कोलगेट के निःशुल्क दंत शिविरों से लाभान्वित हुए मुंबई के टैक्सी ड्राइवर

1 min


कोलगेट और इंडियन डेंटल एसोसिएशन (आईडीए) ने 14वें मुख स्वास्थ्य माह (ओरल हेल्थ मंथ- ओएचएम) के तहत जीवीके छत्रपति शिवाजी अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे पर टैक्सी चालकों को दांतों की मुफ्त जांच और उपचार की सुविधा प्रदान की।

ओरल केयर से संबंधित बाजार में अग्रणी कोलगेट-पामोलिव (इंडिया) लिमिटेड ने इंडियन डेंटल एसोसिएशन (आईडीए) के साथ साझेदारी की है। इसके तहत 30 और 31 जनवरी को मुंबई के टैक्सी चालकों के लिए मुंबई अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे पर दो दिवसीय दंत शिविर का आयोजन किया गया।

शिविर में आईडीए के दंत चिकित्सकों ने शहर के टैक्सी चालकों को दांतों की मुफ्त जांच और परामर्श के साथ ही उपचार भी उपलब्ध कराया। उन्होंने टैक्सी चालकों को मुंह की देखभाल और उससे जुड़ी गड़बड़ियां रोकने के उपायों और संपूर्ण खुशहाली में मुखीय स्वास्थ्य के महत्व के बारे में भी बताया।

शिविर को लेकर टैक्सी चालकों की कुछ प्रतिक्रियाएं इस प्रकार हैं-

“मुझे दांतों में काफी तकलीफ रहती थी, पर मैं कभी डॉक्टर के पास नहीं गया। आज कोलगेट की वजह से IDA डेंटिस्ट से मुफ्त सलाह मिली| बहुत-बहुत धन्यवाद।” यह कहना था मूल रूप से सायन इलाके में टैक्सी चलाने वाले मोहम्मद वकील का।

अंधेरी के टैक्सी चालक सुरेश यादव ने कहा, “मैं खुश हूं कि कोलगेट ने मुझे और बाकी टैक्सी ड्राइवरों को मुफ्त में दांतों की जांच करवाने का मौका दिया, वो भी एयरपोर्ट पर जो हमारे लिए एक सहूलियत रही ।”

एक हालिया रिपोर्ट में पता चला है कि गाड़ी चलाते समय खुद को जगाए रखने और चैकन्ना रहने के लिए कई टैक्सी चालक विभिन्न रूपों में तंबाकू का सेवन करते हैं। तंबाकू सेवन के चलते 35% चालकों में मुंह के कैंसर के शुरुआती लक्षण मिले। सर्वे में शामिल 400 ड्राइवरों में से 64% तंबाकू और उसके उत्पादों जैसे- खैनी और पान मसाला का सेवन कर रहे थे। (स्रोतः टाटा मेमोरियल अस्पताल, मुंबई के जीए मिश्रा और साथियों द्वारा किया गया शोध अध्ययन)

इसे देखते हुए कोलगेट और आईडीए ने साथ मिलकर मुंबई में टैक्सी चालकों के लिए एक विशेष दंत चिकित्सा शिविर का आयोजन किया और उन्हें दांतों की मुफ्त जांच के साथ स्केलिंग व पॉलीशिंग जैसे दंत उपचार भी मुहैया कराए।

इस विशेष शिविर के बारे में बोलते हुए कोलगेट-पामोलिव (इंडिया) लिमिटेड के प्रबंध निदेशक इसाम बचालानी ने कहा, “हमें यह बताते हुए बेहद खुशी हो रही है कि दंत जांच शिविरों को लेकर हमें टैक्सी चालकों का जबरदस्त प्रतिसाद मिला है। यह हमारे लिए बड़ी प्रसन्नता की बात है कि हम उन तक पहुंच सके और अपने सालाना मुखीय स्वास्थ्य माह कार्यक्रम का विस्तार करते हुए इस साल इसे इसके शिखर तक पहुंचा सके। मैं जीवीके को धन्यवाद देना चाहूंगा, जिसने टैक्सी ड्राइवर समुदाय के लिए कुछ करने में हमारी सहायता की और समर्थन दिया।”

इंडियन डेंटल एसोसिएशन के माननीय महासचिव डॉ. अशोक धोबले ने कहा, “मुख स्वास्थ्य माह भारत में दांतों और मुंह की देखभाल के सबसे बड़े अभियानों में से एक है, जिसमें देश के मुंह के स्वास्थ्य को बेहतर बनाने के अपने समान उद्देश्य को आगे बढ़ाने के लिए कोलगेट और आईडीए एक साथ आए हैं। वर्ष 2004 में अपनी शुरुआत के बाद से ओएचएम पहुंच और पैमाने के मामले में बहुत तेजी से बढ़ा है और आज तक दांतों की 3 करोड़ से ज्यादा निःशुल्क जांचों की सुविधा दे चुका है। वर्तमान ओएचएम कार्यक्रम के एक हिस्से के रूप में, भारत भर में 35,000 आईडीए दंत चिकित्सक लोगों के दांतों की मुफ्त जांच करेंगे और इस दौरान उन्हें दांतों और मुंह की देखभाल से संबंधित अच्छी आदतों के बारे में बताएंगे।”

इस पहल के बारे में बोलते हुए जीवीके के प्रवक्ता ने कहा, “जीवीके में, हम समाज के प्रति अपनी प्रतिबद्धता को बहुत गंभीरता से लेते हैं और समाज को वापस देने की संस्कृति हमारी कंपनी के मूल स्वभाव के हिस्से के रूप में गहराई से समाई हुई है। इसलिए, जीवीके ने हवाई अड्डे में यात्रियों को लाने-ले जाने का काम करने वाले टैक्सी ड्राइवरों के लिए कोलगेट और आईडीए के सहयोग से विशेष दंत चिकित्सा शिविर के आयोजन की जरूरत महसूस की और उन्हें मुफ्त दंत उपचार भी मुहैया कराया।”


➡ मायापुरी की लेटेस्ट ख़बरों को इंग्लिश में पढ़ने के लिए  www.bollyy.com पर क्लिक करें.
➡ अगर आप विडियो देखना ज्यादा पसंद करते हैं तो आप हमारे यूट्यूब चैनल Mayapuri Cut पर जा सकते हैं.
➡ आप हमसे जुड़ने के लिए हमारे पेज Facebook, Twitter और Instagram पर जा सकते हैं.

SHARE

Mayapuri