अब ‘स्टार भारत’ पर 14 दिसंबर से सीरियल ‘दुर्गा’ में देव के किरदार में नजर आएंगे अविनाश मिश्राा

1 min


14 दिसंबर से ‘स्टार भारत’ पर एक नया सीरियल ‘‘दुर्गाःमाता की छाया’’ शुरू होने जा रहा है, जिसमें ‘ये रिश्ते हैं प्यार के’ में कुणाल राजवंश का किरदार निभा चुके अभिनेता अविनाश मिश्रा देव का किरदार निभाते हुए नजर आने वाले हैं। हमेशा खुद को फिट रखने वाले अविनाष मिश्रा को पहली बार इस सीरियल के देव के किरदार को निभाने के लिए अपना वजन पांच किलो कम करना पड़ा। इतना ही नहीं पहली बार वह ‘क्लीन शेव वाले हैं। – शान्तिस्वरुप त्रिपाठी

इसमें मेरा किरदार एक मानसिक रूप से विकलांग व्यक्ति का है

अविनाश मिश्रा कहते हैं-‘‘सीरियल ‘ये रिश्ते हैं प्यार के’ के बाद मेरे पास उसी तरह के किरदार लगातार आ रहे थे, जिन्हे मैं नहीं निभाना चाहता था। मेरा मानना है कि मेरे लिए चॉकलेटी हीरो की भूमिकाएं करना आसान है, क्योंकि मेरी विशेषताएं इसके साथ हैं। लेकिन मुझे एक ऐसे किरदार की तलाश थी, जो मेरी सीमा को आगे बढ़ाए। सीरियल ‘दुर्गा’ में मेरा किरदार देव पहले मैंने जो भी किया है, उससे बिल्कुल अलग है। इसमें मेरा किरदार एक मानसिक रूप से विकलांग व्यक्ति का है, जो 5 साल के बच्चे की तरह व्यवहार करता है। भूमिका एक दुबले पतले युवक की है और क्लीन शेव की मांग करती है। क्योंकि मुझे अपनी वास्तविक उम्र से कम दिखने की जरूरत है। इसलिए वजन कम करना पड़ा।’’

वह आगे कहते हैं-“मैं किसी भी मांसपेशी को खोने की कोशिश नहीं कर रहा था और इसके बजाय मैं अपना वजन कम कर सकता था। मैंने अपने आहार को उबली हुई सब्जियों में बदल दिया और ब्लैक कॉफी पीना शुरू कर दिया। मेरे वर्कआउट में केवल क्रॉस फिट होते हैं, मैंने मांसपेशियों की कसरत करना बंद कर दिया है।”

दाढ़ी के बिना थोड़ा अलग महसूस करता हूँ

पहली बार परदे पर ‘क्लीन शेव’ नजर आने पर अविनाश मिश्रा कहते हैं-‘‘दाढ़ी के बिना थोड़ा अलग महसूस करता हूँ। ‘ये रिश्ते हैं प्यार के’ में मैंने अपनी दाढ़ी को एक सीन के लिए शेव किया था। लेकिन सीरियल‘दुर्गा’ में मैं लंबे समय तक क्लीन शेव रहूंगा। मैं वास्तव में मुझे मिल रही अच्छी प्रतिक्रिया की सराहना करता हूं। मेरे करीबी दोस्त और परिवार जानते हैं कि मैं अपने वर्कआउट में कितना भावुक हूं। और मैं व्यक्तिगत रूप से अपने नए रूप से प्यार करता हूं, यह एक अलग एहसास है, जब मैं खुद को दर्पण में देखता हूं। यह भूमिका मेरे लिए चुनौतीपूर्ण है और एक अभिनेता के रूप में मैं सहजता के विपरीत वाला किरदार निभा रहा हूँ।”

‘ये रिश्ते हूँ प्यार के’ के निर्माता राजन साही की चर्चा चलने पर अविनाश मिश्रा कहते हैं- ‘‘सीरियल ‘यह रिश्ते हैं प्यार के’ में राजन शाही के साथ काम करना एक सीखने का अनुभव था। मैंने इसमें एक वर्ष तक अभिनय किया। अंत में दर्शकों ने मुझे उस भूमिका में स्वीकार किया, जो मेेरे लिए एक बड़ा इनाम था।’’

Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये