अंजलि तत्रारी और अविनेश रेखी की जोड़ी पहली बार जीटीवी के सीरियल ‘तेरे बिना जिया जाए ना’ में आएगी नजर

1 min


सीरियल “मेरे डैड की दुल्हन” फेम अंजलि तत्रारी की जोड़ी पहली बार “मधुबाला एक इष्क एक जुनून”फेम अभिनेता अविनाष रेखी के साथ जीटीवी पर अतिषीघ्र प्रसारित होने वाले सीरियल “तेरे बिना जिया न जाए” में नजर आने वाली है। इस सीरियल की कहानी इस कहावत पर आधारित है कि “जब आप किसी चीज को दिल से चाहते हैं, तो सारी कायनात उसे आपसे मिलाने में लग जाती है!”सीरियल “तेरे बिना जिया जाए ना ’कृषा चतुर्वेदी(अंजलि तत्रारी) नाम की एक लड़की की कहानी है,जिसने हमेशा एक राजकुमार के सपने देखे हैं और फिर यह होता है कि कायनात उसके सपने को सच कर देती है।

कृषा चतुर्वेदी (अंजलि तत्रारी )एक साधारण लड़की है, जिसके पास शायद ही कोई धन दौलत हो। जबकि कृषा चतुर्वेदी की दुनिया से अलग देवराज(अविनाष रेखी) का परिवार अब भी राजमहलों की शान में रहता है और परंपरा में यकीन रखता है। कृषा चतुर्वेदी अंबिकापुर के आकर्षक नजारों के बीच स्थित एक भव्य महल में आती है। उसे उम्मीद होती है कि वह अपनी जिंदगी के प्यार देवराज( अविनाष रेखी ) के साथ अपनी परियों वाली कहानी की शुरुआत करेगी। जहां वह शाही संस्कृति और राजसी तौर-तरीके अपनाने की कोशिश कर रही है, वहीं उसे देवराज की पत्नी और उसके प्यार के रूप में अपनी जगह बनानी होगी।

सीरियल “तेरे बिना जिया न जाए”के अपने किरदार कृषा चतुर्वेदी के संबंध में खुद अंजलि कहती हैं- “जैसे ही मैंने ‘तेरे बिना जिया जाए ना’ की मूल कहानी के बारे में सुना, तो मेेरा दिल ने इससे जुड़ने का मन बना लिया था। इसमें मेरा किरदार कृषा एक सीधी-सादी लड़की का है, जो एक ऐसे असाधारण सफर की कगार पर है,जिससे उसकी जिंदगी हमेशा के लिए बदलने वाली है। बहुत-सी लड़कियों की तरह वह भी एक ऐसे राजकुमार का सपने देखती है, जो उसका मन मोह ले और जिसके साथ वो खुशी-खुशी जिंदगी गुजारे। कभी-कभी जब आप किसी चीज को पूरे दिल से चाहो, तो यह कायनात उसे आपके सामने ला देती है… क्या होगा जब उसकी मुलाकात अपने इस प्रिंस चार्मिंग से होगी? उनका आगे का सफर कैसा होगा? यही इस कहानी का सार है। मुझे लगता है कि कृषा एक दमदार किरदार है,जिसमें कई तरह के शेड्स हैं। ‘तेरे बिना जिया जाए ना’ जैसे अनोखे शो में ऐसा खास लीड रोल मिलना ही इस रोल को करने की वजह थी। मैं कहना चाहूंगी कि मेरे किरदार में एक बड़ा दिलचस्प ट्विस्ट है, जो आप इस शो के आने के बाद देखेंगे और यह यकीनन दर्शकों को बांधे रखेगा। मुझे उम्मीद है कि मेरे सभी फैंस मुझे इस नए अवतार और नए किरदार में पसंद करेंगे और मुझ पर अपना प्यार बरसाते रहेंगे।”

उधर अविनेश रेखी ने कहा-“सीरियल ‘तेरे बिना जिया जाए ना’ को लेकर बेहद उत्साहित हूं, क्योंकि मुझे लगता है कि मैं अब तक जितने भी सीरियलों का हिस्सा रहा हूं, यह उन सभी से काफी अलग है। मैं इस सीरियल के जरिए पहली बार एक शाही किरदार निभाने जा रहा हूं और मैं उम्मीद करता हूं कि दर्शक मुझे इस शानो शौकत वाले अवतार में एंजॉय करेंगे। देवराज का किरदार निभाने के लिए मैंने शारीरिक रूप से खुद को बदला है और मेरा यह नया अवतार यकीनन दर्शकों के लिए एक ट्रीट साबित होगा। देवराज का अपना एक खास अंदाज है, लेकिन उसे कृषा के प्रति अपने प्यार और अपने शाही परिवार की जिम्मेदारी और कर्तव्यों के बीच संतुलन बनाना होगा, क्योंकि उनका परिवार परंपराओं को मानता है और कृषा राजघराने के तौर-तरीकों से अलग चलने की शुरुआत कर रही है। यह एक ऐसा शो है, जो आपको अलग-अलग तरह की भावनाओं का एहसास कराएगा। दर्शक इस सोच में पड़ जाएंगे की क्या कृषा और देवराज कभी खुशी-खुशी साथ रह पाएंगे?”

SHARE

Mayapuri