मूवी रिव्यू: बिना कहानी की अविश्वसनीय डांसिंग फिल्म ‘ ABCD-2

1 min


कुछ अरसा पहले प्रसिद्ध कोरियोग्राफर रेमा डिसूजा द्वारा निर्देशित फिल्म ‘ ए बी सी डी- एनी बड़ी केन डांस’ आई थी । उस फिल्म में ढेर सारे रीयल डांसर थे तथा प्रभू देवा और गणेश आचार्य लीड रोल्स में थे । इसके अलावा एक अच्छी कहानी थी । लेकिन ‘एबीसीडी टू’ में जबरदस्त अनोखे डांस तो हैं लोकेशन हैं चमकदार सेट हैं लेकिन कहानी नही है । जबकि फिल्म मुबंई के एक उपनगर नाला सपोरा के एक डांस ग्रुप की कहानी पर आधारित है और इस बार फिल्म में वरूण धवन तथा श्रद्धा कपूर जैसे स्टार्स के अलावा एक बार फिर प्रभूदेवा हैं।

कहानी
वरूण धवन और श्रद्धा कपूर मुबंई के एक उपनगर के रहने वाले ऐसे यंग डांसर है जो डांस के लिये ही जीते मरते हैं । वरूण एक प्रसिद्ध नृत्यांगना के बेटे हैं । वे अपने ग्रुप के साथ एक डांस कंपटीशन हम किसी से कम नहीं में प्रत्योगी है लेकिन उनका ग्रुप एक मशहूर विदेशी डांस ग्रुप की काॅपी करता हैं । इसके लिये पूरे ग्रुप को काफी बेइज्जत होना पड़ता है लेकिन वे इस बात से हतोत्साहित नहीं हैं। जबकि वरूण को इस चिंटिंग कांड के बाद ढेर सारे साथी छोड़ गये है। वरूण, मुरली शर्मा के रेस्तरां में वेटर है । मुरली ने उससे वादा किया हुआ है कि अगर वो अमेरिका में वर्ल्ड डांस कंपटीशन में भाग लेता है तो वे उसके ग्रुप को वहां तक पहुंचाने के लिये फाइनेंस करेगें ।

1434710654abcd-2_640x480_71429067216

एक बार वरूण को विष्णु सर यानि प्रभूदेवा मिलते हैं तो वो उन्हें ट्रेनिंग देने की रिक्वेस्ट करता है और उन्हें भरोसा दिलवाता है कि उसके ग्रुप को अमेरिका जाने के लिये उसका सेठ उनकी हेल्प करेगा । विष्णु सर की सहमिति के बाद पहले वे बंगलौर का कंपटीशन जीतते हैं । इसके बाद मुरली शर्मा के धोखा देने के बावजूद वे अमेरिका जाते हैं । लेकिन यहां पता चलता है कि अमेरिका आने के लिये विष्णु सर का पहले से प्लान था । लिहाजा विष्णु ने अमेरिका आने के लिये एक प्लान के तहत उस ग्रुप को यूज किया था । खैर बाद में ये लोग न सिर्फ क्वालिफाई करते हैं बल्कि फाइनल तक पहुंच कर दिखाते हैं ।

prabhu-deva_142968648340

निर्देशन
रेमो डिसूजा ने डांस को लेकर एक ऐसी फिल्म बनाई हैं जिसमें उन्होंने जबरदस्त डांस स्टेप्स दिये हैं बल्कि उनकी कोरियोग्राफी में इंडियन ही नहीं बल्कि विदेशी डासंर्स भी दर्शक को प्रभावित करते हैं । लेकिन उनकी जितनी शानदार कोरियोग्राफी है निर्देशन उतना ही कमजोर । सबसे पहले तो वे इस बार फिल्म में कोई कहानी ही नहीं कह पाये । वे डांस के अलावा फिल्म में न तो रोमांस उभार पाये और न ही ट्वीस्ट, और न ही वे किसी आर्टिस्ट से अच्छा काम करवा सके ।

sun-saathiya-sathiya-mp3-song11 (2)

अभिनय
वरूण धवन और श्रद्धा कपूर बेहद कठिन डांस स्टेप्स मजे मजे में बहुत ही सहज होकर करते दिखाई देते हैं । लेकिन वे चाहकर भी अभिनय में कुछ नहीं कर पाते । वरूण और श्रद्धा का रोमांस उभर कर नहीं आ पाता । यही हाल प्रभूदेवा का है । डासंर तो वे जबरदस्त हैं लेकिन इस बार उन्होंने अभिनय के तहत बहुत निराश किया है यहां तक उनकी भूमिका में एक ट्वीस्ट भी दिया गया, लेकिन वे उसका भी फायदा नहीं उठा पाये ।लाॅरन गाॅटलिब इससे पहले एबीसीडी में अपनी डांस प्रतिभा से परिचित करवा चुकी हैं । इसके अलावा उन्हें वैलकम टू कराची में नायिका बनने का मौंका मिला लेकिन फिल्म की असफलता के चलते उन्हें कोई फायदा नहीं मिल पाया । इस फिल्म में वे बहुत ही विश्वसनीय तरीके से आती है और दर्शक को अपने डांस से मंत्रमुग्ध कर चली जाती है । कपिल शर्मा का अपने शो के साथ एक छोटा सा लेकिन कैमियो है जो जरा भी इंप्रैस नहीं कर पाता । टिस्का चोपड़ा तथा मुरली शर्मा जैसे अदाकारों को भी जाया किया गया है ।

ABCD2-10

संगीत
सचिन जिगर द्वारा कंपोज किये गये तकरीबन सारे डांस बेस्ड गाने हैं जो कंपटीशन के दौरान अच्छे लगते है लेकिन लाॅरेन श्रद्धा तथा वरूण को लेकर अचानक कंपटीशन के बीच में डाला गया रोमांटिक गाना डिस्टर्ब करता है ।

क्यों देखें
बेसिकली फिल्म यूथ के लिये है । जो इस तरह के डांस और डांस ग्रुप्स के दीवाने हैं । वैसे बिना कहानी की इस फिल्म को मैच्यौर दर्शक अद्भुत वेस्ट्रन डांस देखना चाहते हैं तो वे भी शौक से ये फिल्म देख सकते हैं ।


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये