नवाजुद्दीन सिद्दीकी ने की लखनऊ के रेड लाइट एरिया में शूटिंग

1 min


फिल्म ‘बाबूमोशाय बंदूकबाज’ में शार्प शूटर बाबू के किरदार में नजर आनेवाले नवाजुद्दीन सिद्दीकी ने अपने एक सीन की शूटिंग लखनऊ के असल रेडलाइट इलाके में की हैं।

इस फिल्म का एक महत्वपूर्ण हिस्सा रेडलाइट इलाके में शूट होना था। सूत्रों के अनुसार, “किसी चीज की सच्चाई जानने के लिए शार्प शूटर रहें नवाजुद्दीन को रेड लाइट एरिया में जाना पडता हैं। यह एक अहम सिक्वेन्स होने के कारण वह असल रेड लाइट इलाके में शूट किया गया हैं।“

सूना है की, निर्देशक कुशान नंदी ने आपने लोकेशन मैनेजर को एक महत्त्वपूर्ण एक्शन सिक्वेन्स एक रेड लाइट एरिया में होने की जानकारी दी थी। और कुशान चाहते थे, वह फिल्म में विश्वसनीय लगें।

सूत्रों के अनुसार, “सीन के शूटिंग का निर्धारित दिन नजदीक आ रहा था। और लोकेशन ना तय होने की वजह से टीम थोडी चिंतित थी। इसिलिए आखिरकार कुशान ने शहर में रहें रेड लाइट एरिया में ही जाकर शूटिंग करने का सोचा। हालांकि, लोगों ने उन्हें वहाँ शूटिंग करते वक्त आनेवाली कठिनाइयों की और सुरक्षा उपायों के बारे में चेतावनी दी थी। वहाँ जाने के बाद कुशान को जैसे उन्होंने विज्युअलाइज किया था, वैसे ही, छोटी गलीयाँ, और बस्ती उन्हें नजर आयी। इसिलिए उन्होंने यहीं पर शूटिंग करने का फैसला लिया।“

Nawazuddin Siddiqui

वहाँ शूटिंग की अनुमति मिलना एक दूसरी परेशानी थी। लेकिन वहाँ के लोगों ने काफी सहयोग दिया। यहाँ तक की, कुछ लोग तो शूटिंग का हिस्सा तक बनें। अपने काम के परफेक्टनिस्ट होने की और स्क्रिप्ट की मांग होने की वजह से नवाजुद्दीन सिद्दीकी भी यहाँ शूटिंग करने के सहमत हो गयें।

यहाँ शूटिंग करने का अपना अनुभव बताते हुए निर्देशक कुशान नंदी कहतें हैं, “ पूरे एरिया में औरतों और बच्चों की काफी भीड़ थी। हम वहाँ अन्जान लोग थे। लेकिन हमने उन्हें सिक्वेन्स में भाग लेने की बिनती की। लेकिन सबने काफी स्वाभाविक तरीके से अभिनय करने की वजह से वह सीन काफी अच्छे से उभरकर आया हैं। मुझे उम्मीद हैं, फिल्म देखते वक्त लोगों को सारे सीन विश्वसनीय लगेंगे।

 


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये