INTERVIEW: ‘‘वहां तो चार बच्चों की मांये भी हाईप्राइस्ड अभिनेत्रियां हैं’’ – अदिति शर्मा

1 min


पंजाब में पैदा हुई, लखनऊ पली बढ़ी तथा पढ़ाई लिखाई के बाद अदिति शर्मा कॉलेज की पढ़ाई करने के लिये दिल्ली आ गई। वहां उसे जी इंडियाज बेस्ट सिने स्टार की खोज नामक रियलिटी शो में हिस्सा लेने का मौका मिला, जिसमें वो विजेता साबित हुई। मुंबई आने पर उसे जी और मुक्ता आर्टस की फिल्म ‘खन्ना एंड अय्यर’ में पहला अवसर मिला। ब्लैक एंड व्हाइट उसकी दूसरी फिल्म थी। उसके बाद उसने पंकज कपूर की ‘मौसम’ फिर ‘लेडीज वर्सेज रिकी बहल’ तथा इक्किस तोपों की सलामी आदि फिल्में की। अदिति ने एक पंजाबी फिल्म ‘अंग्रेज’ की। उस फिल्म ने ढेर सारे नेशनल इन्टरनेशनल अवार्डस जीते ।इस स्पताह रिलीज फिल्म ‘सात उच्चके’ को अदिति अपनी अभी तक बेस्ट फिल्म मानती है।

फिल्म पिछले साल ही रिलीज होने वाली थी लेकिन सेंसर में उलझने की वजह से इसे अब रिलीज किया जा रहा है। साथ ही मैं इन दिनों एक सीरियल ‘गंगा’ में गंगा का किरदार निभा रही हूं। अगर सात उच्चके की बात की जाये तो इसके लिये मुझे कास्टिंग डायरेक्टर विकी सदाना ने ऑफर देते हुये कहा था कि एक फिल्म है लेकिन वो बोल्ड है। करोगी? मैने उनसे पूछा कि बोल्ड किस सेंस में कह रहे हैं तो उन्होंने कहा कि इसकी भाषा काफी बोल्ड है। मैनें कहानी सुनी और फिर एक चेलेंज की तरह ये फिल्म करने का मन बना लिया।aditi-sharma-ganga

फिल्म में मेरे किरदार का नाम है सोना, जो पुरानी दिल्ली के चॉदनी चौंक में पली बढ़ी है। उसके पिता नहीं लेकिन मां के साथ रहते हुये, उसने जिन्दगी से इतना कुछ सीखा है कि उसे इतना स्मार्ट बना दिया है वो बहुत जुगाड़ू बन चुकी है। अनपढ़ होते हुये भी उसे अपना काम निकालना आता है। फिल्म के सारे उच्चकों की बात की जाये तो सभी लाइफ में बड़ा बनना चाहते हैं लिहाजा बड़ा बनने के चक्कर में ये गलत काम करते हैं और सोना भी इनके ग्रुप का हिस्सा है लेकिन वो इन सब से ज्यादा इन्टैलीजेन्ट है। जब भी ये फंसते हैं तो सोना ही इन्हें वहां से निकालती है।

अगर मेरी अभी तक की जर्नी की बात की जाये तो मैं कहूगीं कि काफी अच्छी रही। मेरी रेलगाड़ी फास्ट तो नहीं लेकिन चल रही है। मैं अलग अलग मीडियम ट्राई कर रही हूं। शुरू किया था एक रियलिटी टीवी शो से,फिर मैने फिल्में की, साउथ में भी तेलुगू की तीन फिल्में की, पंजाबी फिल्म की। इसके अलावा अभी तक ढेर सारे विज्ञापन कर चुकी हूं जो आज भी जारी हैं यहां तक इला अरूण और के के रैना के सुरनई ग्रुप के साथ थियेटर भी करती हूं।
आप शादीशुदा अभिनेत्री हैं तो शादीशुदा होने के बाद यहां क्या फर्क महसूस हुआ? ये सवाल मुझसे अक्सर पूछा जाता है। लेकिन पता नहीं क्यों ऐसा सोचा जाता है। ये एक प्रोसेस है, कि जब आप बड़े होते हैं तो कोई भी काम कर रहे होते हैं । उस दौरान आपके पेरेन्टस कहते हैं कि भई अब उम्र हो गई है, शादी कर लो। ये एक नैचुरल सा प्रोसेस है, परन्तु इसे पता नहीं क्यों हाइप किया जाता है बॉलीवुड की बात की जाये तो अगर आपने शादी कर ली तो आपको सलाह दी जाती है कि अरे, इसे अभी ओपन मत करो। क्यों, भाई? हॉलीवुड में तो बिलकुल इसके उलट है। वहां तो चार बच्चों की मांयें भी हाई प्राइस्ड अभिनेत्रियां हैं। लेकिन अब यहां भी धीरे धीरे बदल रहा है और इस बदलाव का श्रेय मैं उन अभिनेत्रियों को देना चाहूंगी जो शादी के बाद भी बढ़िया काम कर रही हैं जैसे करीना कपूर, ऐश्वर्या राय, विद्या बालन या काजोल।aditi-sharma

लोग बाग यहां एक अदद गॉड फादर की तलाश में रहते हैं लेकिन मैने ऐसा कभी नहीं सोचा जबकि मेरी फैमिली में दूर दूर तक इस फील्ड से कोई नहीं है सभी डॉक्टर्स या वकील हैं बावजूद इसके उन्होंने मुझे प्रोत्साहित करते हुये कहा कि तुम्हें जो ठीक लगता है वही करो, हम तुम्हारे साथ हैं।
अगर जी टीवी का सिने स्टार की खोज नामक रियलिटी शो नहीं हुआ होता तो शायद आज मैं यंहा न बैठी होती। किसी भी रियलिटी शो की आभा या उसका बुखार एक दिन तो उतरता ही है। उसके बाद आपको जमीन दिखाई देनी शुरू हो जाती है और वहां से आपका एक नया स्ट्रगल शुरू हो जाता है। उस शो से जुड़े लोगों में से कुछ आगे बढ़ जाते हैं तो कुछ वहीं से अपने घर की तरफ मुड़ जाते हैं। मेरी अगर बात करे तो मुझे तो फिर भी काफी कुछ मिल चुका है और मिल रहा है लेकिन उस शो से जुड़े कुछ लोगों का नामो निशान तक नहीं रहा।

kay kay Menon Aditi Sharma Manoj Bajpa -Sanjeev Verma Vijay Raj
kay kay Menon Aditi Sharma Manoj Bajpa -Sanjeev Verma Vijay Raj

अंत में अगर सात उच्चके की बात की जाये तो इस बार मुझे अभिनय की धुरंधर हस्तियों के साथ काम करने का अवसर हासिल हुआ। हांलाकि इससे पहले मैं ब्लैक एंड व्हाइट में अनिल कपूर जैसे एक्टर के साथ काम कर चुकी हूं, इसके बाद अनुपम खेर के साथ काम किया, फिर पंकज कपूर जी की डायरेक्शन में ‘मौसम’ में काम किया। जब मैने इस फिल्म के बारे में अपने ब्रदर इन लॉ को बताया कि इस फिल्म में मनोज बाजपेयी, के के मेनन, विजयराज, अनु कपूर तथा अनुपम खेर हैं तो उसने ऑखें चौड़ी करते हुए ये सभी एक साथ हैं। दरअसल जिन्हें अच्छा सिनेमा पंसद हैं उन्हें ये सारे एक्टर्स पंसद है। इस फिल्म को लेकर,नो डाउट मैं बहुत नर्वस थी मुझे पहले सिर्फ इतना पता था कि फिल्म में मनोज जी हैं लेकिन बाद में जब पता चला कि फिल्म में तो के के , विजयराज, अनु कपूर और अनुपम जी भी हैं तो लगा, कि ओह माई गॉड कैसे होगा। लेकिन बाद में ऐसा लगा जैसे हम सब ने कोई वर्कशॉप की हो।
अगली फिल्म की बात, अभी नहीं,क्योंकि अभी मैं सीरियल ‘गंगा’ कर रही हूं लिहाजा इसके खत्म होने बाद ही अगली फिल्म के बारे में सोच सकती हूं ।


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये