बॉलीवुड राउंड अप

1 min


AmitabhBachchan

अमिताभ के अंदाज में दिनेश मोंगिया
फिल्मों और क्रिकेटर्स का साथ जमाने से चला आ रहा है। ये दूसरी बात है कि अभी तक एक भी क्रिकेटर फिल्मों में नहीं चल पाया सिवाय पाकिस्तानी क्रिकेटर मोहसीन खान के। उन दिनों मोहसीन खान ने करीब एक दर्जन से ज्यादा फिल्मों में काम किया था। हालांकि इससे पहले सुनील गावस्कर, संदीप पाटिल आदि ढेर सारे क्रिकेटर्स फिल्मों में ट्राई कर चुके हैं। अब एक बार फिर एक क्रिकेटर दिनेश मोंगिया ‘कबाब में हड्डी’ नामक फिल्म में काम कर रहे हैं। अक्टूबर में रिलीज होने वाली इस फिल्म में दिनेश एक इन्कम टैक्स डायरेक्टर की भूमिका में हैं जो अमिताभ बच्चन का जबरदस्त फैन है। दिनेश का कहना है कि पहली बार किसी फिल्म में काम करना मेरे लिए कोई ज्यादा मुश्किल नहीं रहा। रही बात अमित जी की तो उनकी फिल्में देखकर मैं बड़ा हुआ हूं। दीवार और शोले जैसी फिल्में मैंने बार बार देखी हैं। कबाब में हड्डी दीवाली पर हैप्पी न्यू ईयर के साथ रिलीज होने जा रही है। तो तैयार हो जाईये एक और क्रिकेटर को झेलने ओह सॉरी देखने के लिये।

Ranbir kapoor

रणबीर कपूर बनाम रणधीर कपूर
पिछले दिनों रणबीर कपूर अपनी बहनो करिश्मा कपूर और करीना कपूर का लाडला बना हुआ था और अब उस पर ताऊ जी यानि रणबीर कपूर को भी प्यार आना शुरू हो गया है क्यों न हो भई कपूर परिवार का इकलौता लड़का है जो बड़ा स्टार भी है। हाल ही में एक इन्टरव्यू के दौरान जब रणधीर कपूर से पूछा गया कि एक अरसा हो गया आर के बैनर पर कोई फिल्म नहीं बनी। इस पर रणबीर कपूर ने कहा बहुत जल्द इस बैनर पर फिल्म शुरू होगी। और उसमें हीरो रणबीर कपूर होगा। जब उनसे डायरेक्शन के बारे में पूछा तो उन्होंने कहा अभी ये नहीं बताया जा सकता कि वो फिल्म मैं डायरेक्ट करूं या कोई और। लेकिन हीरो रणबीर कपूर ही होगा।

rekha1

साठ की हुई रेखा
रेखा बॉलीवुड की दीवा साठ साल की हो गई हैं। लेकिन मजाल है कि आज भी बुढ़ापा उन्हें छू भर गया हो। अगले सप्ताह उनकी फिल्म सुपर नानी रिलीज होने जा रही है। इस अभिनेत्री की जिन्दगी का सफर कैसा गुजरा है वो किसी से नहीं छिपा। 10 अक्टूबर 1954 के दिन भानूरेखा गणेशन उर्फ रेखा का जन्म मद्रास में तमिल अभिनेता जेमनी गणेशन तथा अभिनेत्री पुष्पावली के घर हुआ। रेखा ने बहुत छोटी उम्र में फिल्मों में काम करना शुरू कर दिया था। उन्होंने अपनी शुरूआत तेलगू फिल्म ‘रंगूला रत्नम’ से की थी। हिन्दी में उन्होंने 1970 में फिल्म ‘सावन भादों’ से किया था। बाद में खून भरी मांग, खूबसूरत, मिस्टर नटवर लाल, उमराव जान, धर्मात्मा, बीवी हो तो ऐसी, फूल बने अंगारे, कृष आदि सैंकड़ों यादगार फिल्में की। हिन्दी के अलावा तमिल, तेलगू और कन्नड़ भी उन्होंने की। नाम दाम क्या नहीं है रेखा के पास बस नहीं है तो पति का प्यार नहीं है। वैसे तो उन्हें बिजनेस मैन मुकेश अग्रवाल के विधवा के तौर पर भी जाना जाता है लेकिन वो शादी महज दो महीने ही चल पाई थी । वैसे इससे पहले उनका नाम कई अभिनेताओं के साथ जुड़ा रहा है । जैसे किरण कुमार, विनोद मेहरा, नवीन निश्चल, जीतेन्द्र तथा अमिताभ बच्चन ।

katrina-kaif

कैटरीना को भी आता है गुस्सा
कैटरीना कैफ को कभी गुस्से में नहीं देखा गया। इन्टरव्यूज में भी अगर कोई सवाल उसे नागवार गुजरता है तो वो गुस्सा होने के बजाये उसे टाल जाती है। लेकिन उसकी हालिया फिल्म ‘बैंग बैंग’ की रिलीज के बाद एक प्रैस मीट में उसे बताया गया कि इस फिल्म में दर्शकों को उसका काम ज्यादा अच्छा नहीं लगा। इस पर कैटरीना ने गुस्से में कहा कि जिसे मेरी फिल्में अच्छी लगती हैं वो देखें जिसे नहीं लगती तो वो न देखे। दूसरे इन दिनों कैटरीना से रणबीर कपूर के पड़ोसी बहुत परेशान है। दरअसल कैटरीना के आजकल पाली हिल स्थित रणबीर के घर कृष्णा में जल्दी जल्दी चक्कर लग रहे हैं। इसलिए उसके प्रशंसकों को पता चल चुका है कि अगर कैटरीना को देखना है तो वो आसानी से कृष्णा में आती जाती दिखाई दे ही जायेगी। इसलिए हमेशा कृष्णा के बाहर भीड़ लगी रहती है चाहे कैट भीतर हो या न हो। लेकिन प्रशंसको के शोर शराबे से उनके पड़ोसियों का जीना हराम हो गया है। सुना है इनमें से कई तो पुलिस को भी फोन लगा चुके हैं लेकिन पुलिस भी क्या कर सकती है कृष्णा के आस पास एक दो चक्कर लगाने के अलावा।


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये