‘थप्पड़’ ही नहीं बल्कि ये बॉलीवुड फिल्में भी हैं Domestic Violence पर आधारित

1 min


Domestic Violence पर बनी फिल्मों की फेहरिस्त है लंबी

बॉलीवुड में इन दिनों तापसी पन्नू की आने वाली फिल्म ‘थप्पड़’ को लेकर खासी चर्चा हो रही है। पूरी फिल्म एक थप्पड़ पर आधारित है जिसके खिलाफ तापसी अपने पति से Divorced तक लेने का फैसला ले लेती है। यानि थप्पड़ में तापसी पूरी तरह से Domestic Violence का विरोध करती नज़र आएंगी। लेकिन ये कोई पहली बार नहीं है जब घरेलू हिंसा को लेकर बॉलीवुड में कोई फिल्म बनाई गई हो। बल्कि हिंदी फिल्म इंडस्ट्री में हमेशा ये एक ज्वलंत मुद्दा रहा है जिस पर बनी फिल्मों की फेहरिस्त काफी लंबी है।

आज हम उन्ही फिल्मों के बारे में बताएंगे जो स्त्री प्रधान रहीं। साथ ही इनमें Domestic Violence के मुद्दे को प्रमुखता से उठाया गया। फिल्में समाज का आईना होती हैं और इन फिल्मों ने समाज को बखूबी आईना दिखाने का काम भी किया है। इन फिल्मों के ज़रिए समाज में बदलाव भी जरूर आया होगा इसमें कोई दो राय नहीं।

1. दामन(Daman)

रवीना टंडन स्टारर दामन अगर आपने नहीं देखी है तो आपको इसे ज़रूर देखना चाहिए। 2001 में आई इस फिल्म को कल्पना लाजमी ने निर्देशित किया था। घरेलू हिंसा पर आधारित इस फिल्म की स्टोरी के साथ-साथ इसमें रवीना टंडन का अभिनय इतना दमदार था कि उन्हे इस फिल्म के लिए राष्ट्रीय पुरस्कार भी मिला। इस फिल्म ने लोगों को सोचने पर मजबूर कर दिया था। रवीना टंडन के साथ-साथ फिल्म में राइमा सेन, संजय सूरी भी अहम रोल में नज़र आए थे।

2. अग्निसाक्षी(Agnisakshi)

घरेलू हिंसा(Domestic Violence) पर आधारित एक फिल्म अग्निसाक्षी भी थी जिसे दर्शकों ने खूब पसंद किया था। इस फिल्म में मनीषा कोईराला, नाना पाटेकर, जैकी श्रॉफ लीड कास्ट में थे। फिल्म का निर्देशन पार्थो घोष ने किया था। फिल्म में घरेलू हिंसा की शिकार मनीषा कोईराला व रूह कंपा देने वाली नाना पाटेकर की एक्टिंग ने सभी को अपना दीवाना बना दिया था।

3. दरार(Daraar)

इस फिल्म में ऋषि कपूर, अरबाज़ खान और जूही चावला अहम किरदार में नज़र आए थे। जिनमें से अरबाज़ खान बेहद ही नेगेटिव रोल में थे। शकी दिमाग के चलते वो अपनी पत्नी प्रिया (जूही चावला) पर अत्याचार करता है जिससे परेशान प्रिया एक दिन भाग जाती है। इस फिल्म में अरबाज़ के रोल ने लोगों के रोंगटे खड़े कर दिए थे। और जूही चावला की एक्टिंग को सभी ने पसंद किया था। इस फिल्म में घरेलू हिंसा को बखूबी दर्शाया गया था।

4. मेहंदी(Mehandi)

घरेलू हिंसा को बयां करती एक और फिल्म है मेहंदी। इस फिल्म में रानी मुखर्जी लीड रोल में थी। जिसमें रानी के ससुरालवाले दहेज को लेकर उन पर बहुत अत्याचार करते हैं। उन्हे घर से भी निकाल देते हैं। लेकिन रानी किस तरह उनका सामना करती हैं फिल्म में बेहद ही दमदार तरीके से दर्शाया गया है।

5. प्रवोक्ड(Provoked)

ये फिल्म किरनजीत आहलूवालिया की रियल लाइफ स्टोरी पर बेस्ड है। सालो तक पति के अत्याचार सहने वाली किरनजीत आहलूवालिया ने एक दिन अपने पति की हत्या कर दी थी। ये मुद्दा वाकई झकझोर कर रख देने वाला था। लिहाज़ा इस पर फिल्म बनाई गई। इस फिल्म मे किरनजीत आहलूवालिया का किरदार निभाया था ऐश्वर्या राय ने और उनके पति की भूमिका में नज़र आए थे नवीन एंड्रयूज़।

6. अर्थ(Arth)

1982 में रिलीज़ हुई ये फिल्म महेश भट्ट ने निर्देशित की थी। यूं तो फिल्म एक कामयाब अभिनेत्री की जिंदगी पर आधारित थी लेकिन इसमें घरेलू हिंसा(Domestic Violence) के मुद्दे ने भी सबका ध्यान अपनी ओर खींचा था। इस फिल्म में शबाना आज़मी और स्मित पाटिल नज़र आई थीं।

7. हमारी अधूरी कहानी (Hamari Adhuri Kahani)

साल 2015 में रिलीज़ हुई हमारी अधूरी कहानी तो आपको याद ही होगी। इस फिल्म में विद्या बालन ने अहम किरदार निभाया था। वो एक ऐसी महिला के किरदार में नज़र आई थीं जिसमें वो घरेलू हिंसा का शिकार होती हैं लेकिन इसके खिलाफ कभी कुछ कहती नहीं। उसमें अंदर से हिम्मत तो है लेकिन बाहर से वो इतनी डरी है कि इसके खिलाफ आवाज़ नहीं उठा पाती।

और देखेंः अब एक्शन करते नज़र आएंगे Kartik Aaryan, तान्हाजी के डायरेक्टर ओम राउत की फिल्म की साइन!


Like it? Share with your friends!

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये