अनुपम खेर: शिमला से खेरवाड़ी और अब चाँद को छूने की ख़्वाहिश

1 min


इस आदमी, अनुपम खेर ने मुझे अपनी उपलब्धियों से आश्चर्यचकिंत नहीं किया है जो लगभग अविश्वसनीय (अन्बिलीवबल) हैंमेरा यह विश्वास करना बहुत मुश्किल है कि, जिस छोटे से प्रसिद्ध अभिनेता को मैंने पहली बारडिजायर अंडर डी एल्म्सइच्छा के तहत एलम्सनामक नाटक में अभिनय करते देखा था, वह आज एक पद्मभूषण अभिनेता अनुपम खेर है, और यह उनकी एकमात्र उपलब्धि नहीं है, उन्होंने सभी को सबसे अधिक खराब और खतरनाक परिस्थिति में ऊपर उठने के लिए अपना साहस दिखाया है, जिन्होंने उन्हें इस तरह की परिस्थितियों के साथ कुचलने की पूरी कोशिश की, और कोई भी सामान्य इन्सान इस तरह की परिस्थितियों से नहीं जीत सकता था या जीतने का दावा भी नहीं कर सकता था! – अली पीटर जॉन

अनुपम खेर वह शख्स हैं, जो कभी क्लास में 38 प्रतिशत से अधिक नहीं पा सके और आज वह एक लीडिंग और प्रभावशाली दिमाग वाले शक्स हैं, जो मन को प्रेरित कर सकते हैं, अनुपम खेर वह शख्स हैं, जिन्होंने कई साहसिक कार्य (ऐड्वेन्चर) की शुरुआत की, जिनमें से कुछ काम कर पाए और कुछ परिस्थितियों की वजह से नहीं चल पाए, यहां तक कि उनके मन की शक्ति भी उन्हें कंट्रोल नहीं कर सकी, अनुपम खेर वो शख्स हैं, जिन्होंने कभी अपना टीवी सीरियल और इवेंट मैनेजमेंट कंपनी शुरू की थी, अनुपम खेर वो शख्स थे जिन्होंने एक बार फिल्में बनाने की कोशिश की थी और कामयाबी हासिल होने के साथ उन्हें पता चला कि, फिल्में बनाना उनके बस की बात नहीं थी, अनुपम खेर वह शख्स हैं जिन्होंनेओम जय जगदीशनामक एक फिल्म को डायरेक्ट किया था, जिससे उन्हें पता चला था कि डायरेक्शन उनके लिएएक प्याली चायकी तरह था, अनुपम खेर वह शख्स हैं, जिन्होंने मानसिक रूप से विकलांग बच्चों की मदद करने के लिए एक निस्वार्थ भावना के साथ सामाजिक कार्यकर्ता के रूप में मदद करने की कोशिश की थी, अनुपम खेर, वह आदमी जो अपने सामने पड़ी चुनौतियों के लिए खुद को तैयार करने की चुनौती लेता था वह अब देश में लीडिंग एक्टिंग अकादमियों में से एक, ‘एक्टर प्रिपेयर्सके संस्थापक और संरक्षक हैं, अनुपम खेर, वह आदमी जिसे एक समय में सही तरह से अंग्रेजी में लिखना और बोलना तक मुश्किल लगता था, उन्होंने मानव प्रेरणा पर एक किताब लिखी जिसका नाम है बेस्ट थिंग अबाउट यू इज यूजो कई एडिशंस में चली गई। 

अनुपम खेर जो सार्वजनिक रूप से बोलने में संकोच करते थे, अब देश के कुछ बेहतरीन दिमागों के साथ बहस और चर्चा में भाग लेते हैं और हमेशा अपनी एक छाप छोड़ देते हैं और जिसे लोग कहते हैं की वह आगे की बहस और चर्चाओं का विषय बन जाता है, अनुपम खेर कोई पॉलिटिशियन नहीं हैं लेकिन उनके पास सबसे शक्तिशाली राजनेताओं के साथ राजनीति पर चर्चा करने की क्षमता है, मुझे लगता है कि, अनुपम खेर का कोई राजनीतिक संबद्धता या महत्वाकांक्षा नहीं है, लेकिन उनमे लोगों के बारे में अनुमान लगाने की रहस्यमई आदत है कि, वह किसके पक्ष में है लेकिन वह कहते है कि, वह केवल लोगों के पक्ष में है और अभी भी लोगों पर अनुमान लगाते रहते है क्योंकि वह पिछले 35 वर्षों के दौरान कुछगिरगिटसाबित हुए है, वह एक बार फिर से अपने रंगीन और जश्न भरे जीवन के एक नए चैराहे पर है!

उन्होंने फिल्मों में एक भारतीय अभिनेता के रूप में 550 फिल्मों को पूरा करके सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं, और उन्हें लगता है कि, यह खुद को फिर से एक नए अंदाज में दिखाने का समय है!

और यह उनकी प्रतिभा है जिसने उन्हें पश्चिम (वेस्ट) में प्रवेश करने के लिए प्रेरित किया है। उन्होंनेबेंड इट लाइक बेकहम’, ‘ब्राइड एंड प्रेजुडिस’, वुडी एलेन कीयू विल मीट टॉल डार्क स्ट्रेंजरऔर अकादमी अवार्डनॉमिनेटेडसिल्वर लाइनिंग्स प्लेबुकजैसी फिल्मों में अपनी बेलगाम प्रतिभा को दिखाया है। 

अकादमी ने बॉय विद टॉप नॉटनोमिनेट किया, एक अभिनेता के रूप में उनकी नवीनतम जीतन्यू एम्स्टर्डमऔरमिसेज विल्सनमें उनका प्रदर्शन है, उन्होंने अपने लिए कई नई योजनाएँ बनाई हैं, जिसके अनुसार वह भारत के बाहर अच्छा काम करने में बहुत समय बिता रहे है और वह भारत को भी अपना बेस्ट देगे जब भी उन्हें अच्छी चुनौती वाली भूमिका ऑफर की जाएगी!

एक अभिनेता के रूप में उन्हें क्या चीज जीवित रखती है? इस सवाल पर, वह कहते है, “मैं एक बच्चे की तरह इनोसेंट हूं जब एक्टिंग की बात आती है, तो मैं हर समय इन्वेन्टिव और इन्स्परेशन की स्थिति में होता हूं!”

जहां तक संभव हो देश से बाहर रहने और काम करने की कोशिश के बारे में होने वाली यह सब बाते क्या है? देश में राजनीतिक माहौल से उनके दूर रखने के बारे में होने वाली यह सब बाते क्या है? उन नेताओं के साथ मोहभंग होने जिनपर उन्होंने अपना भरोसा दिखाया था के बारे में होने वाली यह सब बातें क्या है? उस देश जिसकी वह शपथ लेता है कि, वह इसके खातिर जी और मर सकते है के मामलों की स्थिति पर उनके खुश होने के बारे में होने वाली यह सब बाते क्या है?

यह कुछ ऐसे सवाल हैं, जिनका केवल वहीं जवाब दे सकते है और मुझे लगता है कि वह भी, सही समय पर इन सवालो के जवाब के साथ आएगे जिसे वह अपने तरीके से दे सकते है!

और जैसा कि, मैं इस अभिनेता अनुपम के बारे में सोचता हूं, मैं उस युवा अनुपम के बारे में भी सोचता हूं, जिसने एक बार अपनी माँ केपूजा मंदिरके स्थान पर से ऑडिशन देने के लिए पैसे चुराए थे और मैं उस अनुपम के बारे में सोचता हूँ, जो इतना इनोसेंट था, कि जब उसने अपना पहला बीयर का गिलास पीने का फैसला किया तो उसमे पानी मिला दिया था, अनुपम जो उसे पीकर पूरी तरह से नशे में थे, उन्होंने लीला होटल में एक मेज पर चढ़कर डांस किया, जब दिलीप कुमार और राज कपूर दोनों ने एक अभिनेता के रूप में उनकी प्रशंसा की थी, और जब वह खेरवाडी में एक हाॅल के कमरे में रहते थे, तो उनके पास खादी पायजामा और कुर्ते के केवल दो जोड़े थे, जिसे वह हर रात खुद धोते थे और पृथ्वी थिएटर तथा सभी स्टूडियोज में एक आशा के साथ जाते थे, लड़कों ने उन्हें धक्केमारकर ऑफिस से निकाला था, या उन्हें उस नौकरों की भूमिका की पेशकश की जाती थी, जिसे .के. हंगल और देव किशन जैसे वरिष्ठ अभिनेताओं द्वारा अस्वीकार कर दिया जाता था!

अनुछवि शर्मा

SHARE

Mayapuri