ब्रिटिश सिंगर डेमी वेरा लिन का 103 साल की उम्र में निधन, सेकेंड वर्ल्ड वॉर के दौरान अपनी गायकी से बढ़ाया था सैनिकों का हौसला

1 min


Vera Lynn

फोर्सेस स्वीटहार्ट के नाम से मशहूर थीं सिंगर डेमी वेरा लिन

ब्रिटिश सिंगर डेमी वेरा लिन का निधन हो गया है। वो 103 साल की थीं। जब उन्होंने आखिरी सांस ली तब उनके पास केवल उनके परिजन थे। इनके निधन के बाद केवल ब्रिटेन में ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया में उन्हें याद किया जा रहा है।

क्यों बुलाते थे फोर्सेस स्वीटहार्ट ?

Vera Lynn

विश्व जब सेकंड वर्ल्ड वॉर का सामना कर रहा था तब इस मशहूर गायिका डेमी वेरा लिन ने विदेशों में फंसे हुए ब्रिटिश सैनिकों का हौसला बढ़ाया था। यहीं कारण है कि ब्रिटिश सैनिक उन्हें फोर्सेस स्वीटहार्ट के नाम से ही पुकारते थे। इस युद्ध के दौरान उन्होंने सैनिकों के लिए काफी शो किए। और ये शो मिस्र और बर्मा के साथ साथ भारत में भी हुए थे। खास बात ये थी कि पर्सनल रिस्क पर ये शो आयोजित किए गए थे। शो के अलावा उन्होने इस दौरान एक फेमस रेडियो शो को भी होस्ट किया था, जिसका नाम था – सिंसयरली योर्स। जिसके जरिए वो विदेशों में मौजूद ब्रिटिश सैनिकों को संदेश भेजती थीं और उनके फरमाईशी गानों को रेडियो पर सुनाया जाता था। रविवार की रात आधे घंटे तक ये शो प्रसारित किया जाता था।

पिता प्लम्बर, मां थीं ड्रेस मेकर

डेमी वेरा लिन का जन्म 20 मार्च, 1917 को ब्लू कॉलर ईस्ट हैम में हुआ। इनकी मां ड्रेस मेकर थीं तो उनके पिता प्लम्बर थे। जब वो केवल 7 साल की थीं तब उन्होने सोशल क्लबों में गाना शुरू कर दिया था। 11 साल की उम्र में उन्होने स्कूल जाना शुरू किया। 17 की उम्र तक वो एक मशहूर सिंगर के रूप में स्थापित हो चुकी थीं। 21 साल की उम्र तक आते आते उन्हें हर कोई जानने लगा था।

ब्रिटेन के पीएम ने भी किया ट्वीट

सिंगर डेमी वेरा लिन के निधन पर ब्रिटेन के प्रधानमंत्री ने भी शोक जताया है। उन्होने ट्वीट लिखा –

‘वेरा लिन की आकर्षक जादुई आवाज ने हमारे देश के अंधेरे समय का उत्थान किया है। आने वाली पीढ़ियों के दिलों में उनकी आवाज हमेशा जीवित रहेगी।’

और पढ़ेंः कुछ तो था खास जो देश ही नहीं बल्कि विदेश में भी दिया जा रहा है सुशांत सिंह को ट्रिब्यूट, अब इंडोनेशिया में ऐसे दी गई श्रद्धांजलि


Like it? Share with your friends!

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये