Aryan Khan Drug Case: कब तक चलेगा यह बेल का खेल?

1 min


बॉलीवुड और विवादों का नाता आज का नहीं है। ख़ासकर बात ड्रग्स की हो तो बिना नाम लिए भी आप जान सकते हैं कि कितनी लम्बी लिस्ट है। लेकिन बॉलीवुड और बॉम्बे हाई कोर्ट का भी अजीब ही रिश्ता है। यहाँ अक्सर बॉलीवुड से जुड़े केस आते तो बड़े जोर शोर से हैं, लेकिन ज़मानत मिलने के बाद धीरे से कब गायब हो जाते हैं, ये पता ही नहीं चलता।

संजय दत्त ख़ुद अपने मुँह से बताते हैं कि वर्ल्ड मार्केट में कोई ऐसा ड्रग नहीं था जो उन्होंने चखा न हो, उनपर बाकायदा बायोग्राफी बन गयी है। (Sanju), लेकिन जेल तो छोड़िए उन्होंने कभी ड्रग को लेकर लोकल थाने का मुँह भी नहीं देखा। उन्हें आतंकी गतिविधियों में लिप्त होने के चलते, 10 साल लम्बे केस के बाद 5 साल की सज़ा हुई थी, जिसे संजय दत्त ने कई किश्तों में पेरोल पर निकलने-आते पूरा कर लिया था।

 

वहीं सलमान भी हिट एंड रन केस में और राजस्थान के चिंकारा किलिंग केस में भी उन्हें नाम की जेल हुई है, ज़मानत तो उन्हें सेम डे, सेशन कोर्ट से रिजेक्ट होने के बाद तुरंत हाई कोर्ट से मिल गयी है।

पर शाहरुख़ खान के बेटे आर्यन खान के साथ ऐसा कुछ नहीं हो रहा है। मात्र छः ग्राम चरस, वो भी उनके दोस्त अरबाज़ मर्चेंट के जूते से मिली है (हालांकि अब अरबाज़ इस बात से मुकर गये हैं कि ऐसी कोई बरामदगी हुई है), फिर भी आर्यन को ज़मानत नहीं दी जा रही। अब इसे आप क्या कह सकते हैं? क्या अब कोर्ट बहुत सख्त हो गयी है या पहले बहुत लचर थी? सवाल सौ हैं लेकिन जवाब एक भी नहीं। बहरहाल, जहाँ एक तरफ बॉलीवुड के तकरीबन सारे सेलेब्स आर्यन के साथ ज़्यादती होती बता रहे हैं, वहीं बहुसंख्यक जनता इसे आर्यन के लिए सही सबक बता रही है।

आज 27 अक्टूबर 2021 को दोपहर से फिर आर्यन के केस की सुनवाई शुरु होगी। आज फिर शाहरुख़ के वकील मुकुल रोहतगी जज के सामने अपनी दलीलें देंगे और हरसंभव कोशिश करेंगे कि आर्यन को बेल मिल जाए। दूसरी ओर, एनसीपी के नेता नवाब मलिक केस के लीड ऑफिसर समीर वानखेड़े के खिलाफ एक के बाद एक इल्जाम लगाये जा रहे हैं।

बहुत हद तक मुमकिन है कि इन ख़बरों का असर आज के केस पर भी पड़े। बहरहाल, हाई कोर्ट का फैसला अगर आज आ जाता है तो ठीक, वर्ना आने वाले दिनों में कोर्ट की दीपावली वेकेशंस शुरु होने वाली हैं, अगर तबतक आर्यन की ज़मानत पर फैसला न हुआ तो कम से कम एक महीने के लिए आर्यन को न्यायिक हिरासत में ही रहना पड़ेगा और मन्नत में इस बार दीपावली नहीं मनाई जायेगी।

Aryan Khan

 

SHARE