भारतीय फिल्में बदलाव के दौर में हैं –आमिर

1 min


Aamir-Khan

 

बॉलीवुड के फिल्म निर्माता करन जौहर के संग बातें करते हुए शुक्रवार को अभिनेता आमिर खान ने कहा कि फिल्मों की दुनिया तेजी से बदल रही है।

भारतीय फिल्में बदलाव के दौर में हैं। अस्सी के दशक में हमने एक बदलाव का दौर देखा जिसे मैं डिस्को युग का नाम देना चाहूंगा। अब हम मेट्रोप्लेक्स सिनेमा के दौर में आ गए है। अब मूलधारा के सिनेमा का मतलब तेजी से बदल रहा है। आमिर ने अपनी फिल्म ‘तारे जमीं’ पर’ चर्चा करते हुए कहा, ऐसी फिल्म को 70 के दशक में कला फिल्म माना जा सकता था। पर अब इस तरह की फिल्म मल्टीप्लेस में खूब पसंद की गई। वहीं जिन निर्माताओं ने ‘मुगले ए आजम’ जैसी फिल्म बनाई उन्होनें कभी बॉक्स ऑफिस पर क्या होगा इसकी परवाह नहीं की। एक फिल्मकार के रूप में पैसा कमाने की होड़ ने मुझे कभी उत्साहित नहीं किया।

आमिर ने कहा मैं दीपिका पादुकोण से सहमति रखता हूं। हमारे सामने ये समस्या है कि हम फिल्मों में महिलाओं का चित्रण कैसे करें। उन्होंने मीडिया के उस वर्ग कि ओर इशारा किया जो सिर्फ शरीर के उभारों को देखता है। आमिर बोले, हम एक पागल किस्म की दौड़ में शामिल हैं। मैं इस बात को लेकर खुश हूं कि हमारा फिल्मकारों का समाज ज्यादा एकजुट होकर खड़ा दिखाई दे रहा है।

SHARE

Mayapuri