दीपा मेहता की ‘रंग रसिया’ चित्रक ‘राजा रवि वर्मा’ के जीवन पर आधारित है

1 min


0

deepa 02 सिनेमा से प्यार करने वाली खूबसूरत और बहुत ही नम्र स्वभाव की दीपा साही के जीवन का वर्णन करना मुश्किल है. सिनेमा के लिए प्यार ही उन्हें नेशनल स्कूल ऑफ़ ड्रामा तक खीच लाई और फिर उन्होंने मुंबई का रुख किया, जहाँ उनकी मुलाकात मशहूर डायरेक्टर केतन मेहता से हुई. दीपा ने केतन के साथ उनकी फिल्म ‘माया मेमसाब’ में काम करना शुरू किया और फिल्मों को लेकर उत्साह उन्हें एक दूसरे के करीब ले आई और शादी के बंधन में बंध गए.

पिछले कई सालों में, दीपा और केतन मेहता ने निर्माता और निर्देशक के तौर ‘माया मूवीटोन’ के बैनर तले कई फिल्मों का निर्माण किया. उनकी आखरी फिल्म ‘मंगल पाण्डेय- द राइजिंग’ थी, जिसे फिल्म समीक्षकों ने जमकर तारीफ की और ऑडियंस को भी खूब पसंद आई. इस बार वह 19वीं सदी के एक बहादुर पेंटर ‘राजा रवि वर्मा’ के जीवन पर आधारित फिल्म ‘रंग रसिया’ के साथ आ रहे है. केतन मेहता, उस महान चित्रकार पर फिल्म बना रहे है जिसका जन्म केरला में हुआ, जिसने आगे चलकर पेंटिंग में खुद की शैली और चित्रकला के दायरे को एक बड़े पैमाने लाने में बड़ा योगदान दिया और यहां तक ​​कि वह अपने पूरे जीवन के दौरान कला के गुरु के रूप में जाने जाते रहे. उनका सबसे बड़ा योगदान केवल कल्पना, खजुराओ, बनारस, अजंता और अन्य मंदिरों में मूर्तियों में देखा जा सकता है. वर्मा ने देवी देवताओं को अपनी कला से एक चेहरा दिया और जिससे भक्तों को अपने लाखों देवी देवताओं के चित्र के समक्ष प्रार्थना करने में मदद मिली. उन्हें महिलाओं के ड्रेसिंग साड़ी के रूप में खोज करने वाले चित्रकार के लिए भी जाना जाता है. ‘रंग रसिया’ उस समय की भव्यता और चित्रों के सभी पहलूओं को स्क्रीन पर दिखाएगी जो चित्रकला का प्रतीक है.

कुछ साल पहले, मेहता के घर पर दिवाली के मौके पर लक्ष्मी पूजन किया जा रहा था, तभी दीपा मेहता का ध्यान देवी लक्ष्मी की सुन्दर मूर्ति पर गया और उनके मन में ‘कला के मास्टर’ को सिनेमा के द्वारा लोगों तक पहुचाने का विचार आया और उन्होंने इससे केतन मेहता के साथ शेयर किया. फिर दोनों ने इस पर फिल्म बनाने का निर्णय लिया और अब ‘रंग रसिया’ के रूप में यह जल्द सिनेमाघरों में पेश किया जायेगा.

deepa 03

केतन मेहता ने जब इस विषय पर काम करना शुरू किया और काफी रिसर्च करने के बाद उन्हें रंजीत देसाई की मराठी नॉवेल मिली जिसमे ‘मास्टर’ की बायोग्राफी थी. फिर उन्होंने अपने लेखक संजीव दत्त के साथ स्क्रिप्ट पर काम करना शुरू किया. इस फिल्म में में ‘मास्टर’ के बारे में बड़ी ही इमानदारी से उनके चरित्र और कला का वर्णन करना था. इस फिल्म को बनाने के लिए सबसे बड़ी चुनौती थी, इस फिल्म के लीड रोल को करने के लिए एक परफेक्ट एक्टर. दीप के ध्यान में रणदीप हूडा का नाम आया, उन्होंने रणदीप की कुछ फ़िल्में देखी थी और फिर केतन मेहता ने भी रणदीप की फिल्मों की डीवीडी देखी और 5 मिनट में फैसला किया कि रणदीप ‘मास्टर’ का रोल बखूबी निभा सकते है.

‘मास्टर’ के जीवन में चार महिलाओं का बहुत बड़ा योगदान था, एक उनकी बीवी, दूसरी नौकरानी और दो अन्य जो उनके जीवन में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी. फिल्म में नंदना सेन, तृप्ता पराशर एहम भूमिका में है, इसके अलावा गौरव द्वेदी, परेशा रावल दर्शन जरीवाला भी एहम किरदार में नज़र आएंगे.

deepa 04

दीप मेहता और केतन मेहता के लिए ‘रंग रसिया’ का सफ़र बहुत ही खास और दिलचस्प रहा है. उन्होंने इस फिल्म के द्वारा लोगों तक चित्रकला की बारीकियों को पहुचने की कोशिश की है जो एक अच्छे एंटरटेनमेंट के रूप में सामने आने को तैयार है. इस फिल्म में कई बोल्ड सीन्स को दिखाया गया है जिससे पहले सेंसर बोर्ड ने फिल्म में रखने से इनकार कर दिया था लेकिन स्क्रिप्ट की डिमांड के कारण सेंसर ने उसे पास किया.

‘रंग रसिया’ को ‘लंदन फिल्म फेस्टिवल’, ‘लंदन इंडियन फिल्म फेस्टिवल’, ‘श्री लंका फिल्म फेस्टिवल’ और ‘न्यू यॉर्क फिल्म फेस्टिवल’ में दिखाया जा चूका है और सभी को काफी पसंद भी आई. दीपा और केतन मेहता की इस कोशिश को लोगों ने खूब सराहा और उन्हें सम्मानित भी किया. ‘रंग रसिया’ 7 नवम्बर को दुनियाभर में रिलीज़ होगी.


Mayapuri