पीएम की हां के चक्कर में फंसी अरविंद केजरीवाल पर बनी फिल्म

1 min


दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल को लेकर बनाई गई एक डाक्यूमेंटरी ‘एन इनसिंगनिफिकेन्ट मैन’ ने तमाम डाक्यूमेंटरी निर्माताओं के सामने फजीहत खड़ी कर दिया है। सेंसर बोर्ड ने कहा है कि जिनका भी नाम फिल्म में लिया गया है, उनसे नो ऑबजेक्शन सर्टिफिकेट लेकर आए। अब केजरीवाल के ऊपर बनी फिल्म में प्रधानमंत्री शीला दीक्षित का जिक्र ना हो, कैसे हो सकता है? मुंबई का निर्माता अब NOC पाने के लिए मुश्किल में आ गया है। मोदी जी की NOC का मतलब है कि उनको फिल्म दिखाई जाए…कब, कहां, कैसे? कम बजट वाले निर्माता ही डाक्यूमेंटरी बनाते हैं और उसमें भी स्टॉक शॉट इस्तेमाल करते हैं। सोचने वाली बात है कि सेंसर के इस फरमान के बाद छोटे और बौद्धिक-निर्माताओं के हाथ से यह मीडिया भी गया…!


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये