भारतीय नववर्ष की शुरुआत ‘गुड़ी पाडवा’  

1 min


Gudi-padwa.gif?fit=650%2C450&ssl=1

हिंदुओं के नववर्ष की वास्तविक शुरुआत चैत्र माह से होती है और इस नई शुरुआत को गुड़ी पाडवा के रुप में पूरे भारत वर्ष में मनाया जाता है। पौराणिक रुप से ‘गुड़ी पाडवा’ का एक अलग ही महत्व है चैत्र मास के पहले दिन मनाए जाने वाले इस त्यौहार का सही अर्थ प्राकृतिक रूप से समझा जाए तो सूर्य ही सृष्टि के पालनहार हैं। सूर्य के तेज को सहने की क्षमता हम पृथ्वीवासियों में उत्पन्न हो ऐसी कामना के साथ सूर्य की पूजा अर्चना की जाती है।

इस दिन बांस में नई साड़ी पहना कर उस पर तांबे या पीतल के लोटे को रखकर गुड़ी बनाई जाती है और उसकी पूजा की जाती है। गुड़ी को घरों के बाहर लगाकर सुख संपन्नता की कामना की जाती है, घर घर में विजय के प्रतीक स्वरूप गुड़ी सजाई जाती है। इस दिन सूर्य, नीम की पत्तियां, अर्घ्य, पूरनपोली, श्रीखंड और ध्वजा पूजन का विशेष महत्व होता है। सूर्योपासना के साथ आरोग्य, समृद्धि और पवित्र आचरण की कामना की जाती है। उसे नवीन वस्त्राभूषण पहनाकर शक्कर से बनी आकृतियों की माला पहनाई जाती है। पूरनपोली और श्रीखंड का नैवेद्य चढ़ा कर नवदुर्गा, श्रीरामचन्द्र जी एवं राम भक्त हनुमान की विशेष आराधना की जाती है। इस दिन सुंदरकांड, रामरक्षास्रोत और देवी भगवती के मंत्र जाप का खास महत्व है। हमारी भारतीय संस्कृति ने अपने आंचल में त्योहारों के इतने दमकते रत्न सहेजे हुए हैं कि हम उनमें निहित गुणों का मूल्यांकन करने में भी सक्षम नहीं हैं।

कलर्स मराठी ने भी अपनी दर्शकों को गुड़ी पाडवा की हार्दिक शुभकामनाएं दी है कलर्स मराठी के दर्शकों की संख्या 32 मीलियन तक पहुंचती है चैनल पर इस साल दर्शकों की संख्या में 2.4 गुना तक की हिस्सेदारी हो गई हैं। वीकेंड पर चैनल आईएमएफएफए फिल्म फेयर अवॉर्ड्स, मनाचा मुजरा और ब्लॉकबस्टर मूवीज जैसी दिखाना पसंद करता है। पहले शोज जो थ्री टाइम स्लॉट्स में दिखाए जाते हैं उनमें असा सासर सुरेख बाई(8pm), गणपति बप्पा मोरया (8:30) और कमला (9:00) pm

इस त्यौहार को बड़ी ही धूमधाम से हर साल मनाती है टी.वी एक्ट्रेस – सोनालिका जोशी। तारक मेहता का उल्टा चश्मा में मिसेज माधवी का किरदार निभाने वाली अभिनेत्री सोनालिका जोशी त्यौहार के बारे में कहती हैं कि जिस तरह से पुरे मन से शो में महाराष्ट्रीयन पर्व गुड़ी पड़वा मनाती है उसी प्रकार निजी जीवन में भी वे यह पर्व अपने घर में अपने परिवार के साथ मनाती है। इस दिन वो सुबह जल्दी उठकर घर को फूलों से सजाती है रंगोली बनाती  है और कुछ मीठा बनाती है। सोनालिका जोशी कहती हैं कि “गुड़ी पाडवा” महाराष्ट्रीयन के लिए नया साल होता है। गुड़ी पाडवा का दिन मुहूर्त के हिसाब से भी सबसे उत्तम दिन होता है, इस दिन हमेशा कुछ न कुछ नई चीज़ ख़रीदी जाती है। हर साल सुबह उठकर डंडे में लोटा और साड़ी से मैं गुड़ा बनाती हूं, उनको हार फूल चढ़ाती हूँ। हर साल इस दिन कुछ न कुछ नया खरीदती हूं। एक साल गुड़ी पाडवा के दिन मैंने कार खरीदी थी, इस साल भी कुछ न कुछ जरूर खरीदूंगी।

Sonalika Joshi
Sonalika Joshi

ये त्यौहार अपने आप में बेहद खास है और इसका भी एक अपने आप में विशेष महत्व है कहा जाता है कि ब्रह्मा ने सृष्टि का  आपको भी मायापुरी टीम की तरफ से गुड़ी पाडवा की हार्दिक शुभकामनाएं।

 

 

 

 

 

 

 


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये