बर्थडे स्पेशल: प्रधानमंत्री के कहने पर बनाई थी ये फिल्म, ऐसा रहा मनोज कुमार का फिल्मी सफर

1 min


फिल्मी दुनिया के दिग्गज अभिनेता मनोज कुमार आज अपना 81वां जन्मदिन मना रहे हैं। मनोज कुमार को फिल्म जगत के चमकते सितारों में शुमार किया जाता है। मनोज कुमार का पूरा नाम हरिकिशन गिरि गोस्वामी था। उनका जन्म 24 जुलाई 1937 को हुआ था। मनोज ने अपने पूरे फिल्मी सफर में ज्यादातर देशभक्ति की भावनाओं से जुड़ी कई सारी फिल्मों में काम किया। मनोज कुमार एक एक्टर होने के साथ-साथ एक लेखक भी रहे हैं। आइए आज उनके जन्मदिन पर आपको बताते हैं उनके जीवन से जुड़े कुछ खास किस्से…

https://www.instagram.com/p/BlmMOD5HrOs/?hl=hi&tagged=manojkumar

पहली फिल्म में किया 90 साल के बुजुर्ग का रोल

– आपको जानकर हैरानी होगी कि 1957 में आई लेखराज भाकरी निर्देशित फिल्म ‘फैशन’ में 19 साल के मनोज कुमार ने 90 साल के बुज़ुर्ग की भूमिका से अपना फिल्मी सफर शुरू किया था। इस फिल्म में प्रदीप कुमार, माला सिन्हा की मुख्य भूमिका थी और मनोज कुमार भिखारी बने थे।

– उस दौर में लेखराज भाकरी इंडस्ट्री का एक जाना-माना नाम थे। लेखराज मनोज के कजिन थे। कई साल बाद जब लेखराज ने मनोज को मिलने बुलाया तब वे उसे देखते ही बोले- ‘तू तो हीरो लगता है’। तो मनोज तुरंत लेखराज से बोल उठे- तो आप बना दीजिये। इसके बाद लेखराज ने 1956 में मनोज के पिता जी को चिट्ठी लिख उन्हें मुंबई बुलवा लिया।

– एक इंटरव्यू में मनोज कुमार ने ज़िक्र किया था कि उनकी पत्नी शशि से जिस वक़्त वे मिले भी नहीं थे, उससे पहले ही ये फिल्म वो अपनी सहेलियों के साथ देखने गईं थी। उन्हें भी बहुत समय बाद पता चला कि मनोज की यह पहली फिल्म थी।

दिलीप कुमार की फिल्म देखकर बदला नाम

-फिल्मों को लेकर उनकी दीवानगी का अंदाजा इससे लगा सकते हैं कि दिलीप कुमार की फिल्म ‘शबनम’ में उनके किरदार के नाम पर ही अपना नाम हरिकृष्ण गिरी गोस्वामी से बदल कर मनोज कुमार रख लिया।

– अपने शानदार काम के लिए भारत सरकार द्वारा उन्हें साल 1992 में पद्मश्री से सम्मानित किया गया। साल 2015 में उन्हें फिल्म में अपने योगदान के लिए दादा साहब फाल्के अवॉर्ड से सम्मानित किया गया।

– उन्होंने दिल्ली विश्वविद्यालय के हिंदू कॉलेज से अपनी पढ़ाई की। इसके बाद उनके जहन में फिल्मों में काम करने के ख्याल ने दस्तक दी। मनोज ने अपनी मंगेतर शशि गोस्वामी से पूछकर फिल्मों में काम करना शुरू किया।

मंगेतर से पूछकर शुरु किया फिल्मों में काम

– दरअसल, जब मनोज को एक फिल्म में लीड एक्टर के रूप में काम करने का ऑफर आया तो उन्होंने कहा कि अपनी मंगेतर की इजाजत के बिना वो फिल्मों में काम नहीं करेंगे। जब शशि रजामंद हो गईं तभी मनोज कुमार ने फिल्म में काम करने के लिए हां कहा। बाद में शशि से ही उन्होंने शादी भी कर ली।

– फिल्म ‘दो बदन’, ‘हिमालय की गोद में’,’पूरब और पश्चिम’ में मनोज कुमार के अभिनय को सराहा गया। 1965 की फिल्म ‘शहीद’ में मनोज कुमार ने सरदार भगत सिंह का रोल प्ले किया। ये रोल सभी को बहुत पसंद आया।

– फिल्म उपकार के बनने के पीछे का एक किस्सा ये है कि उस समय के प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री ने मनोज कुमार को ‘जय जवान जय किसान’ नारे पर फिल्म बनाने को कहा। उनकी बात मानते हुए मनोज कुमार ने ‘उपकार’ फिल्म बनाई।

दिलीप कुमार को मानते हैं आदर्श

– एक कहानीकार के रूप में केवल 11 रुपए लेने वाले मनोज कुमार को फिल्मों में उनके बेहतरीन अभिनय के लिए दादा साहब फाल्के, पद्मश्री, फिल्मफेयर लाइफ टाइम अचीवमेंट जैसे अवार्ड्स से सम्मानित किया जा चुका है। मनोज कुमार को फिल्म ‘उपकार’ के लिए नेशल अवॉर्ड से भी नवाजा गया।

– 1972 में आई ‘बेईमान’ फिल्म के लिए उन्हें बेस्ट एक्टर के फिल्मफेयर अवॉर्ड से नवाजा गया। फिल्म इंडस्ट्री में मनोज कुमार के सबसे अच्छे दोस्तों में धर्मेंद्र का नाम सबसे ऊपर है। मनोज कुमार महान एक्टर दिलीप कुमार को अपना आदर्श मानते थे।

– अपने करियर के शुरुआती दौर में मनोज कुमार ने भूतों पर कहानियां लिखी थीं। इन कहानियों को फिल्मों में भी इस्तेमाल किया गया। इसके लिए मनोज कुमार ने कोई क्रेडिट भी नहीं लिया। मनोज कुमार के बेटे कुणाल गोस्वामी ने भी फिल्मों में काम किया। मगर वो अपने पिता की तरह कामयाब एक्टर नहीं बन पाए।

https://www.instagram.com/p/BiuT5j5l4M0/?hl=hi&tagged=manojkumar

अमिताभ बच्चन को बनाया स्टार

– लगातार फ्लॉप होती फिल्मों से परेशान जब अमिताभ बच्चन मुंबई छोड़कर अपने मां-बाप के पास दिल्ली वापस जा रहे थे तब मनोज कुमार ही ऐसे थे जिन्होंने अमिताभ को रोका और अपनी फिल्म ‘रोटी, कपड़ा और मकान’ में मौका दिया।

– एक जमाने की टॉप एक्ट्रेस रहीं नंदा ने मनोज कुमार के लिए एक फिल्म फ्री में की थी। फिल्म थी ‘शोर। इस फिल्म के लिए पहले कई एक्ट्रेस से बात की गई थी लेकिन किसी ने भी हां नहीं की लेकिन नंदा ने इस फिल्म के लिए मनोज कुमार से एक रुपया नहीं लिया।

➡ मायापुरी की लेटेस्ट ख़बरों को इंग्लिश में पढ़ने के लिए  www.bollyy.com पर क्लिक करें.
➡ अगर आप विडियो देखना ज्यादा पसंद करते हैं तो आप हमारे यूट्यूब चैनल Mayapuri Cut पर जा सकते हैं.
➡ आप हमसे जुड़ने के लिए हमारे पेज FacebookTwitter और Instagram पर जा सकते हैं.


Like it? Share with your friends!

Sangya Singh

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये