ताहिरा कश्यप खुराना के निर्देशन में बन रही पहली फिल्म “शर्माजी की बेटी” के लिए ’अप्लॉज एंटरटेनमेंट’ ने ‘इलिप्सिस एंटरटेनमेंट’ के साथ मिलाया हाथ

1 min


लेखक के रूप में षोहरत हासिल करने तथा कई लघु फिल्मों का निर्देषन कर बड़ी सफलता हासिल करने के बाद ताहिरा कश्यप  खुराना अब पहली फीचर फिल्म”षर्मा जी की बेटी’का निर्देशन करने जा रही है। जिसकी बॉलीवुड में काफी चर्चाएं हैं।इस फिल्म के निर्माण के लिए इस बार ‘अप्लॉज एंटरटेनमेंट’ने  एलिप्सिस एंटरटेनमेंट के साथ हाथ मिलाया है।

ताहिरा  कश्यप   खुराना की फिल्म ‘शर्माजी की बेटी”में शहरी महिलाओं के जीवन के अंदर की  एक गर्म और वास्तविक झलक नजर आएगी।आधुनिक, मध्यम वर्ग के महिलाओ के अनुभवों से संबंधित इस फिल्म में बहु-पीढ़ी का पहनावा कॉमेडी-ड्रामा सब कुछ होगा। ताहिरा कश्यप अपनी फिल्म के माध्यम से दुनिया भर में जेन जेड, मिलेनियल्स और बूमर्स के साथ गूंजने का वादा करती है, जिसका प्रतिनिधित्व फिल्म में विभिन्न शर्मा करती हैं। इसमें साक्षी तंवर, दिव्या दत्ता और सैयामी खेर मुख्य किरदार निभा रही है।

‘शर्मा जी की बेटी’ में आकांक्षाओं, कल्पनाओं, परिवारों, अपर्याप्तताओं, उम्र के आने और दिल टूटने की एक स्लाइस -ऑफ-लाइफ रोलर कोस्टर कहानी है। लेकिन निर्देशक का दावा है कि फिल्म की कहानी महज कहानी नही बल्कि  जीवन के सभी क्षेत्रों के लोगों के साथ तालमेल बिठाने का वादा करती है। माताओं, बेटियों, भागीदारों, दोस्तों और अंततः, नारीत्व- लोकप्रिय सिनेमा पर हावी होने वाले डिफॉल्ट पुरुष डोमिनेशन के लिए एकदम सही एंटीडोट है।

“अप्लॉज एंटरटेनमेंट” के सीईओ समीर नायर फिल्म “शर्माजी की बेटियां” की चर्चा करते हुए कहते हैं-”यह फिल्म एक आकर्षक व उत्साह जनक कहानी है, जिसे इसके पात्रों और उनके रहने की दुनिया के लिए एक प्रभावशाली स्नेह के साथ लिखा गया है। ताहिरा कश्यप खुराना एक अनूठी, प्रमुख साहित्यिक आवाज के रूप में उभरी हैं और उनकी कहानियाँ हमेशा उनकी तीक्ष्ण बुद्धि और विस्तार पर ध्यान देने के साथ प्रतिध्वनित होती हैं। हम दुनिया के सामने उनके फिल्म निर्देशन की शुरुआत और इस अद्भुत कथा को जीवंत करने के लिए एलिप्सिस एंटरटेनमेंट के साथ साझेदारी करने के लिए उत्साहित हैं।

जबकि ”इलिप्सिस एंटरटेनमेंट” के मैनेजिंग पार्टनर तनुज गर्ग और अतुल कसबेकर कहते हैं, “नई प्रतिभाओं का वादा करने के लिए चुंबक के रूप में, अब हम अविश्वसनीय रूप से  ताहिरा कश्यप खुराना एक फीचर निर्देशक के रूप में, लांच करने के लिए खुश है। राम माधवानी, सुरेश त्रिवेणी और आकाश भाटिया जैसे शीर्ष विज्ञापन नामों को फिल्माए गए मनोरंजन क्षेत्र के सामने पेश कर चुके हैं। हमें इस बात पर गर्व है कि यह विशेष स्क्रिप्ट बहुत खूब बन गई है और एक दीर्घकालिक संबंध की शुरुआत है, इस पर अप्लॉज में लोगों के साथ साझेदारी करके हमें खुशी हो रही है।

वहीं लेखक-निर्देशक ताहिरा कश्यप खुराना कहती हैं- फिल्म ‘शर्माजी की बेटी मेरे व्यक्तित्व के विस्तार की तरह है क्योंकि यह उन विभिन्न घटनाओं और पात्रों से प्रेरित है जिनसे मैं वास्तविक जीवन में मिली, अनुभव किया और देखा है। यह हमेशा मेरे दिल मे एक बहुत ही विशेष स्थान रखेगा। क्योंकि यह पहली स्क्रिप्ट है जिसे मैंने कभी लिखा है। मैं इस बात से रोमांचित हूं कि फीचर फिल्म क्षेत्र में मेरे निर्देशन में यह पहली फिल्म बन रही है। यह एक खुश, भरोसेमंद, भावनात्मक और प्रेरक कथा के साथ सही संतुलन बनाने वाली भावनाओं का एक समामेलन है। इस रोमांचक यात्रा के लिए हमने जो दुर्जेय कलाकारों और क्रू को एक साथ रखा है, उनके लिए एक बड़ा शौटऑउट, और बेहतरीन सेट-अप देने के लिए और विषयों में विश्वास जारी रखने और नई प्रतिभाओं को अवसर देने के लिए इलिप्सिस की सराहना के काबिल है।

SHARE

Mayapuri