ब्रेकिंग न्यूज: चेतावनी के साथ FWICE ने गौहर खान पर लगा असहयोग वापस लिया

1 min


फेडरेशन ऑफ वेस्टर्न इंडिया सिने एप्लायज (एफडब्लूआईसीई) ने अभिनेत्री गौहर खान पर दो महीने तक शूटिंग करने पर असहयोग की घोषणा कर दिया था। अब 1 अप्रैल से उन्हे अपनी वेब सिरीज की शूटिंग फिर से शुरू करने की अनुमति दी गई है। अभिनेत्री ने कथित तौर पर कोविड-19 पॉजिटिव का परीक्षण रिर्पोट आनेके बाद भी शूटिंग करके कोविड-19 प्रोटोकॉल की धज्जियां उड़ा दी थीं। गौहर खान को एफडब्ल्यूआईसीआई का हालिया पत्र कथित तौर पर इसके गंभीर परिणामों की चेतावनी देता है।

एफडब्लूआईसीई ने एक पत्र जारी कर साफ कहा है कि यदि भविष्य में इस तरह की और घटना की सूचना हमें मिलती है और यह साबित हो जायेगा कि ‘आप ने फिर से लापरवाही की हैतोहम प्रतिबंध को फिर से स्थापित करेंगे और इसे लंबे समय तक नहीं उठाएंगे। कृपया जीवन को महत्व दें और दूसरों को खतरे में न डालें। इस पत्र को एफडब्लूआईसीई के प्रेसिडेंट-बीएन तिवारी, जनरल सेक्रेटरी – अशोक दूबे, चीफ एडवाईजर- शरद शेलार, अशोक पंडित तथा ट्रेजरार गंगेश्वरलाल श्रीवास्तव (संजू भाई) ने जारी किया है।

इससे पहले एक शो के निर्माता एफडब्ल्यूआईसीई से गुहार लगा रहे थे कि गौहर खान को राहत दिया जाए, फलस्वरूप उनके अन्य कलाकारों की शुटिंग तारीखें गड़बड़ हो जाएंगी और उन्हें बड़ा नुकसान होगा।गौहर खान

आपको बतादें कि कोरोना पॉजिटिव होने के बावजूद होम क्वारंटीन के नियमों को न मानने को लेकर मुम्बई के ओशिवरा पुलिस स्टेशन में अभिनेत्री गौहर खान के खिलाफ एफआईआर दर्ज किये जाने के बाद फेडरेशन आॅफ वेस्टर्न इंडिया सिने एम्प्लॉइज (एफडब्लूआईसीई) ने गौहर खान के इस लापरवाह रवैये से नाराज होकर उनके खिलाफ बड़ी कार्रवाई करते हुए दो महीने के लिए उनके साथ असहयोग की घोषणा करते हुए कहा था कि हमारेसदस्य उनके साथ काम नहीं करेंगे। एफडब्लूआईसीईने कहा कि कोरोना पॉजिटिव होने के बावजूद गौहर खान का इस तरह से होम क्वारंटीन के नियमों का उल्लंघन करना बेहद गैर-जिम्मेदाराना रवैया था।गौहर खान

फेडरेशन के पदाधिकारियों ने कहा, ऐसा करते हुए गौहर खान ये भूल गईं कि वे कितने लोगों की जिंदगी को खतरे में डाल रही हैं। होम क्वारंटीन के लिए बीएमसी ने उनके हाथ में स्टैम्प भी लगाया था और इसके बावजूद गौहर खान घर से बाहर निकलकर इधर-उधर घूम रहीं थीं और शूटिंग कर रही थीं। उनके इस बर्ताव को कतई सही नहीं ठहराया जा सकता हैइसी के चलते फेडरेशन ने उनके साथ दो महीने तक काम नहीं करने का निर्णय लिया था। आज की तारीख में कोरोना का शिकार होनेवाले बड़े से बड़े सितारे भी कोरोना के नियमों का पालन कर रहे हैं और ऐसे में गौहर को भी इस नियमों की अनदेखी करने‌ से बचना चाहिए था। फेडरेशन ऑफ वेस्टर्न इंडिया सिने एम्प्लॉइज (एफडब्लूआईसीई) ३२ यूनियनों की मदर बॉडी है जिसके पांच लाख से ज्यादा सदस्य हैं


Mayapuri