बच्चों में हमदर्दी के प्रसार के उद्देश्य से गली गली सिम सिम के नए सीजन का दूरदर्शन पर प्रसारण शुरू

1 min


सीजन 9 में दिखेगी ज्यादा मस्ती, हंसी और उत्साह  बच्चों में हमदर्दी और सहानुभूति के संदेश का प्रसार करेंगे एल्मो, चमकी, ग्रोवर और अन्य मपेट्स

3 अगस्त 2017-अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सराही गई टीवी सीरीज-सेस्मे स्ट्रीट के भारतीय संस्करण और लोकप्रिय भारतीय कार्यक्रम ‘गली गली सिम सिम’ के नए सीजन की दूरदर्शन पर शुरुआत की गई। इस सीजन में ‘गली’ के मित्र हमदर्दी के बारे में समझाने और अभ्यास कराने के लक्ष्य से युवा दर्शकों को जीवन का अहम संदेश देंगे। यह कार्यक्रम हर शनिवार को सुबह 10.30 बजे दूरदर्शन पर प्रसारित होता है। गली के मपेट्स को लेकर लोगों में खासा उत्साह है, जो गीतों की धुन पर नृत्य करते हैं, नए दोस्त बनाते हैं, उनकी शब्दावली में नए शब्द जोड़ते हैं और उन्हें दयालु होने के बारे में सिखाते हैं।

सहानुभूति और हमदर्दी अहम मूल्य हैं, जिन्हें भारतीय बच्चों के लिए स्वीकार करने व उनकी सराहना करने की और दूसरों के दर्द व समस्याओं के प्रति ज्यादा संवेदनशील होने की जरूरत है। कई अध्ययनों से पता चला है कि सामाजिक हित से जुड़े दयालुता जैसे व्यवहारों को बच्चों की शैक्षणिक सफलता के साथ जोड़ा गया है, क्योंकि इनसे बच्चों के भावनात्मक नियंत्रण और ध्यान देने की क्षमता जैसे आत्म-नियंत्रण कौशल बढ़ते हैं, जिससे उनकी सीखने, ध्यान देने और याद करने की क्षमताओं पर असर पड़ता है।

जब बच्चे अपनी भावनाओं पर नियंत्रण करना सीखते हैं और आत्म नियंत्रण को विकसित करते हैं तो वे अपने और दूसरों के प्रति ज्यादा जागरूक होते हैं, दूसरों के विचारों को समझते हैं और उचित प्रतिक्रिया देते हैं। यही वजह है कि इस सीजन में विश्व प्रसिद्ध कुकी मॉन्स्टर को ‘गली’ में लाया गया है, जो युवा दर्शकों को बताएंगे कि कैसे कोई आत्म नियंत्रण के माध्यम से खुद और दूसरों के प्रति हमदर्द हो सकता है।

दयालुता के कौशल को विकसित करने के लिए बच्चे वयस्कों और अपने रोल मॉडल्स के व्यवहार को ध्यान से देखते हैं, जिससे वे दयालु और आदरकारी होने का मतलब समझते हैं। गली गली सिम सिम और उसके विभिन्न मपेट्स इसमें अहम भूमिका निभाते हैं। हमदर्दी का प्रसार सम्पूर्ण सीजन में किया जाएगा, जहाँ पात्रों की मस्ती के माध्यम से ‘धन्यवाद’, ‘माफ कीजिए’, ‘कृप्या’ जैसे शब्द बच्चों को सिखाये जाएंगी और दर्शकों को समावेशन, सम्मान, सहानुभूति और उदारता के मूल्यों के बारे में शिक्षित किया जाएगा।

सीजन में एक नए सेग्मेंट को पेश किया गया है, जहां बर्ट और एर्नी दर्शकों को परीकथाओं की दुनिया में ले जाते हैं, जहां वे स्लीपिंग ब्यूटी, लिटिल रेड राइडिंग हुड, स्नो व्हाइट, ब्यूटी एण्ड द बीस्ट व कई अन्य प्रसिद्ध कहानियों के पात्रों को अभिनय करते हुए देखते हैं। जब बच्चे इस काल्पनिक दुनिया में आते हैं, उन्हें सहयोगी और समस्या का समाधान निकालने का कौशल विकसित करने में मदद मिलती है। इस सीजन दर्शक दोस्ती पर आधारित एक नया सेगमेंट देखेंगे जो पात्रों की दोस्ती के ज़रिए बच्चों की हमदर्दी सिखाएगा। कार्यक्रम के ये सभी सेग्मेंट्स युवा दर्शकों में दयालुता, देखभाल, साझेदारी और सहयोग के मूल्यों पर जोर देते हैं।

Launch of Galli Galli Sim Sim Season 9

सीजन 9 के लॉन्च के मौके पर सेस्मे वर्कशॉप इंडिया का प्रबंध निदेशक शाश्वती बैनर्जी ने कहा, ‘‘दुनिया भर में हुए कई अध्ययनों से इस बात की पुष्टि होती है कि शुरुआती वर्षों में बताई जाने वाली बातों का बच्चों पर जीवन भर असर रहता है। दुर्भाग्य से आज के बच्चे उम्र की तुलना में अनुचित कंटेंट देखते हुए बड़े हो रहे हैं, जो हिंसा और कट्टरपंथ से जुड़े होते हैं और इसका उनके सोचने की प्रक्रिया पर असर पड़ता है। उन्हें ऐसे कंटेंट से रूबरू कराना अहम है, जिससे उन्हें दूसरों के विचारों को समझने और उन्हें सम्मान देने, कट्टरपंथ को चुनौती देने, सहानुभूति विकसित करने में मदद मिले और जो उन्हें समझदार, शक्तिशाली और दयालु बनाने में सहयोगी हो।’’

दूरदर्शन की महानिदेशक सुप्रिया साहू कहती हैं, ‘‘सार्वजनिक प्रसारक होने के नाते हम हमेशा ही अपने विविध और बड़ी संख्या में मौजूद दर्शकों को व्यापक कंटेंट देना चाहते हैं। गली गली सिम सिम बच्चों को जीवन के महत्वपूर्ण कौशल जैसे स्वास्थ्य और स्वच्छता, जैसी सामाजिक व्यवहार और अन्य कौशल के बारे में सिखाता है। हम बच्चों को गुणवत्ता पूर्ण, उम्र के अनुरूप कंटेंट देने के लिए गली गली सिम सिम के साथ बीते कई सालों की साझेदारी को आगे बढ़ाकर काफी खुश हैं।’’

गली गली सिम सिम के लिए फंडिंग करने वाले संगठन चिल्ड्रंस इन्वेस्टमेंट फंड फाउंडेशन के भारत के हेड हीशम मंडोल ने कहा, ‘‘गली गली सिम सिम एक शानदार कार्यक्रम है, जिससे बच्चों को मस्ती के साथ सीखने की प्रक्रिया में सुधार और व्यक्तित्व विकास में मदद मिलती है। यह देश में हर अभिभावक और शिक्षक का सच्चा साथी है। इस सीजन में हमदर्दी विकसित करने के ज्यादा बड़े सामाजिक मुद्दे का हल निकाला जाएगा और हमें इस प्रयास में सेस्मे वर्कशॉप इंडिया के साथ साझेदार बनने पर गर्व है। साथ ही हम सहयोग के लिए दूरदर्शन के भी आभारी हैं।’’

गली गली सिम सिम के सीजन 9 हर तरह की मस्ती, मजाक और जोश के साथ बच्चों में भाषा और समझने की रणनीति के कौशल विकसित करने, हमदर्दी व सहानुभूति विकसित करने के अभ्यास में मदद करता है। 14  करोड़ दर्शकख्1, गली गली सिम सिम को दूरदर्शन के नेटवर्क के चौनलों-डीडी नेशनल, डीडी राजस्थान, डीडी उत्तर प्रदेश, डीडी बिहार, डीडी मध्य प्रदेश, डीडी सह्याद्री और डीडी गिरनार पर देखते हैं।


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये