विश्व की अनोखी कलाकार थीं अमृता शेरगिल, क़रीब 11 करोड़ में बिकी थी ये पेंटिंग

1 min


Amrita Shergill

पहली भारतीय महिला चित्रकार अमृता शेरगिल, पंजाबी पिता और हंगेरियन मां से 30 जनवरी 1913 में बुडापेस्ट ,(हंगरी) में जन्म हुआ था । पश्चिम के कला इतिहासकारों ने आधुनिक कला इतिहास में किसी महिला कलाकार का भले ही जिक्र नहीं किया हो मगर भारतीय कला इतिहास के सम्मानित कलाकारों में आपका नाम शीर्ष पर है। आज आपकी कलाकृतियां भारतीय आधुनिक कलाकारों में सबसे महंगी है।

देश के सभी चर्चित राजनेता और पत्रकार अमृता शेरगिल का सम्मान करते थे

मात्र 28 वर्ष की अल्पायु में दिनांक 05 दिसंबर 1941 को लाहौर (पाकिस्तान) में आपका निधन हो गया था। आप अपने सृजन और कला के बलबूते भारतीय कला इतिहास में अमर हो गयी। अमृता सचमुच कला के लिए ही बनी थी। दो संस्कृतियों के मेल का असर उसके व्यक्तित्व और जीवन पर स्पष्ट देखा जा सकता था जिनमे उन्मुक्तता और विद्रोही स्वभाव के बारे में सभी कलाकार जानते है।

amrita shergill आज भी जीवन और कला के बीच संतुलन बनाना हर सच्चे कलाकार के लिए चुनौतीपूर्ण होता है। देश के सभी चर्चित राजनेता और पत्रकार इनका सम्मान करते थे मगर कुछ लोग इन्हें बोल्ड और ब्यूटीफुल कलाकार भी मानते थे जबकि एक से बढ़कर एक संवेदनशील चित्रों को इन्होने बनाया। आप अपने समय की सबसे चर्चित कलाकार थी। पेरिस में कला का अध्ययन के समय उन्हें उस काल के आधुनिक कला के दिग्गजों का काम करीब से देखने और समझने का मौका मिला। जिनमे विन्सेन्ट वान गाग, पॉल सेज़ान, पॉल गाउगिन, हेनरी मातिस , पाब्लो पिकासो, जॉर्ज ब्रॉक आदि नाम प्रमुख हैं।

amrita shergillआपकी कलाकृतियों में रंग योजना की आज के कलाकार तारीफ करते नहीं थकते हैं। पश्चिम में कला अध्यन के वावजूद जिस दौर में भारतीय कलाकारों में पूर्व और पश्चिम की कला के प्रति आकर्षण देखा गया उस समय आप अपनी भारतीय कला और संस्कृति ने आकर्षित किया और ये भारत लौट आयी। ज्यादातर भारतीय स्त्रियों के जीवन को इन्होने करीब से देखा और चित्रित भी किया। आज की भारतीय नारीवादी कला की कड़ी के रूप में हम अमृता शेरगिल को याद कर सकते हैं जिन्होंने भारतीय नारी को विविध आयाम दिए।

इनकी एक पेंटिंग, जो इनके पति की पेंटिंग थी; आस्था गुरु की मॉडर्न आर्ट ऑनलाइन ऑक्शन में 10 करोड़ 89 लाख रुपए में बिकी थी।

SHARE

Mayapuri