सोनी पिक्‍चर्स नेटवर्क इंडिया ने ‘बेस्‍ट कंपनीज़ फॉर वूमेन’ के अपने खिताब को लगातार तीसरी बार बरकरार रखा

1 min


भारत के प्रमुख एंटरटेनमेन्‍ट एंड स्‍पोर्ट्स ब्रॉडकास्‍ट नेटवर्क, सोनी पिक्‍चर्स इंडिया (एसपीएन) को लगातार तीसरी बार भारत में महिलाओं  के लिये टॉप 100 कंपनियों में से एक के रूप में सम्‍मानित किया गया है। ‘2019-वर्किंग मदर एंड अवतार बेस्‍ट कंपनीज़ फॉर वूमेन इन इंडिया’ के नाम से ‘अवतार’ द्वारा करायी स्‍टडी में यह बात सामने आयी है। इस सम्‍मान को पाने वाली एसपीएन एकमात्र मीडिया और एंटरटेनमेन्‍ट कंपनी है।

यह भारत के सबसे अच्‍छे नियोक्‍ताओं की पहचान करने वाली, उनके बारे में बताने वाली, दर्शाने वाली और उनके सबसे बेहतर व्‍यवहार का जश्‍न मानने वाली, अपनी तरह की एक अनूठी स्‍टडी है। इसका उद्देश्‍य कार्यस्‍थल पर महिलाओं की भागीदारी को बढ़ाना है। वर्ष 2019 के संस्‍करण में इस क्षेत्र की 357 कंपनियां इस सोच के साथ हिस्‍सा ले रही हैं कि संगठनों को इस तरह विचार‍शील बनाना है कि वे कार्यस्‍थल पर महिलाओं को शामिल करें और लिंग के बीच की खाई को कम करें। यह मूल्‍यांकन महिलाओं के कॅरियर को बेहतर बनाने, उनके हितों के लिये और वर्क लाइफ को आगे बढ़ाने, महिलाओं की नियुक्ति और उन्‍हें बनाये रखने, कंपनी की संस्‍कृति तथा प्रबंधन की जवाबदेही की कपंनी की नीतियों पर आधारित है।

एसपीएन का उद्देश्‍य हमेशा से ही एक ऐसा माहौल तैयार करना रहा है, जहां पर इसके सभी कर्मचारियों की निजी एवं पेशेवर जीवन के बीच सही संतुलन बना रहे। इसमें खासतौर पर लिंगभेद पर फोकस किया जाता है। इस सोच को सहयोग देने के लिये एसपीएन की रणनीति में काम करने का लचीला समय, भावी मांओं के लिये सहयोग जैसे उनके लिये खासतौर से पार्किंग, परिसर के अंदर मांओं के लिये कमरा ताकि मातृत्‍व का लाभ मिल सके (जन्‍म, एडॉप्‍शन और सेरोगेसी के लिये) और पूरे भारत में इसके जितने दफ्तर है उनमें डेकेयर की सुविधा ताकि करियर के आगे बढ़ने में किसी तरह की रुकावट ना आये। ‘इम्‍पोस्‍टर सिंड्रोम’ को कम करने के उद्देश्‍य के साथ यह नेटवर्क ‘लिव योर ड्रीम’ जैसी अनूठी मुहिम लेकर आया, जहां वह महिलाओं को आर्थिक सहायता देकर उन्‍हें अपने सपनों को पूरा करने के लिये प्रेरित करते हैं। एसपीएन ने अपने नियमित जागरूकता कैम्‍पेन के माध्‍यम से अपने कठोर एंटी-सेक्‍सुअल उत्‍पीड़न नीति को लागू करने को भी प्राथमिता में रखा है। 

प्रतिक्रियायें :

एनपी सिंह, मैनेजिंग डायरेक्‍टर तथा चीफ एक्‍जीक्‍यूटिव ऑफिसर, सोनी पिक्‍चर नेटवर्क्‍स इंडिया:

‘’यह सम्‍मान हम सबके लिये बहुत गर्व का विषय है। हमारे संस्‍थान में 30 प्रतिशत महिलाएं काम कर रही हैं और सारी मुहिम के केंद्र में वही हैं। हमारा लगातार यह प्रयास रहा है, जेंडर हित में नीतियां शामिल करके,  महिलाओं की सुरक्षा और उन्‍हें बढ़ावा देने का काम किया जाये। महिला बल के बढ़ने से लगातार होने वाली जीत यह साबित करती हैं कि हमारी नीतियां कर्मचारी हित में हैं।  इस सम्‍मान के लिये हम आभारी हैं और अपने कर्मचारियों के लिये एक अच्‍छा माहौल तैयार करने की हमारी प्रतिबद्धता को मजबूती प्रदान करते हैं। इससे उन्‍हें अपने कॅरियर के लक्ष्‍यों को आगे बढ़ाने का मौका मिलता है।‘’

मनु वाधवा, चीफ ह्यूमन रिसोर्स ऑफिसर, सोनी पिक्‍चर्स नेटवर्क्‍स इंडिया (एसपीएन):

‘’भारत में महिलाओं के लिये काम करने की सबसे अच्‍छी जगह के रूप में पहचान मिलने पर, यह समानता की संस्‍कृति को आगे बढ़ाने की हमारी कोशिशों को सुदृढ़ बनाता है। साथ ही हमें समीकरण को संतुलित करने के की दिशा में काम करने के लिये प्रेरित करता है। एक संस्‍थान के तौर पर एसपीएन एक ऐसा संस्‍थान है, जोकि एक समान रूप से आगे बढ़ने की बात पर विश्‍वास करता है और यह महिलाओं को अपने बहुआयामी भूमिकाओं तथा जिम्‍मेदारियों को पूरा करने में सशक्‍त बनाता है।‘’

➡ मायापुरी की लेटेस्ट ख़बरों को इंग्लिश में पढ़ने के लिए www.bollyy.com पर क्लिक करें.
➡ अगर आप विडियो देखना ज्यादा पसंद करते हैं तो आप हमारे यूट्यूब चैनल Mayapuri Cut पर जा सकते हैं.
➡ आप हमसे जुड़ने के लिए हमारे पेज FacebookTwitter और Instagram पर जा सकते हैं.

 


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये