जीजा-साले की फिल्म “Antim: the final truth” फैसला दर्शकों की अदालत में

1 min


  • शरद राय

बॉलीवुड स्टाइल की फिल्में सिनेमा घरों में जाकर देखने वाले दर्शकों के लिए कोरोना बंदी के बाद फिर एक मौका मिला है। इसबार बॉलीवुड  मसाला और सलमानी- अंदाज़ का मिक्स डोज है- “अंतिम:द फाइनल ट्रुथ” (Antim: the final truth)। सलमा खान (salman khan) द्वारा निर्मित और सलमान खान फिल्म्स द्वारा प्रस्तुत इस फिल्म का निर्देशन किया है महेश मांजरेकर ने। फिल्म में जीजा-साले

(Ayush Sharma- Salman Khan) आमने सामने हैं।

राहुल (आयुष शर्मा) एक बेरोजगार युवक है।सपने देखता है पुणे शहर में बड़ा आदमी बनने का।उसके गरीब पिता सत्या (सचिन खेडेकर) की जब पिटाई गुंडे करते हैं जो भू- माफियाओं के लोग हैं तो वह बाप को बचाने के लिए दौड़ पड़ता है। शहर में भू- माफियाओं का राज है। उनकी जमीन भी उन्ही लोगों ने हड़पा हुआ है। जमीन माफिया पोलटिकल संरक्षण में होते हैं। राहुल में यहीं से बदलाव आता है वह एक सीधे बेरोजगार युवक से कठोर गैंगस्टर में बदल जाता है। वह पुणे के बड़ी अप्रोच वाले नान्या भाई (उपेंद्र लिमये) के संपर्क में  गलत रास्ते पर चल पड़ता है और बड़े बदमाशों में अपनी स्थिति मजबूत बना लेता है। फिल्म की तारिका मंदा (महिमा मकवाना) उसकी लव इंटेरेस्ट होती है। पोलिस ऑफिसर राजवीर सिंह (सलमान खान) शहर की हर छोटी से बड़ी बदमाशियों पर पैनी नज़र रखता है। राउडी, रेपिस्ट, नेता, बिल्डर सभी मे राजवीर का ख़ौफ़ है। राजवीर की नज़र राहुल्या पर भी है… फिर शुरू होती है असल जिंदगी के जीजा-साले की रेस। निर्देशक महेश मांजरेकर सलमान खान के साथ उनकी एक्शन फिल्मों में अभिनय करते रहे हैं।वह बतौर निर्देशक संजय दत्त के साथ ‘वास्तव’ से चर्चा में आए थे। सलमान खान की पुलिसिया अंदाज़ वाली यह एक और फिल्म है जिसमे वह सरदारजी के गेटअप में हैं। आयुष शर्मा की यह दूसरी फिल्म है।इसबार वह अभिनय और पर्सनाल्टी दोनो में उभरकर सामने आए हैं।फिल्म की फोटोग्राफी कमल की है।गीत संगीत में खिंचाव नही है। फिल्म के एक गाने में वरुण धवन भी अतिथि भूमिका में हैं।

मराठी भाषा में बनी प्रवीण तरडे की सफल फिल्म ‘मुलशी पैटर्न’ की इस एडॉप्टेड हिंदी फिल्म “अंतिम: द फाइनल ट्रुथ” को ज़ी स्टूडियोज ने रिलीज किया है। सलमान खान और मसाला फिल्मों के दर्शक इसे पसंद करेंगे।

SHARE

Mayapuri