मौत एक फिल्म के तकनीशियन की!

0 127

(निमिष पिलंकर की मौत ने छोड़े कई सवाल)

बॉलीवुड में फिर एक तकनीशियन की मौत हुई है। 29 साल की उम्र में साउंड इंजीनियर निमिष पिलंकर की मौत ब्रेन-हैमरेज से हुई है। निमिष की हालिया-रिलीज फिल्म ‘हाउसफुल 4’ रही है। जाहिर है प्रचार टीम के लिए यह एक सदमा दायक खबर रही है। फिल्म के हीरो अक्षय कुमार ने इस तकनीशियन के लिए शोक प्रकट किया है, इसकी वजह से बहुत से लोग आगे आए हैं, और अपनी संवेदना के साथ बॉलीवुड के काम करने के रवैये पर ढेरों सवाल भी खड़े कर दिये हैं। पर्दे के पीछे रहकर, दिन रात एक करके जो तकनीशियन फिल्म को दर्शकों तक लाते हैं… उनकी जिन्दगी कितनी तनावपूर्ण व लाचार रहती है।

निमिष पिलंकर ने करियर की शुरूआत की थी सलमान खान अभिनीत फिल्म ‘रेस 3’ से। ‘हाउसफुल 4’ उनकी आखिरी फिल्म हो गयी। इसके पहले ‘मरजावां’, ‘केसरी’, ‘जलेबी’, र्मम5 की वेब सीरीज ‘भ्रम’ जैसी फिल्में भी उन्होंने की थी। बताते हैं निमिष पर काम का तनाव बहुत रहता था और इसी तनाव ने उनको हार्ट अटैक के साथ ब्रेन हैमरेज दे दिया निमिष अब दुनिया छोड़ चुके हैं किन्तु वह अपने पीछे कई सवाल छोड़ गये हैं। फिल्म क्रिटिक-निर्माता खालिद मोहम्मद ने इस मौत के लिंए बॉलीवुड को जिम्मेदार ठहराया है। खालिद की पोस्ट को रिट्वीट किया, ऑस्कर विजेता रेसुल पूक्कुटी ने-‘शॉकिंग!’ पर्दे के पीछे के तकनीशियनों के कितने सैक्रेफाइस के बाद फिल्म बनती है’। कई बार इन तकनीशियनों को उनके पेमेन्ट तक नहीं दिए जाते। अगर दिये भी जाते हैं, तो तोड़-तोड़ कर। एक अभाव भरी जिन्दगी जीतें हैं वे और उनकी मेहनत को लोग जान भी नहीं पाते। साउंड रिकॉर्डिस्ट, फोलेआर्टिस्ट (साउंड इफेक्ट देने वाले), कैमरा-विभाग, एडिटिंग-विभाग, नृत्य-विभाग, यहां तक की स्पॉटब्वॉय तक जी जान लगा देते हैं, एक फिल्म बनने में। इंडस्टी्र में तकनीशियनों की दो दर्जन यूनियनें हैं मगर इनके लिए कोई आवाज नहीं उठाता। निमिष की मौत पर अक्षय कुमार और रकुलप्रीत सिंह ने संवेदना जताई है (शायद ‘हाउसफुल 4’ के प्रचार के दौरान यह दुर्घटना घटी इसलिए) और उनको देखकर अब फिल्म इंडस्ट्री से तमाम लोगों ने आवाज उठानी शुरू की हैं। सचमुच बॉलीवुड के तकनीशियनों की मौत-एक वर्क प्रेशर की वजह के रूप में देखी जा सकती है, किन्तु क्या इसके लिए कोई कानूनी व्यवस्था है! है तो कितनी लागू की जाती है। सरकार ने फिल्म इंडस्टी्र को अभी तक उद्योग का दर्जा नहीं दिया है। सभी प्रकार के टैक्स इंकम टैक्स, जी एस टी, एंटरटेनमेंट और भी कई प्रकार के टैक्स तो सरकार को मिल जाते हैं लेकिन काम करने वालों के लिए कोई सुरक्षा नहीं है ? यह एक विचारणीय सवाल है जो निमिष पिलंकर अपने पीछे छोड़ गये हैं।

➡ मायापुरी की लेटेस्ट ख़बरों को इंग्लिश में पढ़ने के लिए www.bollyy.com पर क्लिक करें.
➡ अगर आप विडियो देखना ज्यादा पसंद करते हैं तो आप हमारे यूट्यूब चैनल Mayapuri Cut पर जा सकते हैं.
➡ आप हमसे जुड़ने के लिए हमारे पेज FacebookTwitter और Instagram पर जा सकते हैं.

Advertisement

Advertisement

Leave a Reply