‘चाइल्ड ट्रैफिकिंग’ पर बनी ‘लव सोनिया’ के 50 सीन पर चली कैंची

1 min


‘चाइल्ड ट्रैफिकिंग’ दुनिया का एक सबसे बड़ा सच है। जो हमारे देश में भी फैला हुआ है। इस पर पहले भी काफी फिल्में बनाई गयी हैं। अब फिर एक और फिल्म ‘लव सोनिया’ जो इस सबजेक्ट पर बनाई जा रही है जिसको बनाने की आज से 12 साल पहले शुरुआत हुई थी। फिल्म की कहानी बच्चों की तस्करी और यौन शोषण जैसे मुद्दो पर आधारित है।

फिल्म के 45 सीन पर चली कैंची

इस फिल्म में सेंसर बोर्ड ने कई हिस्सों पर आपत्ति जताई ‘A’  सर्टिफिकेट देने के लिए 45 से भी ज्यादा कट लगाए गए। CBFC ने यौन शोषण के कई सीन्स और फिल्म मे सभी इंग्लिश और हिंदी में मौजूद अपशब्द और गालियो को हटाने का आदेश दिया है। फिल्म की अहम भूमिका मे मनोज वाजपेयी, रिचा चड्डा, मृणाल ठाकुर, राजकुमार राव और फ्रीडा पिंटो नजर आएगे।

सेंसर बोर्ड से डायरेक्टर नाराज

इस फिल्म के डायरेक्टर तबरेज़ नूरानी सेंसर बोर्ड के रवैये से काफी निराश हैं। उनका कहना है कि इस फिल्म के लिए उन्होंने काफी मेहनत की, इसके लिए उन्होने काफी रिसर्च की है। रेड लाइट एरिया पर गए, NGO से मदद मांगी और कई लड़कियों को गंदगी से निकाला। तबरेज़ का कहना है कि मानव तस्करी के मामले पर सिनेमा में न्याय नहीं किया जाता

 

 


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये