वरिष्ठ बॉलीवुड कलाकार चंद्रशेखर आज सुबह 7 बजे हमें छोड़कर चले गए

1 min


सोशल एक्टिविस्ट और महान लीजेंड कलाकार चंद्रशेखर ने आज बुद्धवार 16 जून 2021 की सुबह अपनी आँखें हमेशा के लिए बंद कर लीं और अंतहीन सफ़र पर निकल गए. चंद्रशेखर सन साठ व सत्तर में कई हिट फिल्में देने के लिए मशहूर थे. उनकी फिल्म च-च-च सन 1964 में आई थी और काली टोपी लाल रुमाल सन 1959 में आई थी. इस फिल्म का गाना “लागी छूटे न” ख़ासा मशहूर हुआ था. इस फिल्म में चंद्रशेखर ख़ुद हीरो थे और ये फिल्म भी बहुत पसंद की गयी थी. पिछले कुछ समय से चंद्रशेखर जी की तबियत ठीक नहीं थी. उनका जन्म 7 जुलाई 1923 में हुआ था.

मायापुरी ग्रुप की ओर से स्वर्गीय चंद्रशेखर जी को भावभीनी श्रद्धांजलि

लागी छूटे ना अब तो सनम

चाहे जाए जिया तेरी क़सम

लागी छूटे ना …

 

तुझको पुकारे बन के दीवाना ना माने रे जिया -२

ओ जी हो

प्यार किया तो करके निभाना सुनो जी रसिया

ओ प्यार किया तो प्यार किया तेरी क़सम

लागी छूटे ना …

 

दूर हूँ फिर भी दिल के क़रीब निशाना है तेरा -२

सोच ले फिर से एक गरीब दीवाना है तेरा -२

सोच लिया जी सोच लिया तेरी क़सम

लागी छूटे ना …

 

जब से लड़ी है तुझसे निग़ाहें तड़प रहा दिल -२

देख के चलना प्यार की राह बड़ी है मुश्किल

देख लिया जी देख लिया तेरी क़सम

लागी छूटे ना …

 

फ़िल्म – काली टोपी लाल रुमाल

संगीतकार – चित्रगुप्त

गायक – मोहम्मद रफी और लता मंगेशकर

गीतकार – मजरूह सुलतानपुरी

 


Like it? Share with your friends!

Pragati Raj

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये