INTERVIEW: सुनील सीरियस किस्म के व्यक्ति है: अंजना सुखानी

1 min


लिपिका वर्मा

अंजना सुखानी के साथ लिपिका वर्मा की बातचीत के कुछ अंश पेश है –

अंजना सुखानी ने अमिताभ बच्चन के साथ, “कैडबरी चॉकलेट का जब एड किया तब सुनील ग्रोवर ने अंजना को उस एड के बारे में काफी ट्रैन किया था। “जी हाँ मुझे याद है उस एड के लिए मेरी बॉडी लैंगुएज  कैसी होने है ? मुझे क्या कुछ करना है ? यह सब ट्रेनिंग दी थी  सुनील ने मुझे। और आज उनकी पत्नी का रोल कर रही हूँ ,”कॉफ़ी विथ डी” में तो एक बहुत अच्छा फील हो रहा है।”

आप काफी बड़ी फिल्मों का हिस्सा रह चुकी है, गोलमाल‘, जय वीरू,’ ‘गोलमाल रिटर्न्स आदि -किन्तु अब आप हिंदी फिल्मों में नजर नहीं आ रही है कोई खास वजह ?

2016 मेरे लिए कुछ ख़ास नहीं रहा। कुछ पारिवारिक उलझनों की वजह से में व्यस्त रही। किन्तु इस बीच भी मैंने कई सारी भाषाओं में फ़िल्में भी की है । हाल ही में मेरी मराठी फिल्म ने बहुत अच्छा प्रदर्शन किया है। मेरी तेलुगु फिल्म रवि तेजा के अपोजिट टयटलेड, डॉन सीनू” ने भी साउथ में झंडे गड़े है। आशा है 2017 बहुत अच्छा जाने वाला है।anajana-shukhani

क्या कुछ अच्छा करने वाली है 2017 में?

फिलहाल ,ज्यादा कुछ नहीं बतला सकती हूँ। पर हाँ यह जरूर कहना चाहूंगी मैंने कुछ हिंदी फिल्मों को भी साइन किया है। 2017 में मेरी झोली में कई हिन्दी फ़िल्में आयी है और मैं बहुत खुश भी हूँ। जी हाँ, यह अच्छी फ़िल्में है बस फ़िलहाल इतना ही कहना चाहूंगी।  और साथ ही मैंने अन्य भाषाओं में -एक मराठी एवम तेलुगु फिल्म भी साईन की है।

कॉफ़ी विथ डी” फिल्म में सुनील ग्रोवर के साथ पति जैसी फीलिंग हुई क्या आपको?

सुनील ग्रोवर के साथ काम कर मुझे पति जैसी फीलिंग बिल्कुल भी नहीं हुई। और सही मायने में पूछे तो मैं एक क्रिमिनल जर्नलिस्ट का किरदार निभा रही हूँ। और इस वक़्त (रील) में प्रेग्नेंट हूँ। किन्तु इसके बावजूद भी मैं क्राइम में क्या कुछ हो रहा है इसका ट्रैक बनाये रखे हुए हूँ। बड़ी ही मजेदार फिल्म है। और हम दोनों अपने अपने काम में रहते है,सो  पति- पत्नी जैसा कुछ नहीं लगा मुझे। और वैसे भी सुनील सीरियस किस्म के व्यक्ति है। यदि आपने  नोट किया हो तो  वह गूथी और मशहूर गुलाटी (डॉक्टर) का किरदार बहुत ही सरल सीधा मुँह रख कर पेश करते है। यह मैंने जरूर आजमाया है कि -वह किसी  भी चरित्र को अपनी बॉडी लैंगुएज अलग सा दे बहुत बेहतरीन तौर से पेश कर देते है। और इस लिए उनका किरदार लोगो को मजेदार लगता है।trailer-launch

आपका फिल्मी बॉलीवुड  सफर बहुत तेजी से शुरू हुआ था किन्तु आगे ज्यादा कुछ नहीं चल पाया। बहुत चूसी है क्या आप ?

जी हाँ ! मैं ज्यादातर चूसी ही हूँ। किन्तु किरदार में कुछ तो होना चाहिए जिस की वजह से मैं फिल्म करने के लिए हामी भरूँ। कुछ फिल्मों की स्क्रिप्ट्स जरूर मेरे पास आई थी किन्तु कुछ बेहतरीन साउथ, पंजाबी एवम मराठी फिल्म के लिए मैंने हामी भर दी। और इस वजह से मैं व्यस्त रही। मुझे अलग अलग भाषाओं की फ़िल्में करने में कोई एतराज नहीं है।

आपने शुरआती दौर में यह कहा था कि -मैं स्क्रीन पर चुम्बन (किस) कभी नही करुँगी लेकिन आप ने एक फिल्म में चुम्बन किया ?

 ललिया कर  बोली -जी हाँ यह बात मैंने भी महसूस की है। अनिल कपूर के साथ एक फिल्म में मेरा चुम्बन सीन है।  सो अब मेरा यही निर्णय है ‘नेवर से नेवर ‘.मुझे  स्विम सूट भी पहनने में कोई एतराज नहीं है। अब बस  यही  कहना चाहूंगी – यदि सीन की आवयश्कता होगी तो मुझे कोई एतराज नहीं होगा।

आप टेलीविजन शोज करना चाहोगी ?

मैंने इतने सालो  में एक  चीज़ तो सीख ली है ,” नेवर से नेवर” टू  एनीथिंग। यदि कुछ अच्छा होगा तो जरूर करुँगी फिर चाहे वह फिक्शनल हो या नॉन फिक्शनल। मुझे सिर्फ सास बहु टाइप के शोज करना पसन्द न होगा।anjanasukhani

हमने सुना है आप अब सिंगल नहीं है ? यह कैसे और कब हुआ? और क्या यह व्यक्ति बॉलीवुड से है ?

 देखिये , इस वक़्त  मुझे भी यह मालूम नहीं है कि आगे हम दोनों का क्या होगा। पर मुझे इतना पता है कि-वह जो कोई भी है हम दोनों ही एक दूसरे को लगभग कुछ महीनो से जानते है। और हम में एक अच्छी बॉन्डिंग भी है। और वह बॉलीवुड से है या बाहर किसी अन्य प्रोफेशन से है यह मैं आपको नहीं बतला सकती हूँ। पर हाँ यह कहना चाहूंगी -आई ऍम नॉट सिंगल!!”


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये