्मों से की थी, लेकिन उसे पहचान हासिल हुई फिल्म ‘काय पोचे’ से। उसके बाद अमित गुड्ड रंगीला,अकीरा तथा सुल्तान आदि फिल्मों में नजर आया । इसी सप्ताह  रिलीज फिल्म ‘शादी रनिंग डॉट कॉम’ में अमित तापसी पन्नू के साथ नजर आने वाला  है । फिल्म के अलावा कुछ अन्य सालों को लेकर उस से एक बातचीत ।

शादी रनिंग डॉट कॉम अंतता रिलीज होने जा रही है। फिल्म को लेकर कितनी एक्साइटमेन्ट है ?

एक्साइटमेन्ट इतनी ज्यादा है कि टेंशन का तो ध्यान ही नहीं  रहा। वैसे भी मैं लाइफ में टेंशन को लेकर जीना पंसद नहीं करता । फिल्म पिछले साल रिलीज होने वाली थी लेकिन उस दौरान उसे अच्छी डेट नहीं मिली, अच्छी रिलीज नहीं मिल पायी। मुझे लगता है कि हर फिल्म की एक कहानी होती है अपनी किस्मत होती है,  खुद आपकी एक किस्मत होती है। इसलिये मैने हरिवंश राय बच्चन की कविता की एक लाइन पर जैसे सिद्धी प्राप्त कर ली  है कि ‘मन का हो तो अच्छा, मन का न हो तो  और भी अच्छा’।  वैसे मैं फिल्म कर रिलीज को लेकर खुश हूं।amit saad, tapsi pannu

इन दिनों फिल्म के कुछ गाने खासे लोकप्रिय हो रहे हैं?

जी हां । सबसे पहले तो फिल्म का ट्रेलर बहुत पंसद आ रहा है । इसके अलावा गानों की बात की जाये तो ‘डिंपी दे नाल’ और भप्पी लहरी का गीत ‘प्यार का टेस्ट’ भी खासा पंसद किया जा रहा है ।

फिल्म की कामयाबी या नाकामयाबी आपके लिये कितनी मायने रखती है ?

अगर आप यहां भी प्रेशर की बात कर रहे हैं तो मैं बता दूं कि प्रेशर सिर्फ प्रेशर कुकर में होता है । वरना जो लोग फालतू के प्रेशर का दिखावा करते हैं वे अपने आपको इंर्पोटेंस देने की कोशिश करते हैं । हां अगर आप आमिर खान हैं शाहरूख खान हैं या सलमान खान हैं तो  आपके द्धारा प्रेशर लेने का रीजन बनता है, कल मैं अगर वहां पहुंच गया तो मेरा भी यही हाल होगा । वरना मैं तो अभी नर्सरी का बच्चा हूं जो पास हो गया तो अच्छा, नही हुआ तो भी अच्छा । वैसे मुझे उम्मीद जरूर है कि फिल्म दर्शकों को अच्छी लगेगी ।tapsi amit 2

 ‘काय पोचे’ के बाद सुषांत सिंह राजपूत या राज कुमार राव से रफ्तार में आप पीछे रह गये, क्यों ?

इस बारे में आपको एक किस्सा बताता हूं । फिल्म से पहले फिल्म के निर्देशक अभिषेक कपूर जो मेरा बहुत अच्छा दोस्त है- ने फिल्म की रिलीज से दो दिन पहले कहा कि तेरी भी उतनी ही फिल्म है इसलिये नर्वस मत होना । मैने उससे कहा कि मैं जरा भी नर्वस नहीं हूं मुझे आप पर पूरा भरोसा है और वैसे भी मैं बहुत प्यौर इन्सान हूं। गलती करता हूं बावजूद इसके प्यौर बहुत हूं । खैर आगे अभिशेक का कहना था, एक और बात, कि फिल्म की रिलीज के अगले छह महीने तक तुझे कोई नहीं बुलायेगा । इसके बाद उसने ड्रामेटिक लहजे में कहा, लेकिन बाबू  छह महीने बाद तुझे लोग ढूंढ ढूंढ कर अपनी फिल्म में कास्ट करेगें । बाद में ऐसा ही हुआ ।

यहां तक पहुंचने के बाद अपने आप में कितना बदलाव महसूस किया ?

सुल्तान के बाद लोगों के व्यावहार में बदलाव देखने को मिला । मुझे लगा कि लोग भी चाहते थे कि उनकी तरह मैं भी अपने आपको बदलूं, लेकिन इस बारे में मैं भी ढीट हूं । दरअसल मैं जैसा हूं वैसा ही बने रहना चाहता हूं।  षायद इसीलिये आज मेरे पास काम है, पूरा साल मैं बिजी हूं  और ऐसा में घमंड से नहीं गर्व से कह रहा हूं ।amit tapsi

साल की बात की जाये तो इस साल क्या क्या हो रहा है ?

इस साल मेरी चार फिल्में रिलीज होगीं ।  ‘रनिंग शादी डॉट कॉम’ तो रिलीज हो रही है  इसके बाद ‘सरकार 3’ मार्च में रिलीज होगी, फिर तिग्मांशू धूलिया की ‘यारां’ है,इसके बाद ‘राग देश’ जो आर्मी बेस्ड है ।

रनिंग…. में आपकी क्या भूमिका है ?

इस फिल्म में मेरे किरदार का नाम रामभरोसे पांडे है जो बिहार से पंजाब काम की तलाश में पंजाब आया था । अब वो एक लहंगे  की दुकान में काम करता है । फिल्म बेसिकली तीन किरदारों की कहानी है एक रामभरोसे पांडे जो मैं कर हा हूं, तापसी पन्नू निम्मी के किरदार में  है तथा एक नया लड़का है अर्श जो फिल्म में साइबरजीत के किरदार में है जो एक कंप्यूटर विजर्ट है । ये तीनो अलग टाइप के प्यारे से भोले से इमिचौर कॅरक्टर्स हैं । जैसा कि फिल्म का नाम है शादी रनिंग…. जंहा भाग भाग कर षादी करवायी जाती है, इसके बीच में एक लव स्टोरी भी है तथा पंजाब का माहौल है, वो एक अलग फ्लेवर है ।


Mayapuri