अमिताभ बच्चन ने मध्य प्रदेश के वासियों से पूछा, काय का हो रओ

1 min


अमिताभ बच्चन
अमिताभ बच्चन, सदी के महानायक जब भी कुछ बोलते हैं तो वो एक चर्चे का विषय बन जाता है। लोग अमिताभ बच्चन से इतना प्यार करते हैं कि उनके द्वारा बोली गई बातों का अनुसरण भी करते हैं। जब अमिताभ कोई क्षेत्रीय भाषा बोलते हैं तो उस क्षेत्र के लोग गदगद हो जाते हैं और ऐसा ही कुछ वाक्या हुआ  केबीसी में ।
केबीसी के एक एपिसोड में मध्यप्रदेश की प्रतिभागी  खुशबू तिवारी  हॉट सीट पर आईं थी। उन्होंने जब अपने रिश्तेदारों से बुंदेलखंडी भाषा में बात की तो अमिताभ बच्चन ने जिज्ञासा पूर्वक उनसे इस भाषा के बारे में पूछा और उनसे बुंदेलखंडी में एक लाइन ‘ काय का हो रओ” सीख कर बोला भी। बस फिर क्या अपने चहेते स्टार के मुख से अपनी भाषा में एक लाइन सुनकर मध्य प्रदेश के सभी निवासी काफी प्रफुल्लित हो गये।

बॉलीवुड के स्टार्स भी हैं खुश

मध्य प्रदेश के बहुत से स्टार्स जो बॉलीवुड में हैं जैसे मुकेश तिवारी, आशुतोष राणा,गोविंद नामदेव आदि ने भी अमिताभ बच्चन द्वारा बुंदेलखंडी भाषा बोलने पर अपनी खुशी जाहिर की है ।
मुकेश तिवारी ने कहा कि, ‘केबीसी में महानायक अमिताभ बच्चन के मुंह से बुंदेलखंडी भाषा सुनना बुंदेली के लिए सम्मान की बात है। ‘ वही आशुतोष राणा ने कहा, अमिताभ बच्चन के मुंह से बुंदेली सुनना एक अलग अनुभव था।’
गोविंद नामदेव ने भी कहा कि, ‘अमिताभ जी द्वारा केबीसी में बुंदेली को इस तरह प्रमोट करना बहुत सुखद है। अमिताभ बच्चन ने 7 फरवरी को गोविंद नामदेव द्वारा रचित बुंदेली नाट्यपुस्तिका ‘मधुकर शाह’ का विमोचन भी किया था।
अब तो अंग्रेजी के गुलाम लोग भी हेलो, हाय, हाउ आर यू की जगह ‘काय का हो रओ बोलने लगेंगे’।

 

➡ मायापुरी की लेटेस्ट ख़बरों को इंग्लिश में पढ़ने के लिए www.bollyy.com पर क्लिक करें.
➡ अगर आप विडियो देखना ज्यादा पसंद करते हैं तो आप हमारे यूट्यूब चैनल Mayapuri Cut पर जा सकते हैं.
➡ आप हमसे जुड़ने के लिए हमारे पेज FacebookTwitter और Instagram पर जा सकते हैं.