मैं अर्थपूर्ण फिल्मों पर ज्यादा ध्यान दूंगी – दीपिका

1 min


Vogue-Eyewear-Deepika-335

 

एचटी लीडरशिप समिट में कई फिल्मों में हल्के फुल्के किरदार की चर्चा पर अभिनेत्री दीपिका पादुकोण ने कहा कि मैं भविष्य में इस बात पर खास तौर पर ध्यान दूंगी कि मेरा किरदार अच्छा हो और फिल्में अर्थपूर्ण हों। दीपिका ने माना कि फिल्में युवाओं के व्यक्तित्व निर्माण में महत्वपूर्ण भूमिका अदा करती हैं।

दीपिका ने आगे कहा कि बॉलिवुड में प्रतिस्पर्धा न तो नकारात्मक बातों को लेकर है न ही एक दूसरे की टांग खिंचाई को लेकर हैं। यह खुद को बेहतर बनाने को लेकर है। यह खुद को बेहतर बनाने को लेकर हैं। यह अपनी ही गलतियों से सीखना हो सकता है।

दीपिका ने आगे कहा हमारी जिम्मेवारी सिर्फ लोगों का मनोरंजन करके ही खत्म नहीं हो जाती हैं। हमारा काम समाज को ज्यादा लालित्य प्रदान करना है। दीपिका कहती हैं, ऐसा बिल्कुल नही हैं कि भारतीय सिनेमा ने पुरुषों का बेहतर चित्रण नही किया है। ये हमारी समस्या है कि हम सिर्फ महिलाओं के बारे में ही बातें करना पसंद करते हैं। अभिनय की श्रेष्ठता कि बात पर दीपिका कहती हैं कि मुझे फिल्म इंडस्ट्री को अपना सबसे बेहतर देना है। अपने पिता और खिलाड़ी प्रकाश पादुकोण की चर्चा करते हुए दीपिका ने कहा, मैं नही सोचती कि मैं उनके बराबर उपलब्धि अर्जित कर पाउंगी।

मॉडल से अभिनेत्री बनीं दीपिका पादुकोण ने बॉलीवुड फिल्मों में 2007 में ओम शांति ओम से प्रवेश किया। उन्होंने कॉकटेल, चेन्नई एक्सप्रेस, गोलियों की रासलीला रामलीला जैसी फिल्मों में अभिनय किया हैं। दीपिका उन अभिनेत्रियों में हैं जिन्होंने बॉलीवुड में महिलाओं और पुरूष कलाकारों का समान पारिश्रमिक दिए जाने का मुद्दा उठाया है।

SHARE

Mayapuri