अमित शाह ने कांग्रेस पर साधा निशाना, कहा- नेहरू न करते युद्धविराम तो नहीं होता POK का अस्तित्व

1 min


महाराष्ट्र में विधानसभा चुनावों की तारीख घोषित होते ही रविवार को चुनावी बिगुल फूंकते हुए केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने कहा, कि जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने पर पूरा देश खुश है। यह हर्ष का विषय है कि महाराष्ट्र चुनाव का श्रीगणेश अनुच्छेद 370 को हटाने के परिचय के कार्यक्रम से हो रहा है।

Amit shah

शाह ने कहा, कि महाराष्ट्र में एनडीए की सरकार बनना तय है। देवेंद्र फडनवीस एक बार फिर से महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री बनेंगे। पिछले दो-तीन दिन से कांग्रेस और एनसीपी वाले कहते हैं कि ये नहीं हुआ तो जीत जाएंगे, वो नहीं हुआ तो जीत जाएंगे। मैं कहना चाहता हूं कि कुछ भी हो जाए महाराष्ट्र में एनडीए की सरकार तीन चौथाई बहुमत के साथ बनाना तय है।

Amit shah

अमित शाह ने कहा, कि जब मेरा कार्यक्रम तय हुआ तो, उस समय न मुझे मालूम था और न ही पार्टी को कि जब ये कार्यक्रम होगा तो महाराष्ट्र चुनाव की घोषणा के बाद होने वाला सबसे पहला कार्यक्रम होगा। उन्होंने कहा, कि जनसंघ और भाजपा ने हमेशा अनुच्छेद 370 और धारा 35 ए के खिलाफ आवाज उठाई है। हम अनुच्छेद 370 और 35A के खिलाफ समर्पित योद्धा हैं।

Amit shah

उन्होंने कहा, कि अनुच्छेद 370 ही था, जिसके कारण हर भारतीय को यह बोलना पड़ता है कि कश्मीर भारत का अभिन्न हिस्सा है। आज पीएम मोदी के नेतृत्व में जम्मू कश्मीर भारत का अभिन्न हिस्सा बन चुका है। शाह ने कहा कि आजादी के समय रियासतें भारत में शामिल हो रही थी। सरदार पटेल पर जिन रियासतों की जिम्मेदारी थी, सारी अखंड भारत का हिस्सा बनीं। जम्मू कश्मीर की जिम्मेदारी पंडित नेहरू पर थी और उनकी वजह से वहां अनुच्छेद 370 लागू करना पड़ा।

Amit shah

आगे उन्होंने कहा कि पाकिस्तानियों ने कबीलों के रूप में हमला किया। युद्ध हुआ और पंडित नेहरू के कारण युद्धविराम करना पड़ा। न युद्धविराम होता और न ही पीओके होता।

Amit shah

➡ मायापुरी की लेटेस्ट ख़बरों को इंग्लिश में पढ़ने के लिए www.bollyy.com पर क्लिक करें.
➡ अगर आप विडियो देखना ज्यादा पसंद करते हैं तो आप हमारे यूट्यूब चैनल Mayapuri Cut पर जा सकते हैं.
➡ आप हमसे जुड़ने के लिए हमारे पेज FacebookTwitter और Instagram पर जा सकते हैं.

SHARE

Mayapuri