कभी न कभी अनिल कपूर करेंगे पूरी अपनी सेकंड हॉबी

1 min


anil-kapoor.gif?fit=650%2C450&ssl=1

वैसे तो आजकल सभी बॉलीवुड के कलाकार एक्टिंग के साथ साथ गानें भी गाते रहतें है, यानी वो एक्टर भी गाते हैं जिनकी आवाज अच्छी है और वो एक्टर भी गाते हैं जो बहुत बेसुरे भी हैं, क्योंकि आज के जमाने में रिकॉर्डिंग के ऐसे ऐसे मशीन और टेक्निक बन गये हैं जो बेसुरे आवाज़ और बेसुरे सुर को भी दुरुस्त कर देते हैं और आम लोगोँ को लगता है कि फलां हीरो या हीरोइन की आवाज बड़ी अच्छी है, लेकिन आपको बता दूँ कि कई ऐसे कलाकार भी हैं जिनकी आवाज वाकई अच्छी है जैसे हमारे हर दिल अजीज, सुपर स्टार अनिल कपूर एक जमाने में उन्होंने अपनी पहली ही फ़िल्म, “वो सात दिन’ के लिये हिट गाना गाया था (प्यार किया नही जाता) और फ़िल्म ‘हमारा दिल आपके पास है (आई लव यू) के लिये भी गाया था। उनसे जब पूछा कि आप तो इतने अच्छा गाते हैं तो अपनी फिल्मों में गाना क्यो छोड़ दिया, जबकि कई बेसुरे कलाकार लगातार गाते जा रहे हैं? इस पर मुस्कुराते हुए अनिल बोले, “हाँ, मैंने सेमी क्लासिकल म्यूज़िक, बाकायदा म्यूज़िक डायरेक्टर छोटे इक़बाल से सीखी थी, लेकिन फिल्मों मे बेइंतिहा बिज़ी होने के कारण गीत संगीत छूट गया और मै उनमें से नही हूँ जो इंस्ट्रूमेंट के जरिये अपने गानों को मशीनी तरीके से दुरुस्त करवाने का शौक रखते हैं। मुझे विश्वास है कि अगर मैं फिर से रियाज़ शुरू कर दूँ तो फिर अच्छा गा सकता हूँ।” तो देर किस बात की ? “इस पर अनिल बोले, “अभी भी इतना व्यस्त हूँ कि अपने इस सेकंड हॉबी के लिये वक्त नहीं है। पर आगे चलकर जरूर इस बारे में कुछ सोचूंगा”।


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये